Monday, November 28, 2022

छत्तीसगढ़ म ‘कटघोरा’ से पता चलिस “हॉटस्पॉट” के नवा मतलब !!

बिलासपुर– ‘हॉटस्पॉट’ के मतलब अब तक एहि समझे जात रहिस.. जेकर से नेट चलाये जा सकथे.. लेकिन कटघोरा म 8 झन कोरोना मरीज मिले के बाद जब उंहा ल हॉटस्पॉट घोषित करे गिस, त लोगन ल एखर नवा मतलब समझ म आईस.. अब 7 झन अउ मरीज मिले हें.. लोगन मन पहिली हॉटस्पॉट सुन के ओती दउंड के जांय.. कटघोरा के हॉटस्पॉट बने के बाद उंहा सन्नाटा पसरे हे.. छत्तीसगढ़ के लोगन ल कटघोरा ले हॉटस्पॉट के नवा मतलब समझ आइस..

कटघोरा कैसे बना हॉटस्पॉट

महाराष्ट्र के कामठी के रहने वाले तब्लीगी जमात से जुड़े 16 लोग दो मार्च को कटघोरा के पुरानी बस्ती स्थित जामा मस्जिद पहुंचे थे। इन्हीं में से 16 वर्षीय किशोर चार अप्रैल को कोरोना पॉजिटिव पाया गया था। इसके बाद इनके संपर्क में आए आठ लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। जिसके सरकार ने कटघोरा को हॉट स्पॉट घोषित कर सील कर दिया, और कटघोरा के सभी लोगों की जांच के आदेश दिए।

शनिवार देर रात फिर सात नए कोरोना पॉजिटिव केस मिले। इससे पहले यहां नौ केस मिल चुके थे। अकेले कटघोरा में संक्रमितों की संख्या 16 हो गई है जो राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या की करीब दो तिहाई है। इन नए मामलों को मिलाकर राज्य में कोरोना संक्रमित केस की संख्या बढ़कर 25 हो गई है।

कोरबा में हाई अलर्ट

कोरोना को लेकर कटघोरा के हॉट स्पॉट बनने के बाद प्रशासन ने बड़े पैमाने पर संक्रमित होने की आशंका से संदेहियों को होम क्वारंटाइन किया है। अब तक 4,284 लोगों को होम क्वारंटाइन किया जा चुका है। कटघोरा कनेक्शन के बाद 77 लोगों को कोरबा के विभिन्न् क्वारंटाइन सेंटरों में रखा गया है। कटघोरा में पिछले 72 घंटों से भी अधिक समय से कर्फ्यू जैसे हालात हैं। आवश्यक सामग्रियों की आपूर्ति होम डिलीवरी द्वारा की जा रही है।

बिलासपुर कलेक्टर ने एक माह के भीतर कटघोरा आये-गये लोगों से जानकारी देने कहा


जिला प्रशासन ने ऐसे सभी लोगों को स्वयं सामने आकर अपने बारे में जानकारी देने के लिए कहा है, जिन्होंने बीते एक माह के भीतर कटघोरा आना-जाना किया हो, अथवा वे लोग जो वहां के संक्रमित लोगों के सम्पर्क में आये हों।
कलेक्टर डॉ. संजय अलंग ने कहा है, कि समीपवर्ती कोरबा जिले के कटघोरा में कोरोना वायरस का संक्रमण पाया गया है, इसलिए बीते एक माह के भीतर कटघोरा आना जाना करने वाले सभी लोगों की जानकारी प्राप्त करना आवश्यक है। जिले के ऐसे व्यक्ति जो कटघोरा के संक्रमित व्यक्तियों के सम्पर्क में आये हों, वे भी अपनी जानकारी दें। यह उनके स्वयं, परिवार, मोहल्ले तथा जिले की कोरोना संक्रमण से सुरक्षित रखने के लिए आवश्यक है । जानकारी देने के लिए जिला कलेक्टोरेट में स्थापित कोरोना सहायता एवं नियंत्रण कक्ष के दूरभाष क्रमांक 07752 251000 तथा स्वास्थ्य विभाग के टोल फ्री नंबर 104 पर सम्पर्क किया जा सकता है।

