Saturday, August 13, 2022

घर में सोता रहा शिक्षक का परिवार, चोरों ने पार कर दिए जेवर और पैसे

कोटा– अज्ञात चोरों ने बीती रात शिक्षक के घर धावा बोल सोने चांदी सहित करीब 40000 कीमती सामान पार कर दिए, ताज्जुब की बात ये है, कि जब घर मे सभी सदस्य उपस्थित थे। घटना कोटा थाना क्षेत्र के चारपारा नवागांव की है। पीड़ित शिक्षक ने कोटा थाने में शिकायत दर्ज की है।

दरसअल जयराम यादव पेशे से एक शिक्षक है। जो कोटा ब्लॉक के बिल्लीबन्द पूर्व माध्यमिक शाला के प्रधानपाठक है। वह रोज की तरह गुरुवार को अपने पूरे परिवार के साथ करीब 11 बजे खाना खा के सो गए थे। इसी बीच करीब दो बजे जयराम यादव के पुत्री भाग्य यादव ने घर मे किसी अज्ञात व्यक्ति को देखा। जिसकी जानकारी उनसे तुरंत अपनी मां रूकमणी यादव को दी। तब तक चोर को भी घर वालो के उठने की भनक लग चूंकि थी।

जिसके बाद जयराम यादव की बेटी और पत्नी ने शोर मचाया। तब जाकर जयराम यादव की नींद खुली। उसके बाद जब उन्होंने अज्ञात चोर को पकड़ने की कोशिश की, लेकिन तब तक चोर घटना को अंजाम देकर फरार हो चुका था। प्रार्थिया की माने तो अज्ञात चोर घर के पीछे बाड़ी के लोहे के दरवाजें को तोड़ घर में घुसे थे। उन्होंने बड़े ही शातिर तरीके से लकड़ी के दरवाजे को कमरे में रखे पैरपट्टी लगभाग 180 ग्राम, सोने के टॉप्स, एक जोडी चांदी की अंगुठी, एक जोडी चांदी की बिछिया, नगदी 2000 रूपये तथा 12 नग नई साडी चुरा कर ले उड़े। इस पूरे मामले में कोटा पुलिस ने शिकायत दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

GiONews Team
Editor In Chief

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

कोटा– अज्ञात चोरों ने बीती रात शिक्षक के घर धावा बोल सोने चांदी सहित करीब 40000 कीमती सामान पार कर दिए, ताज्जुब की बात ये है, कि जब घर मे सभी सदस्य उपस्थित थे। घटना कोटा थाना क्षेत्र के चारपारा नवागांव की है। पीड़ित शिक्षक ने कोटा थाने में शिकायत दर्ज की है।

दरसअल जयराम यादव पेशे से एक शिक्षक है। जो कोटा ब्लॉक के बिल्लीबन्द पूर्व माध्यमिक शाला के प्रधानपाठक है। वह रोज की तरह गुरुवार को अपने पूरे परिवार के साथ करीब 11 बजे खाना खा के सो गए थे। इसी बीच करीब दो बजे जयराम यादव के पुत्री भाग्य यादव ने घर मे किसी अज्ञात व्यक्ति को देखा। जिसकी जानकारी उनसे तुरंत अपनी मां रूकमणी यादव को दी। तब तक चोर को भी घर वालो के उठने की भनक लग चूंकि थी।

जिसके बाद जयराम यादव की बेटी और पत्नी ने शोर मचाया। तब जाकर जयराम यादव की नींद खुली। उसके बाद जब उन्होंने अज्ञात चोर को पकड़ने की कोशिश की, लेकिन तब तक चोर घटना को अंजाम देकर फरार हो चुका था। प्रार्थिया की माने तो अज्ञात चोर घर के पीछे बाड़ी के लोहे के दरवाजें को तोड़ घर में घुसे थे। उन्होंने बड़े ही शातिर तरीके से लकड़ी के दरवाजे को कमरे में रखे पैरपट्टी लगभाग 180 ग्राम, सोने के टॉप्स, एक जोडी चांदी की अंगुठी, एक जोडी चांदी की बिछिया, नगदी 2000 रूपये तथा 12 नग नई साडी चुरा कर ले उड़े। इस पूरे मामले में कोटा पुलिस ने शिकायत दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।