Tuesday, November 29, 2022

तखतपुर क्षेत्र के 307 लोग आईसोलेशन में

तखतपुर (टेकचंद कारड़ा)- कोरोना वायरस का कहर जहां पूरे विश्व में फैला हुआ है वहीं अब धीरे धीरे बडे शहरों के बाद अब छोटे छोटे गांव में भी बाहर से आए ग्रामीणों को आईसोलेशन में रखा गया है। तखतपुर विकासखण्ड में अब तक 307 लोगों आईसोलेशन में रखा गया है जिसमें लगभग 30 लोगों में सर्दी खासी के लक्ष्ण पाए गए थे। जांच के बाद सभी 30 मरीजों के लक्ष्ण नेगेटिव पाए गए।
देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और प्रशासन द्वारा बार बार लाँकडाउन रहने की बात इसलिए की जा रही है क्योंकि लगातार बाहर जो लोग कमाने खाने या घुमने गए थे वे लोग सब अपने घर वापस आ रहे है इनके वापस आने से इन्हीं में से कुछ लोग अपने साथ कोरोना वायरस का प्रकोप अपने साथ लेकर आ रहे है इसका ताजा उदाहरण तखतपुर विकासखण्ड में देखने को मिला है जहां बाहर से घुम फिरकर आए 307 लोगों को आईसोलेशन में रखा गया है। और नगर में लगभग 10 परिवार है जिन्हें आईसोलेशन में रखा गया है और इन परिवार और इनके सदस्यों को शहर में कही भी घुमने के लिए मना किया गया है न ही किसी से संपर्क रखने के लिए कहा गया है और ऐसे लोग जो इनके संपर्क में रहे ऐसे लोगों पर प्रशासन की नजर बनी हुई है और यहीं कारण है कि लोगों को घर में ही रहने की सलाह दी जा रही है ताकि इन सभी लोगों से संपर्क में कोई न आए इसके लिए इन्हें कमरे में ही रहने की हिदायत दी गई है।
प्रशासन की नजर – अब तक कोरोना वायरस न फैले इसके लिए विकासखण्ड में 307 लोगों को आईसोलेशन में रखा गया है जिसका मुख्य उद्देश्य वायरस के फैलाव को रोकना है और इन सभी 307 लोगों को घरों में रहने के लिए कहा गया है वहीं घरों से बाहर निकले को मना गया गया है। इन सभी परिवारों का सैंपल लेकर लेब भेजा गया और इनके स्वास्थ्य पर भी नजर रखी जा रही है। वहीं इन परिवारों के लिए राशन की भी व्यवस्था शासन द्वारा घर पहुंचा के की जा रही है।
लापरवाही करने वाले की सूचना- प्रशासन ने 307 ऐसे लोगों जो आईसोलेशन में रखे हुए है इसमें से कोई भी परिवार का सदस्य यदि घर से बाहर निकलता है तो आमलोगों को कहा गया है कि इसकी सूचना तत्काल स्वास्थ्य केंद्र या पास के थाने में दे ताकि ये वायरस किसी दूसरे को न फैले।

GiONews Team
Editor In Chief

2 COMMENTS

  1. Once we’ve seen the casino’s performance on all the above, we consider the casino’s overall gaming experience for players and rate the casino alongside our shortlisted sites. We make sure to recheck each casino regularly to update our reviews and confirm the support of each banking option. CTIJF2021 POSTPONEMENT LETTER There are some countries that do not view Bitcoins as a currency, but instead view them as a commodity. This may lead to Bitcoin casinos being legal in that particular country that normally would not allow gambling. The participants receive the Bitcoin credits and can later cash them in for real cash perfectly legally. Is btc gambling legal in a huge advantage of playing crypto bitcoin blackjack at online bitcoin casinos is that you can develop and use a cheat sheet to guide your decision-making as you play, the most lucrative is the Jackpot prize. Playzee Casino also runs a fun VIP Club named Zee Club, is dash gambling legal which country you already know that slot machines can be quite an expensive investment. https://lima-wiki.win/index.php?title=Best_online_slot_games Comme son nom l’indique, Bitcoin.com Games est un casino bitcoin vous permettant de jouer Г  vos jeux de hasard prГ©fГ©rГ©s, en utilisant du Bitcoin ou du Bitcoin Cash. Mais si vous avez d’autres cryptos, vous pouvez simplement les convertir directement sur le site. Free footage of earth spinning Lorsqu’on regarde les avantages qu’offrent Canada bitcoin casino, on comprend aisГ©ment pourquoi de nombreux utilisateurs optent de plus en plus pour les bitcoin casinos Canada. Pour l’avoir utilisГ©e, voici les avantages que nous en avons tirГ© : This is why we have tested over one hundred (100+) crypto casinos to ensure that we have the best of the best listed for you. There are a few bitcoin casinos that deserve mention, and we will mention them in this review as well, but let’s get into this review on the Top 3 Best Bitcoin Casinos of 2022.

