Saturday, December 3, 2022

कलश यात्रा के साथ सेमरताल में शुरू हुआ नवधा रामायण

बिलासपुर– सेमरताल में अटल समरसता भवन के पास लगातार चौथे वर्ष अखंड नवधा रामायण का प्रारंभ हुआ।इससे पहले गाँव की बहनों ने मंगल कलश यात्रा निकालकर इस महानुष्ठान का शुरुआत किया। वसंत पंचमी के पवित्र दिन पर रामकथा के आयोजन से ग्रामीणों में अच्छा उत्साह है। कलश यात्रा का अभिनंदन नवधा समिति के अध्यक्ष कामता धीवर, वरिष्ठ सदस्य सीताराम पान्डेय, द्वासी धीवर, लक्ष्मण साहू, पवन धीवर, मनीष कौशिक, सतीश धीवर , साकेत कौशिक , अनिल वर्मा द्वारा किया गया।कुल पाँच हजार वर्ग फिट क्षेत्र में आयोजित इस कार्यक्रम में दूर दूर से सधे हुए कलाकारो को आमंत्रण दिया गया है। सुबह शाम नित्य महाआरती में भक्तों की श्रद्धा अनुकरणीय है। आयोजन समिति में लक्ष्मी नारायण बैंगुर, अवध साहू, यदुनंदन कौशिक, रमई साहू, जोगीराम साहू, रामावतार यादव, रामावतार साहू, गोपकुमार कौशिक, दीलिप कौशिक, रामफल द्वीवेदी, शिवकुमार साहू,नज्योतिष धीवर,नघनश्याम धीवर, विजय यादव,नसरजू साहू, उमाशंकर साहू, रामायण साहू,भगत धीवर, रवीन्द्र गहवई , धनंजय साहू, दरबारी यादव शामिल हैं।

GiONews Team
Editor In Chief

26 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

बिलासपुर– सेमरताल में अटल समरसता भवन के पास लगातार चौथे वर्ष अखंड नवधा रामायण का प्रारंभ हुआ।इससे पहले गाँव की बहनों ने मंगल कलश यात्रा निकालकर इस महानुष्ठान का शुरुआत किया। वसंत पंचमी के पवित्र दिन पर रामकथा के आयोजन से ग्रामीणों में अच्छा उत्साह है। कलश यात्रा का अभिनंदन नवधा समिति के अध्यक्ष कामता धीवर, वरिष्ठ सदस्य सीताराम पान्डेय, द्वासी धीवर, लक्ष्मण साहू, पवन धीवर, मनीष कौशिक, सतीश धीवर , साकेत कौशिक , अनिल वर्मा द्वारा किया गया।कुल पाँच हजार वर्ग फिट क्षेत्र में आयोजित इस कार्यक्रम में दूर दूर से सधे हुए कलाकारो को आमंत्रण दिया गया है। सुबह शाम नित्य महाआरती में भक्तों की श्रद्धा अनुकरणीय है। आयोजन समिति में लक्ष्मी नारायण बैंगुर, अवध साहू, यदुनंदन कौशिक, रमई साहू, जोगीराम साहू, रामावतार यादव, रामावतार साहू, गोपकुमार कौशिक, दीलिप कौशिक, रामफल द्वीवेदी, शिवकुमार साहू,नज्योतिष धीवर,नघनश्याम धीवर, विजय यादव,नसरजू साहू, उमाशंकर साहू, रामायण साहू,भगत धीवर, रवीन्द्र गहवई , धनंजय साहू, दरबारी यादव शामिल हैं।