Tuesday, August 16, 2022

ठाकुर पूरन सिंह स्मृति सूत्र सम्मान जशपुर में सम्पन्न, युवा कवि माधव राठोड़ एवं भास्कर चौधुरी सम्मानित

जशपुरनगर– ठाकुर पूरनसिंह स्मृति सूत्र सम्मान जशपुर में अपर कलेक्टर आई एन ठाकुर के मुख्य आतिथ्य, विख्यात कवि एवं आलोचक नासिर अहमद सिकंदर की अध्यक्षता और दशरथ राजपूत, एसडीएम, जशपुर, समालोचक शाकिर अली के विशिष्ठ आतिथ्य में सम्पन्न हुआ। इस अवसर पर वर्ष 2018 के लिए प्रतिष्ठित ‘सूत्र सम्मान’ जैसलमेर, राजस्थान के युवा कवि माधव राठोड़ एवं वर्ष 2019 के लिए कोरबा, छत्तीसगढ़ के युवा कवि भास्कर चौधुरी को प्रदान किया गया। सूत्र परिवार के इस तेइसवें प्रतिष्ठित आयोजन में सूत्र के संपादक, वरिष्ठ कवि एवं कार्यक्रम के संयोजक विजय सिंह, सूत्र परिवार की विशिष्ट सदस्या, कवयित्री सरिता सिंह, वरिष्ठ पत्रकार एवं रचनाकार गेंदलाल शुक्ल, समीक्षक एवं कवि सतीश सिंह, वरिष्ठ कथाकार एवं उपन्यासकार कामेश्वर पांडे, भिलाई से आए अग्रज कवि घनश्याम त्रिपाठी, मुंगेली के शायर अज़ीज़ रफीक, झारखंड से पधारे युवा कवि विजय कुमार, कोरबा के युवा कवि सूरज प्रकाश राठौर, अम्बिकापुर से कवि रमेश सिन्हा, वरिष्ठ पत्रकार प्रेमप्रकाश शर्मा, कर्मठ समाजसेवी बसंत दूबे सहित जशपुर नगर के प्रबुद्ध साहित्यकार, पत्रकार एवं गणमान्य नागरिकों ने शिरकत की। कार्यक्रम के आरम्भ में अतिथियों द्वारा दीप प्रज्जवलन किया गया। इस अवसर पर युवा कविद्वय माधव राठोड़ और भास्कर चौधुरी को शाल श्रीफल एवं मानपत्र भेंट कर सम्मानित किया गया। वरिष्ठ कवि एवं आलोचक शाकिर अलि ने माधव राठोड़ के साहित्यिक अवदान एवं रचना कर्म पर प्रकाश डाला। युवा समालोचक सतीश सिंह ने माधव राठौड़ के काव्य वैशिष्ठ्य पर विस्तार से प्रकाश डाला। भास्कर चौधुरी को सूत्र सम्मान मिलने पर ख्यात आलोचक, पत्रकार एवं कवि सुधीर सक्सेना के बधाई और शुभकामना संदेश का पठन कार्यक्रम के संचालक सतीश सिंह ने किया। भास्कर चौधुरी के रचनाकर्म पर उमाशंकर सिंह परमार की महत्वपूर्ण टिप्पणी का पठन कवि सूरजप्रकाश राठौर द्वारा किया गया।
इस महत्वपूर्ण आयोजन पर स्वागत उद्बोधन करते हुए कवयित्री सरिता सिंह ने ठाकुर पूरन सिंह सूत्र सम्मान की पृष्ठभूमि पर प्रकाश डालते हुए साहित्य को जनता से जोड़ने का ज़रिया बताया। कार्यक्रम के सूत्रधार विजय सिंह ने सूत्र परिवार के कार्यक्रमों एवं लक्ष्यों पर प्रतिवेदन प्रस्तुत किया।
इस अवसर पर जशपुर के स्थानीय कवियों अनिल सिंह, ज़ुल्फ़िकार सिद्धिकी, विश्वबंधु शर्मा, डॉ आर के श्रीवास्तव, अनिता गुप्ता आदि ने कविता पाठ किया। काव्य पाठ के इस सत्र में कक्षा बारहवीं की छात्रा वस्फ़ी सिद्धिकी और जयपुर कृषि महाविद्यालय के छात्र प्रखर सिंह के कविता एवं ग़ज़ल प्रस्तुति ने श्रोताओं का मन मोह लिया। कथाकार कामेश्वर पांडे के कहानी पाठ को भी काफी सराहा गया।
कार्यक्रम का सफल संचालन वरिष्ठ कवि सतीश सिंह ने किया। आभार ज्ञापन डॉ अज़ीज़ रफ़ीक ने किया।
GiONews Team
Editor In Chief