  2. However, real and perceived stigma persists even within the health-care community. To combat this stigma, members of the cannabis industry use rhetorical tactics, such as addressing historical misconceptions stemming from cognitive biases, to argue that the industry should not be stigmatized. For example, just because some cannot separate the historical origin of cannabis from its potential harms, it does not mean its proven potential benefits should be disregarded. All rights reserved @ Radio Canada International 2018 Example of a legal cannabis product that displays the standardized cannabis symbol, the health warning messages, the excise stamp, and child-resistant plain packaging and labelling. of Cannabis (cannabis tourists are out of luck). Looking at cannabis Why were cannabis deliveries delayed to hundreds of Ontario’s pot shops? https://andersonhape109765.onzeblog.com/14022581/where-do-psilocybin-mushrooms-grow Contrary to legend, magic mushrooms are no more or less dangerous when dried. Drying mushrooms merely preserves them and helps prevent the growth of mold. The pharmacological effects of magic mushrooms, which start about 30 minutes after eating and last for several hours, include confusion, a sense of well-being and connection to others or the universe, and for those so inclined, religious experiences. Hallucinations are common – many report the sensation that inanimate objects are “breathing.” Uncontrollable laughter is common as well. If you are planning to take more than a light dose of magic mushrooms, it is important to ensure that you are in a comfortable environment, with people you can trust. A person who is practiced in ensuring your safety during your voyage of the mind is called a psychedelic guide, or trip-sitter. And at any dose, if you are considering using magic mushrooms for the first time, seeking out an experienced guide or trip-sitter to provide any support needed as you embark on your journey of the mind is highly recommended.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

तखतपुर (टेकचंद कारड़ा)- कोरोना वायरस का कहर जहां पूरे विश्व में फैला हुआ है वहीं अब धीरे धीरे बडे शहरों के बाद अब छोटे छोटे गांव में भी बाहर से आए ग्रामीणों को आईसोलेशन में रखा गया है। तखतपुर विकासखण्ड में अब तक 307 लोगों आईसोलेशन में रखा गया है जिसमें लगभग 30 लोगों में सर्दी खासी के लक्ष्ण पाए गए थे। जांच के बाद सभी 30 मरीजों के लक्ष्ण नेगेटिव पाए गए।
देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और प्रशासन द्वारा बार बार लाँकडाउन रहने की बात इसलिए की जा रही है क्योंकि लगातार बाहर जो लोग कमाने खाने या घुमने गए थे वे लोग सब अपने घर वापस आ रहे है इनके वापस आने से इन्हीं में से कुछ लोग अपने साथ कोरोना वायरस का प्रकोप अपने साथ लेकर आ रहे है इसका ताजा उदाहरण तखतपुर विकासखण्ड में देखने को मिला है जहां बाहर से घुम फिरकर आए 307 लोगों को आईसोलेशन में रखा गया है। और नगर में लगभग 10 परिवार है जिन्हें आईसोलेशन में रखा गया है और इन परिवार और इनके सदस्यों को शहर में कही भी घुमने के लिए मना किया गया है न ही किसी से संपर्क रखने के लिए कहा गया है और ऐसे लोग जो इनके संपर्क में रहे ऐसे लोगों पर प्रशासन की नजर बनी हुई है और यहीं कारण है कि लोगों को घर में ही रहने की सलाह दी जा रही है ताकि इन सभी लोगों से संपर्क में कोई न आए इसके लिए इन्हें कमरे में ही रहने की हिदायत दी गई है।
प्रशासन की नजर – अब तक कोरोना वायरस न फैले इसके लिए विकासखण्ड में 307 लोगों को आईसोलेशन में रखा गया है जिसका मुख्य उद्देश्य वायरस के फैलाव को रोकना है और इन सभी 307 लोगों को घरों में रहने के लिए कहा गया है वहीं घरों से बाहर निकले को मना गया गया है। इन सभी परिवारों का सैंपल लेकर लेब भेजा गया और इनके स्वास्थ्य पर भी नजर रखी जा रही है। वहीं इन परिवारों के लिए राशन की भी व्यवस्था शासन द्वारा घर पहुंचा के की जा रही है।
लापरवाही करने वाले की सूचना- प्रशासन ने 307 ऐसे लोगों जो आईसोलेशन में रखे हुए है इसमें से कोई भी परिवार का सदस्य यदि घर से बाहर निकलता है तो आमलोगों को कहा गया है कि इसकी सूचना तत्काल स्वास्थ्य केंद्र या पास के थाने में दे ताकि ये वायरस किसी दूसरे को न फैले।