GiONews Team
Editor In Chief

13 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

बिलासपुर– ‘हॉटस्पॉट’ के मतलब अब तक एहि समझे जात रहिस.. जेकर से नेट चलाये जा सकथे.. लेकिन कटघोरा म 8 झन कोरोना मरीज मिले के बाद जब उंहा ल हॉटस्पॉट घोषित करे गिस, त लोगन ल एखर नवा मतलब समझ म आईस.. अब 7 झन अउ मरीज मिले हें.. लोगन मन पहिली हॉटस्पॉट सुन के ओती दउंड के जांय.. कटघोरा के हॉटस्पॉट बने के बाद उंहा सन्नाटा पसरे हे.. छत्तीसगढ़ के लोगन ल कटघोरा ले हॉटस्पॉट के नवा मतलब समझ आइस..

कटघोरा कैसे बना हॉटस्पॉट

महाराष्ट्र के कामठी के रहने वाले तब्लीगी जमात से जुड़े 16 लोग दो मार्च को कटघोरा के पुरानी बस्ती स्थित जामा मस्जिद पहुंचे थे। इन्हीं में से 16 वर्षीय किशोर चार अप्रैल को कोरोना पॉजिटिव पाया गया था। इसके बाद इनके संपर्क में आए आठ लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। जिसके सरकार ने कटघोरा को हॉट स्पॉट घोषित कर सील कर दिया, और कटघोरा के सभी लोगों की जांच के आदेश दिए।

शनिवार देर रात फिर सात नए कोरोना पॉजिटिव केस मिले। इससे पहले यहां नौ केस मिल चुके थे। अकेले कटघोरा में संक्रमितों की संख्या 16 हो गई है जो राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या की करीब दो तिहाई है। इन नए मामलों को मिलाकर राज्य में कोरोना संक्रमित केस की संख्या बढ़कर 25 हो गई है।

कोरबा में हाई अलर्ट

कोरोना को लेकर कटघोरा के हॉट स्पॉट बनने के बाद प्रशासन ने बड़े पैमाने पर संक्रमित होने की आशंका से संदेहियों को होम क्वारंटाइन किया है। अब तक 4,284 लोगों को होम क्वारंटाइन किया जा चुका है। कटघोरा कनेक्शन के बाद 77 लोगों को कोरबा के विभिन्न् क्वारंटाइन सेंटरों में रखा गया है। कटघोरा में पिछले 72 घंटों से भी अधिक समय से कर्फ्यू जैसे हालात हैं। आवश्यक सामग्रियों की आपूर्ति होम डिलीवरी द्वारा की जा रही है।

बिलासपुर कलेक्टर ने एक माह के भीतर कटघोरा आये-गये लोगों से जानकारी देने कहा


जिला प्रशासन ने ऐसे सभी लोगों को स्वयं सामने आकर अपने बारे में जानकारी देने के लिए कहा है, जिन्होंने बीते एक माह के भीतर कटघोरा आना-जाना किया हो, अथवा वे लोग जो वहां के संक्रमित लोगों के सम्पर्क में आये हों।
कलेक्टर डॉ. संजय अलंग ने कहा है, कि समीपवर्ती कोरबा जिले के कटघोरा में कोरोना वायरस का संक्रमण पाया गया है, इसलिए बीते एक माह के भीतर कटघोरा आना जाना करने वाले सभी लोगों की जानकारी प्राप्त करना आवश्यक है। जिले के ऐसे व्यक्ति जो कटघोरा के संक्रमित व्यक्तियों के सम्पर्क में आये हों, वे भी अपनी जानकारी दें। यह उनके स्वयं, परिवार, मोहल्ले तथा जिले की कोरोना संक्रमण से सुरक्षित रखने के लिए आवश्यक है । जानकारी देने के लिए जिला कलेक्टोरेट में स्थापित कोरोना सहायता एवं नियंत्रण कक्ष के दूरभाष क्रमांक 07752 251000 तथा स्वास्थ्य विभाग के टोल फ्री नंबर 104 पर सम्पर्क किया जा सकता है।