Thursday, December 8, 2022

3 मई तक रहेगा लॉकडाउन, प्रधानमंत्री ने की घोषणा

नई दिल्ली– प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 3 मई तक लॉकडाउन बढ़ाने का ऐलान किया.. प्रधानमंत्री ने कहा उसी सख्ती से लाकडाउन पूरे देश में जारी रहेगा, जिसके लिए सरकार कल एक विस्तृत गाइडलाइन जारी करेगी। उन्होंने कहा, कि कई राज्यों ने पहले ही लॉकडाउन का ऐलान कर चुकी है। अभी की स्थिति में विशेषज्ञ मानते हैं कि लॉकडाउन ही एकमात्र उपाय है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा- इसलिए हमें हॉस्पॉट्स को लेकर बहुत ज्यादा सतर्कता बरतनी होगी. जिन स्थानों के हॉस्पॉट में बदलने की आशंका है उस पर भी हमें कड़ी नजर रखनी होगी. नए हॉस्पॉट्स का बनना, हमारे परिश्रम और हमारी तपस्या को और चुनौती देगा. अगले एक सप्ताह में कोरोना के खिलाफ लड़ाई में कठोरता और ज्यादा बढ़ाई जाएगी। 20 अप्रैल तक हर कस्बे, हर थाने, हर जिले, हर राज्य को परखा जाएगा, वहां लॉकडाउन का कितना पालन हो रहा है, उस क्षेत्र ने कोरोना से खुद को कितना बचाया है, ये देखा जाएगा. जो क्षेत्र इस अग्निपरीक्षा में सफल होंगे, जो हॉटस्पॉट में नहीं होंगे, और जिनके हॉटस्पॉट में बदलने की आशंका भी कम होगी, वहां पर 20 अप्रैल से कुछ जरूरी गतिविधियों की अनुमति दी जा सकती है।

पीएम मोदी ने इन सात बातों में मांगा लोगों का साथ

  1. बुजुर्गों का विशेष ध्यान रखना है जो कि बीमार हैं।
  2. लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग की लक्ष्मण रेखा का पालन करें।
  3. इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए आयुष मंत्रालय के निर्देशों का पालन करें।
  4. कोरोना संक्रमण का फैलाव रोकने के लिए आरोग्य सेतू मोबाइल जरूर डाउनलोड करें।
  5. जितना हो सके उतने गरीब परिवारों की देखभाल करें।
  6. अपने व्यवसाय में काम करने वाले लोगों के प्रति संवेदना रखें।
  7. देश के कोराना योद्धा डॉक्टर, नर्स, पुलिस सभी का सम्मान करें।
GiONews Team
Editor In Chief

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

नई दिल्ली– प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 3 मई तक लॉकडाउन बढ़ाने का ऐलान किया.. प्रधानमंत्री ने कहा उसी सख्ती से लाकडाउन पूरे देश में जारी रहेगा, जिसके लिए सरकार कल एक विस्तृत गाइडलाइन जारी करेगी। उन्होंने कहा, कि कई राज्यों ने पहले ही लॉकडाउन का ऐलान कर चुकी है। अभी की स्थिति में विशेषज्ञ मानते हैं कि लॉकडाउन ही एकमात्र उपाय है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा- इसलिए हमें हॉस्पॉट्स को लेकर बहुत ज्यादा सतर्कता बरतनी होगी. जिन स्थानों के हॉस्पॉट में बदलने की आशंका है उस पर भी हमें कड़ी नजर रखनी होगी. नए हॉस्पॉट्स का बनना, हमारे परिश्रम और हमारी तपस्या को और चुनौती देगा. अगले एक सप्ताह में कोरोना के खिलाफ लड़ाई में कठोरता और ज्यादा बढ़ाई जाएगी। 20 अप्रैल तक हर कस्बे, हर थाने, हर जिले, हर राज्य को परखा जाएगा, वहां लॉकडाउन का कितना पालन हो रहा है, उस क्षेत्र ने कोरोना से खुद को कितना बचाया है, ये देखा जाएगा. जो क्षेत्र इस अग्निपरीक्षा में सफल होंगे, जो हॉटस्पॉट में नहीं होंगे, और जिनके हॉटस्पॉट में बदलने की आशंका भी कम होगी, वहां पर 20 अप्रैल से कुछ जरूरी गतिविधियों की अनुमति दी जा सकती है।

पीएम मोदी ने इन सात बातों में मांगा लोगों का साथ

  1. बुजुर्गों का विशेष ध्यान रखना है जो कि बीमार हैं।
  2. लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग की लक्ष्मण रेखा का पालन करें।
  3. इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए आयुष मंत्रालय के निर्देशों का पालन करें।
  4. कोरोना संक्रमण का फैलाव रोकने के लिए आरोग्य सेतू मोबाइल जरूर डाउनलोड करें।
  5. जितना हो सके उतने गरीब परिवारों की देखभाल करें।
  6. अपने व्यवसाय में काम करने वाले लोगों के प्रति संवेदना रखें।
  7. देश के कोराना योद्धा डॉक्टर, नर्स, पुलिस सभी का सम्मान करें।