Monday, November 28, 2022

कोरोना पॉजिटिव 9 वां मरीज एम्स से डिस्चार्ज.. अब केवल एक बाकी..स्वास्थ्य मंत्री ने की युवक से बात..देखिये वीडियो

रायपुर– कोरोना वायरस से संक्रमित कोरबा के युवक की रिपोर्ट निगेटिव आई है। उसे 30 मार्च को एम्स लाया गया था। कोरबा निवासी युवक लंदन से घर लौटा था। अब इसके बाद छत्तीसगढ में कोरोना वायरस से संक्रमित एक ही मरीज रह जाएंगा। 10 मे से 9 की छुट्टी हो गई। कोरोना पीड़ित मरीज के ठीक होने की जानकारी स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने दी, उन्होंने खुशी जाहिर करते हुए डॉक्टरों की टीम को बधाई दी।

स्वास्थ्य मंत्री ने की युवक से बात

छत्तीसगढ़ में अब कोरोना पॉजिटिव मरीज की संख्या केवल 1 रह गई है, कोरबा का युवक भी आज डिस्चार्ज हो गया है, डिस्चार्ज होने के पहले स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव ने फोन पर उस युवक से बातचीत की, युवक ने स्वास्थ्य विभाग के द्वारा दी गई सुविधाओं पर संतोष व्यक्त किया, और यह भी कहा कि हमने मिलकर यह लड़ाई लड़ी और जीती भी है एम्स प्रबंधन और सरकार के द्वारा मिले सहयोग के लिए युवक ने आभार व्यक्त किया।

अब केवल एक मरीज बाकी

प्रदेश में कोरोना संक्रमित 10 मरीजों में से 9 अब पूरी तरह ठीक हो गए हैं। अब कटघोरा का एक पॉजिटिव मरीज बाकी है, जिसका इलाज चल रहा है। महाराष्ट्र के कामठी से छत्तीसगढ आये तब्लीगी जमात से जुड़े 16 वर्षीय नाबालिग कोरोना पाॅजिटिव पाया गया। जो कटघोरा के पुरानी बस्ती स्थित एक मस्जिद में ठहरा हुआ था।

प्रदेश के कोरोना पॉजिटिव मरीजों की डिटेल

छत्तीसगढ़ में कोरोना की स्थिति-पहला केस- 19 मार्च को रायपुर के समता कॉलोनी निवासी 23 वर्षीय युवती के कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई थी. युवती 16 मार्च को लंदन से छत्तीसगढ़ लौटी थी. उसे एम्स अस्पताल में आइसोलेशन पर रखा गया था.दूसरा केस- 25 मार्च को राजनांदगांव के भरकापारा निवासी 30 वर्षीय युवक थाईलैंड से घूमकर घर लौटा था. युवक का कोरोना जांच सैंपल पॉजिटिव मिला था.तीसरा केस- 25 मार्च को रायपुर की युवती की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. युवती सुभाष स्टेडियम इलाके की रहने वाली है. 16 मार्च को ही युवती लंदन से लौटी थी. युवती के खिलाफ जानकारी छिपाने और सरकारी निर्देशों की अवहेलना का केस दर्ज किया गया है.चौथा केस- बिलासपुर के रामालाइफ में एक 64 वर्षीय महिला का सैंपल पॉजिटिव आया था. महिला 10 फरवरी को दुबई से बिलासपुर आई थी. महिला ने भी विदेश से लौटने की जानकारी इसने छुपाई थी. इन्हें अपोलो में आइसोलेट किया गया था.पांचवां केस- 25 मार्च दुर्ग-भिलाई जोन के सेक्टर 2 के खुर्सीपारा का रहने वाला युवक 10 मार्च को दुबई से लौटा था. इसकी जांच पॉजिटिव आई थी. इसे रायपुर एम्स में भर्ती किया गया था. युवक के पॉजिटिव होने के बाद आसपास के 100 परिवारों को होम आइसोलेट किया गया.छठा केस- रायपुर के बड़े रामनगर में रहने वाले 60 वर्षीय व्यक्ति की कोरोना की रिपोर्ट पॉजिटिव मिली थी. इनका अन्य राज्य और विदेश यात्रा की कोई हिस्ट्री नहीं पाई गई थी. इन्हें रायपुर एम्स में आइसोलेट किया गया.सातवां केस- 28 मार्च को रायपुर के देवेंद्र नगर इलाके में रहने वाले युवक की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी.युवक यूके से लौटा था. उसे होम आइसोलेशन में रहने की हिदायत दी गई थी.आठवां केस- रायपुर के डीडी नगर क्षेत्र के कंचन गंगा की रहने वाली युवती की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. युवती लंदन की यात्रा से लौटी थी.नौवां केस- 31 मार्च को देर रात कोरबा से पहला मरीज सामने आया था. 22 साल का ये युवक लंदन से लौटा था.दसवां केस- 4 अप्रैल को प्रदेश का दसवां के केस कोरबा से सामने आया. यहां 16 साल का नाबालिग कोरोना पोजटिव पाया गया. किशोर महाराष्ट्र का रहने वाला है जो मरकज से आए लोगों के साथ मस्जिद में ठहरा हुआ था।

