Monday, November 28, 2022

गुरुघासीदास सेंट्रल यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह में राष्ट्रपति ने कहा, मेडल पाने वालों में बेटियों की संख्या ज्यादा देख खुशी हुई

बिलासपुर– गुरुघासीदास सेंट्रल विश्वविद्यालय का आठवां दीक्षांत समारोह आज सम्पन्न हुआ, जिसमें मिखय अतिथि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने टॉपर को मेडल और उपाधि दी। 94.9 अंक लाने वाली क्वीनी यादव को राष्ट्रपति ने सबसे पहले मेडल और उपाधि दिया। क्वीनी यादव सत्र 2018-19 की यूनिवर्सिटी टॉपर है, उसने 2 मेडल लिया है। वहीं दीक्षांत समारोह में मेडल पाने वालों में बेटियों की संख्या ज्यादा है। महामहिम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने इस पर खुशी जाहिर की।

इस मौके पर राष्ट्रपति ने अपने संबोधन में कहा, कि स्वर्ण पदक प्राप्त करने में बेटियों की संख्या ज्यादा है। यह बेहद ही प्रसन्नता वाली बात है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी खुशी जताते हुए कहा, कि मेडल लेने में छात्राओं ने बाजी मारी है, उन्हें खूब बधाई। इसमें अनुसूचित जाति-जनजाति की छात्राएं हैं यह गर्व की बात है।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि सतनाम पंत के संस्थापक गुरुघासीदास जी के नाम से संचालित विवि में आकर प्रसन्नता हो रही है। आज सोमवार का शुभ दिन है, 1756 में सोमवार के दिन घासीदास जी का अवतरण हुआ। उनका सन्देश – मनखे मनखे एक समान। गिरौधपुरी की भव्यता के मैंने यहां दर्शन किए हैं। दीक्षांत समारोह के दौरान राष्ट्रपति ने नवनिर्मित 5 भवनों का लोकार्पण किया।

इनको मिला मेडल
कला संकाय के विनोद कुमार खूंटे, सोशल साइंस के किशोर कुमार कोठारी, फिजिकल साइंस के चंद्रिका, गणित संकाय से क्वीनी यादव, मैनेजमेंट से पूजा पटेल, लाइफ साइंस से अर्पिता नहाक, इंजीनियरिंग से दबरून दशभौमिक, नेचुरल साइंस से आयुषी सिंह, विधि संकाय से माधुरी मरकाम को पदक मिला है।

मंच में महामहिम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के साथ राज्यपाल अनुसुइया उइके, सीएम भूपेश बघेल, कुलाधिपति अशोक मोडक, कुलपति प्रो अंजिला गुप्ता और कुलसचिव प्रो शैलेंद्र कुमार मौजूद रहे। दीक्षांत समारोह में सेल्फी प्वाइंट भी बनाया गया था, जहां मेडल प्राप्त करने के बाद यहां सेल्फी ली गई।

GiONews Team
Editor In Chief

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

बिलासपुर– गुरुघासीदास सेंट्रल विश्वविद्यालय का आठवां दीक्षांत समारोह आज सम्पन्न हुआ, जिसमें मिखय अतिथि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने टॉपर को मेडल और उपाधि दी। 94.9 अंक लाने वाली क्वीनी यादव को राष्ट्रपति ने सबसे पहले मेडल और उपाधि दिया। क्वीनी यादव सत्र 2018-19 की यूनिवर्सिटी टॉपर है, उसने 2 मेडल लिया है। वहीं दीक्षांत समारोह में मेडल पाने वालों में बेटियों की संख्या ज्यादा है। महामहिम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने इस पर खुशी जाहिर की।

इस मौके पर राष्ट्रपति ने अपने संबोधन में कहा, कि स्वर्ण पदक प्राप्त करने में बेटियों की संख्या ज्यादा है। यह बेहद ही प्रसन्नता वाली बात है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी खुशी जताते हुए कहा, कि मेडल लेने में छात्राओं ने बाजी मारी है, उन्हें खूब बधाई। इसमें अनुसूचित जाति-जनजाति की छात्राएं हैं यह गर्व की बात है।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि सतनाम पंत के संस्थापक गुरुघासीदास जी के नाम से संचालित विवि में आकर प्रसन्नता हो रही है। आज सोमवार का शुभ दिन है, 1756 में सोमवार के दिन घासीदास जी का अवतरण हुआ। उनका सन्देश – मनखे मनखे एक समान। गिरौधपुरी की भव्यता के मैंने यहां दर्शन किए हैं। दीक्षांत समारोह के दौरान राष्ट्रपति ने नवनिर्मित 5 भवनों का लोकार्पण किया।

इनको मिला मेडल
कला संकाय के विनोद कुमार खूंटे, सोशल साइंस के किशोर कुमार कोठारी, फिजिकल साइंस के चंद्रिका, गणित संकाय से क्वीनी यादव, मैनेजमेंट से पूजा पटेल, लाइफ साइंस से अर्पिता नहाक, इंजीनियरिंग से दबरून दशभौमिक, नेचुरल साइंस से आयुषी सिंह, विधि संकाय से माधुरी मरकाम को पदक मिला है।

मंच में महामहिम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के साथ राज्यपाल अनुसुइया उइके, सीएम भूपेश बघेल, कुलाधिपति अशोक मोडक, कुलपति प्रो अंजिला गुप्ता और कुलसचिव प्रो शैलेंद्र कुमार मौजूद रहे। दीक्षांत समारोह में सेल्फी प्वाइंट भी बनाया गया था, जहां मेडल प्राप्त करने के बाद यहां सेल्फी ली गई।