21 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

जशपुरनगर– ठाकुर पूरनसिंह स्मृति सूत्र सम्मान जशपुर में अपर कलेक्टर आई एन ठाकुर के मुख्य आतिथ्य, विख्यात कवि एवं आलोचक नासिर अहमद सिकंदर की अध्यक्षता और दशरथ राजपूत, एसडीएम, जशपुर, समालोचक शाकिर अली के विशिष्ठ आतिथ्य में सम्पन्न हुआ। इस अवसर पर वर्ष 2018 के लिए प्रतिष्ठित ‘सूत्र सम्मान’ जैसलमेर, राजस्थान के युवा कवि माधव राठोड़ एवं वर्ष 2019 के लिए कोरबा, छत्तीसगढ़ के युवा कवि भास्कर चौधुरी को प्रदान किया गया। सूत्र परिवार के इस तेइसवें प्रतिष्ठित आयोजन में सूत्र के संपादक, वरिष्ठ कवि एवं कार्यक्रम के संयोजक विजय सिंह, सूत्र परिवार की विशिष्ट सदस्या, कवयित्री सरिता सिंह, वरिष्ठ पत्रकार एवं रचनाकार गेंदलाल शुक्ल, समीक्षक एवं कवि सतीश सिंह, वरिष्ठ कथाकार एवं उपन्यासकार कामेश्वर पांडे, भिलाई से आए अग्रज कवि घनश्याम त्रिपाठी, मुंगेली के शायर अज़ीज़ रफीक, झारखंड से पधारे युवा कवि विजय कुमार, कोरबा के युवा कवि सूरज प्रकाश राठौर, अम्बिकापुर से कवि रमेश सिन्हा, वरिष्ठ पत्रकार प्रेमप्रकाश शर्मा, कर्मठ समाजसेवी बसंत दूबे सहित जशपुर नगर के प्रबुद्ध साहित्यकार, पत्रकार एवं गणमान्य नागरिकों ने शिरकत की। कार्यक्रम के आरम्भ में अतिथियों द्वारा दीप प्रज्जवलन किया गया। इस अवसर पर युवा कविद्वय माधव राठोड़ और भास्कर चौधुरी को शाल श्रीफल एवं मानपत्र भेंट कर सम्मानित किया गया। वरिष्ठ कवि एवं आलोचक शाकिर अलि ने माधव राठोड़ के साहित्यिक अवदान एवं रचना कर्म पर प्रकाश डाला। युवा समालोचक सतीश सिंह ने माधव राठौड़ के काव्य वैशिष्ठ्य पर विस्तार से प्रकाश डाला। भास्कर चौधुरी को सूत्र सम्मान मिलने पर ख्यात आलोचक, पत्रकार एवं कवि सुधीर सक्सेना के बधाई और शुभकामना संदेश का पठन कार्यक्रम के संचालक सतीश सिंह ने किया। भास्कर चौधुरी के रचनाकर्म पर उमाशंकर सिंह परमार की महत्वपूर्ण टिप्पणी का पठन कवि सूरजप्रकाश राठौर द्वारा किया गया।
इस महत्वपूर्ण आयोजन पर स्वागत उद्बोधन करते हुए कवयित्री सरिता सिंह ने ठाकुर पूरन सिंह सूत्र सम्मान की पृष्ठभूमि पर प्रकाश डालते हुए साहित्य को जनता से जोड़ने का ज़रिया बताया। कार्यक्रम के सूत्रधार विजय सिंह ने सूत्र परिवार के कार्यक्रमों एवं लक्ष्यों पर प्रतिवेदन प्रस्तुत किया।
इस अवसर पर जशपुर के स्थानीय कवियों अनिल सिंह, ज़ुल्फ़िकार सिद्धिकी, विश्वबंधु शर्मा, डॉ आर के श्रीवास्तव, अनिता गुप्ता आदि ने कविता पाठ किया। काव्य पाठ के इस सत्र में कक्षा बारहवीं की छात्रा वस्फ़ी सिद्धिकी और जयपुर कृषि महाविद्यालय के छात्र प्रखर सिंह के कविता एवं ग़ज़ल प्रस्तुति ने श्रोताओं का मन मोह लिया। कथाकार कामेश्वर पांडे के कहानी पाठ को भी काफी सराहा गया।
कार्यक्रम का सफल संचालन वरिष्ठ कवि सतीश सिंह ने किया। आभार ज्ञापन डॉ अज़ीज़ रफ़ीक ने किया।