GiONews Team
Editor In Chief

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

रायपुर– कोरोना वायरस से संक्रमित कोरबा के युवक की रिपोर्ट निगेटिव आई है। उसे 30 मार्च को एम्स लाया गया था। कोरबा निवासी युवक लंदन से घर लौटा था। अब इसके बाद छत्तीसगढ में कोरोना वायरस से संक्रमित एक ही मरीज रह जाएंगा। 10 मे से 9 की छुट्टी हो गई। कोरोना पीड़ित मरीज के ठीक होने की जानकारी स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने दी, उन्होंने खुशी जाहिर करते हुए डॉक्टरों की टीम को बधाई दी।

स्वास्थ्य मंत्री ने की युवक से बात

छत्तीसगढ़ में अब कोरोना पॉजिटिव मरीज की संख्या केवल 1 रह गई है, कोरबा का युवक भी आज डिस्चार्ज हो गया है, डिस्चार्ज होने के पहले स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव ने फोन पर उस युवक से बातचीत की, युवक ने स्वास्थ्य विभाग के द्वारा दी गई सुविधाओं पर संतोष व्यक्त किया, और यह भी कहा कि हमने मिलकर यह लड़ाई लड़ी और जीती भी है एम्स प्रबंधन और सरकार के द्वारा मिले सहयोग के लिए युवक ने आभार व्यक्त किया।

अब केवल एक मरीज बाकी

प्रदेश में कोरोना संक्रमित 10 मरीजों में से 9 अब पूरी तरह ठीक हो गए हैं। अब कटघोरा का एक पॉजिटिव मरीज बाकी है, जिसका इलाज चल रहा है। महाराष्ट्र के कामठी से छत्तीसगढ आये तब्लीगी जमात से जुड़े 16 वर्षीय नाबालिग कोरोना पाॅजिटिव पाया गया। जो कटघोरा के पुरानी बस्ती स्थित एक मस्जिद में ठहरा हुआ था।

प्रदेश के कोरोना पॉजिटिव मरीजों की डिटेल

छत्तीसगढ़ में कोरोना की स्थिति-पहला केस- 19 मार्च को रायपुर के समता कॉलोनी निवासी 23 वर्षीय युवती के कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई थी. युवती 16 मार्च को लंदन से छत्तीसगढ़ लौटी थी. उसे एम्स अस्पताल में आइसोलेशन पर रखा गया था.दूसरा केस- 25 मार्च को राजनांदगांव के भरकापारा निवासी 30 वर्षीय युवक थाईलैंड से घूमकर घर लौटा था. युवक का कोरोना जांच सैंपल पॉजिटिव मिला था.तीसरा केस- 25 मार्च को रायपुर की युवती की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. युवती सुभाष स्टेडियम इलाके की रहने वाली है. 16 मार्च को ही युवती लंदन से लौटी थी. युवती के खिलाफ जानकारी छिपाने और सरकारी निर्देशों की अवहेलना का केस दर्ज किया गया है.चौथा केस- बिलासपुर के रामालाइफ में एक 64 वर्षीय महिला का सैंपल पॉजिटिव आया था. महिला 10 फरवरी को दुबई से बिलासपुर आई थी. महिला ने भी विदेश से लौटने की जानकारी इसने छुपाई थी. इन्हें अपोलो में आइसोलेट किया गया था.पांचवां केस- 25 मार्च दुर्ग-भिलाई जोन के सेक्टर 2 के खुर्सीपारा का रहने वाला युवक 10 मार्च को दुबई से लौटा था. इसकी जांच पॉजिटिव आई थी. इसे रायपुर एम्स में भर्ती किया गया था. युवक के पॉजिटिव होने के बाद आसपास के 100 परिवारों को होम आइसोलेट किया गया.छठा केस- रायपुर के बड़े रामनगर में रहने वाले 60 वर्षीय व्यक्ति की कोरोना की रिपोर्ट पॉजिटिव मिली थी. इनका अन्य राज्य और विदेश यात्रा की कोई हिस्ट्री नहीं पाई गई थी. इन्हें रायपुर एम्स में आइसोलेट किया गया.सातवां केस- 28 मार्च को रायपुर के देवेंद्र नगर इलाके में रहने वाले युवक की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी.युवक यूके से लौटा था. उसे होम आइसोलेशन में रहने की हिदायत दी गई थी.आठवां केस- रायपुर के डीडी नगर क्षेत्र के कंचन गंगा की रहने वाली युवती की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. युवती लंदन की यात्रा से लौटी थी.नौवां केस- 31 मार्च को देर रात कोरबा से पहला मरीज सामने आया था. 22 साल का ये युवक लंदन से लौटा था.दसवां केस- 4 अप्रैल को प्रदेश का दसवां के केस कोरबा से सामने आया. यहां 16 साल का नाबालिग कोरोना पोजटिव पाया गया. किशोर महाराष्ट्र का रहने वाला है जो मरकज से आए लोगों के साथ मस्जिद में ठहरा हुआ था।