Sunday, November 27, 2022

नगर पंचायत अध्यक्ष अमृता प्रदीप कौशिक की निकली विजय रैली

कोटा – नगरीय निकाय चुनाव में नगर पंचायत कोटा में लगातार दूसरी बार भाजपा ने अपना परचम लहराया है।

कोटा के पंद्रह वार्डो में से इस बार भाजपा ने 9 वार्ड में अपना बहुमत हासिल कर कांग्रेस को सिर्फ 5 सीट पर ही सिमट गई, तो वहीँ जनता कांग्रेस को सिर्फ एक ही वार्ड में जीत हासिल हुआ। जहाँ नगर पंचायत में अध्यक्ष व उपाध्यक्ष के लिए वार्ड पार्षद को चुनाव के आदेश के बाद भाजपा से नगर अध्यक्ष के लिए अमृता प्रदीप कौशिक को 10 प्रत्याशी के वोटों से जीत मिली, तो वहीँ भाजपा से अजय अग्रवाल को उपाध्यक्ष के लिए निर्विरोध निर्वाचित हुए। जीत के बाद आज नगर में कोटा के राम मंदिर चौक से लेकर नाका चौक तक बाजे गाजे के साथ हजारों की संख्या में विजय रैली निकाली गई जहा भाजपा के कार्यकर्ता व पदाधिकारी व कोटा के नगरवासियों सहित आसपास के ग्रमीणों ने भी विजयी रैली में शामिल हुए।

GiONews Team
Editor In Chief

7 COMMENTS

  1. A meta analysis for the change in BMD at 12 months included 15 trials and found a statistically significant differences between bisphosphonates and placebo at the LS, femoral neck, and TH favoring bisphosphonates doxycycline dog Eckert, S, Krueger, K, A

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

कोटा – नगरीय निकाय चुनाव में नगर पंचायत कोटा में लगातार दूसरी बार भाजपा ने अपना परचम लहराया है।

कोटा के पंद्रह वार्डो में से इस बार भाजपा ने 9 वार्ड में अपना बहुमत हासिल कर कांग्रेस को सिर्फ 5 सीट पर ही सिमट गई, तो वहीँ जनता कांग्रेस को सिर्फ एक ही वार्ड में जीत हासिल हुआ। जहाँ नगर पंचायत में अध्यक्ष व उपाध्यक्ष के लिए वार्ड पार्षद को चुनाव के आदेश के बाद भाजपा से नगर अध्यक्ष के लिए अमृता प्रदीप कौशिक को 10 प्रत्याशी के वोटों से जीत मिली, तो वहीँ भाजपा से अजय अग्रवाल को उपाध्यक्ष के लिए निर्विरोध निर्वाचित हुए। जीत के बाद आज नगर में कोटा के राम मंदिर चौक से लेकर नाका चौक तक बाजे गाजे के साथ हजारों की संख्या में विजय रैली निकाली गई जहा भाजपा के कार्यकर्ता व पदाधिकारी व कोटा के नगरवासियों सहित आसपास के ग्रमीणों ने भी विजयी रैली में शामिल हुए।