Monday, November 28, 2022

धोखाधड़ी के मामले में संलिप्त कमीशन एजेंट गिरफ्तार, अन्य की तलाश जारी

बिलासपुर– कपड़ा व्यवसायी के साथ धोखाधड़ी के मामले में 11 महीने बाद सिविल लाइन पुलिस को एक अहम कड़ी हाथ लगी है। पुलिस ने इस मामले में शामिल पॉलिसी कमीशन एजेंट को हिरासत में लिया है, और उससे पूछताछ कर रही है। मामले में संलिप्त अन्य आरोपी पुलिस के गिरफ्तार से बाहर है।

सिविल लाइन पुलिस के मुताबिक 20 फरवरी 2019 को रहंगी निवासी संजय गुप्ता ने लोन दिलाने के झांसा देकर बिरला फाइनेंस के डायरेक्टर आदित्य, पवन शुक्ला, वैभव श्रीवास्तव के खिलाफ सात लाख का लोन दिलाने के एवज में 42 हजार 500 रु की धोखाधड़ी की शिकायत की थी। प्रार्थी का आरोप था, कि आरोपियों ने उन्हें भारतीय ऐक्सा इंश्योरेंस कराने पर उनके द्वारा सात लाख रुपए लोन देने का झांसा दिया, और ₹42500 रु की राशि का चेक लेकर भारती एक्सा इंश्योरेंस कंपनी का पॉलिसी धोखाधड़ी से दिया था।

इस मामले में सिविल लाइन पुलिस काफी लंबे समय तक जांच कर रही थी। इसी बीच प्रार्थी को दिए गए इंश्योरेंस पॉलिसी के आधार पर सिविल लाइन पुलिस को कमीशन एजेंट अंकित शर्मा की जानकरी मिली। आरोपी अंकित शर्मा के लोकेशन दिल्ली में होने की जानकारी मिली, सिविल लाइन पुलिस ने दिल्ली के बदरपुर थाना क्षेत्र से आरोपी अंकित शर्मा को गिरफ्तार किया है। घटना में प्रयुक्त मोबाइल फोन जब्त कर सिविल लाइन पुलिस ने आरोपी को न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।

GiONews Team
Editor In Chief

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

बिलासपुर– कपड़ा व्यवसायी के साथ धोखाधड़ी के मामले में 11 महीने बाद सिविल लाइन पुलिस को एक अहम कड़ी हाथ लगी है। पुलिस ने इस मामले में शामिल पॉलिसी कमीशन एजेंट को हिरासत में लिया है, और उससे पूछताछ कर रही है। मामले में संलिप्त अन्य आरोपी पुलिस के गिरफ्तार से बाहर है।

सिविल लाइन पुलिस के मुताबिक 20 फरवरी 2019 को रहंगी निवासी संजय गुप्ता ने लोन दिलाने के झांसा देकर बिरला फाइनेंस के डायरेक्टर आदित्य, पवन शुक्ला, वैभव श्रीवास्तव के खिलाफ सात लाख का लोन दिलाने के एवज में 42 हजार 500 रु की धोखाधड़ी की शिकायत की थी। प्रार्थी का आरोप था, कि आरोपियों ने उन्हें भारतीय ऐक्सा इंश्योरेंस कराने पर उनके द्वारा सात लाख रुपए लोन देने का झांसा दिया, और ₹42500 रु की राशि का चेक लेकर भारती एक्सा इंश्योरेंस कंपनी का पॉलिसी धोखाधड़ी से दिया था।

इस मामले में सिविल लाइन पुलिस काफी लंबे समय तक जांच कर रही थी। इसी बीच प्रार्थी को दिए गए इंश्योरेंस पॉलिसी के आधार पर सिविल लाइन पुलिस को कमीशन एजेंट अंकित शर्मा की जानकरी मिली। आरोपी अंकित शर्मा के लोकेशन दिल्ली में होने की जानकारी मिली, सिविल लाइन पुलिस ने दिल्ली के बदरपुर थाना क्षेत्र से आरोपी अंकित शर्मा को गिरफ्तार किया है। घटना में प्रयुक्त मोबाइल फोन जब्त कर सिविल लाइन पुलिस ने आरोपी को न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।