Wednesday, August 10, 2022

पंच का चुनाव हारने से बौखलाई मितानिन ने महिला का डिलीवरी कराने से किया इनकार, माँ और नवजात की हालत नाज़ुक

बिलासपुर– सीपत क्षेत्र के ग्राम पंचायत सोंठी निवासी मितानिन लीलावती श्रीवास ने गांव में रहने वाली डिलीवरी पेंसेट बैशाखा बाई पति नरोत्तम सिंह मौवार को डिलीवरी के लिए हास्पिटल ले जाने से मना कर दिया, इतना ही नही अन्य मितानिनों को भी उसे ले मना किया, वजह थी मितानिन का पंचायत चुनाव में वार्ड पंच चुनाव हार जाना। पीड़िता के परिजन उसे बिलासपुर लेकर गए, जहां डिलीवरी के बाद मां और नवजात की हालत नाजुक बनी हुई है।

पंचायत चुनाव में हारने वाले प्रत्यशियों की खीझ उतारने के कई मामले सामने आ रहे हैं, इसी कड़ी में सीपत क्षेत्र के ग्राम सोंठी में ममता को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है, जहां मितानिन ने महिला का डिलीवरी कराने से इनकार कर दिया। दरअसल सोंठी की रहने वाली लीलावती श्रीवास अपने ग्राम पंचायत सोंठी के वार्ड क्रमांक 10 से पंच प्रत्याशी थी, लेकिन वह चुनाव हार गई, जिसकी खीझ उसने गांव के कई लोगों से अभद्र व्यवहार कर उतारी। बैशाखा बाई को लेबर पेन होने पर उसके घर परिवार वाले उसे हॉस्पिटल ले जाने मितानिन लीलावती के सामने हाथ जोड़ कर विनती मिन्नत करते रहे, लेकिन भी वह नहीं मानी थक हारकर बैशाखा बाई के परिजन उसे प्रायवेट गाड़ी से बिलासपुर लेकर गए, और उसे हास्पिटल में भर्ती कराया। जहां डिलीवरी के बाद जच्चा बच्चा दोनों की हालात नाजुक बनी हुई है।

बैशाखा बाई के परिजन व गांव के लोगो ने प्रशासन से मांग करते हुए कहा, कि मितानिन लीलावती श्रीवास को पदमुक्त करते हुए उस पर कड़ी कार्रवाई की जाए। इधर मस्तूरी के बीएमओ नंदलाल कंवर ने कहा, कि चुनाव को लेकर स्थानीय मितानिन को किसी भी डिलीवरी पेसेंट से इस प्रकार का बर्ताव नहीं करना चाहिए, मामले की जांच कर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

GiONews Team
Editor In Chief

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

बिलासपुर– सीपत क्षेत्र के ग्राम पंचायत सोंठी निवासी मितानिन लीलावती श्रीवास ने गांव में रहने वाली डिलीवरी पेंसेट बैशाखा बाई पति नरोत्तम सिंह मौवार को डिलीवरी के लिए हास्पिटल ले जाने से मना कर दिया, इतना ही नही अन्य मितानिनों को भी उसे ले मना किया, वजह थी मितानिन का पंचायत चुनाव में वार्ड पंच चुनाव हार जाना। पीड़िता के परिजन उसे बिलासपुर लेकर गए, जहां डिलीवरी के बाद मां और नवजात की हालत नाजुक बनी हुई है।

पंचायत चुनाव में हारने वाले प्रत्यशियों की खीझ उतारने के कई मामले सामने आ रहे हैं, इसी कड़ी में सीपत क्षेत्र के ग्राम सोंठी में ममता को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है, जहां मितानिन ने महिला का डिलीवरी कराने से इनकार कर दिया। दरअसल सोंठी की रहने वाली लीलावती श्रीवास अपने ग्राम पंचायत सोंठी के वार्ड क्रमांक 10 से पंच प्रत्याशी थी, लेकिन वह चुनाव हार गई, जिसकी खीझ उसने गांव के कई लोगों से अभद्र व्यवहार कर उतारी। बैशाखा बाई को लेबर पेन होने पर उसके घर परिवार वाले उसे हॉस्पिटल ले जाने मितानिन लीलावती के सामने हाथ जोड़ कर विनती मिन्नत करते रहे, लेकिन भी वह नहीं मानी थक हारकर बैशाखा बाई के परिजन उसे प्रायवेट गाड़ी से बिलासपुर लेकर गए, और उसे हास्पिटल में भर्ती कराया। जहां डिलीवरी के बाद जच्चा बच्चा दोनों की हालात नाजुक बनी हुई है।

बैशाखा बाई के परिजन व गांव के लोगो ने प्रशासन से मांग करते हुए कहा, कि मितानिन लीलावती श्रीवास को पदमुक्त करते हुए उस पर कड़ी कार्रवाई की जाए। इधर मस्तूरी के बीएमओ नंदलाल कंवर ने कहा, कि चुनाव को लेकर स्थानीय मितानिन को किसी भी डिलीवरी पेसेंट से इस प्रकार का बर्ताव नहीं करना चाहिए, मामले की जांच कर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।