Friday, August 19, 2022

भाई बहन के अपहरण का मामला फर्जी निकला , गरीब मां हुई परेशान

कोरबा। जिले के कटघोरा में भाई बहन के अपहरण का मामला फर्जी निकला है। किशोरी ने खुद ही अपने अपहरण और बंधक बनाये जाने की झूठी कहानी रची थी। पिछले एक हफ्ते से किशोरी स्कूल नही जा रही थी, जिसकी वजह से उसकी माँ और बुआ ने डांटा था। डांट फटकार किशोरी को इतना नागवार गुजरा कि उसने ऐसी हरकत कर दी।

कटघोरा थाना अंतर्गत आने वाले एक गांव में मुंगगली बेचकर गुजारा करने वाली महिला की 16 वर्षीय पुत्री सोमवार की शाम को माँ की डांट से नाराज होकर कहीं चली गई थी। मंगलवार की सुबह जब वह घर लौटी, तो उसकी माँ और बुआ ने स्कूल नही जाने की बात पर उसे फटकार लगाई थी

इसके बाद किशोरी अपनी बुआ के 3 वर्षीय बेटे के साथ फिर से निकल गई। इस बीच सुबह 11 बजे गांव के ही एक मकान में किशोरी बेहोशी की हालत में मिली। उसके साथ बुआ का लड़का भी था। पुलिस ने किशोरी को कटघोरा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में दाखिल कराया था। पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए अज्ञात आरोपी की खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया था। इस बीच किशोरी के होश में आने से पुलिस ने उससे पूछताछ शुरू की तो गोल-मोल जवाब दे रही थी।

पुलिस ने भी आसपास के सीसीटीवी फुटेज खंगालना शुरू किया। मुरली होटल के संचालक के मकान के लगे सीसीटीवी कैमरे में किशोरी और उसका भाई कमरे में जाते दिखे उनके साथ कोई और नही था। पुलिस ने फिर से पूछताछ शुरू की तो किशोरी ने सच्चाई बयां कर दी। उसने बताया कि क्लास 9 में वह पढ़ती है और उसे स्कूल नही जाने की वजह से अक्सर उसकी माँ डांटती थी। इस बात से नाराज किशोरी भाई के साथ उस मकान के पास जैसे ही पहुँची उसे बोरी और रस्सी दिखा। उसने खुद को रस्सी से पहले बांध लिया और अपने भाई को भी सीखा दिया कि दो युवकों ने उनको यहां लाकर बांधा है ऐसा बोलना है। उसके सिखाये मुताबिक भाई ने भी परिजनों से वही कहा। पुलिस के अधिकारियों का कहना है कि इस मामले में दर्ज किए अपराध को खात्मे में डाल दिया जाएगा

GiONews Team
Editor In Chief

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

कोरबा। जिले के कटघोरा में भाई बहन के अपहरण का मामला फर्जी निकला है। किशोरी ने खुद ही अपने अपहरण और बंधक बनाये जाने की झूठी कहानी रची थी। पिछले एक हफ्ते से किशोरी स्कूल नही जा रही थी, जिसकी वजह से उसकी माँ और बुआ ने डांटा था। डांट फटकार किशोरी को इतना नागवार गुजरा कि उसने ऐसी हरकत कर दी।

कटघोरा थाना अंतर्गत आने वाले एक गांव में मुंगगली बेचकर गुजारा करने वाली महिला की 16 वर्षीय पुत्री सोमवार की शाम को माँ की डांट से नाराज होकर कहीं चली गई थी। मंगलवार की सुबह जब वह घर लौटी, तो उसकी माँ और बुआ ने स्कूल नही जाने की बात पर उसे फटकार लगाई थी

इसके बाद किशोरी अपनी बुआ के 3 वर्षीय बेटे के साथ फिर से निकल गई। इस बीच सुबह 11 बजे गांव के ही एक मकान में किशोरी बेहोशी की हालत में मिली। उसके साथ बुआ का लड़का भी था। पुलिस ने किशोरी को कटघोरा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में दाखिल कराया था। पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए अज्ञात आरोपी की खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया था। इस बीच किशोरी के होश में आने से पुलिस ने उससे पूछताछ शुरू की तो गोल-मोल जवाब दे रही थी।

पुलिस ने भी आसपास के सीसीटीवी फुटेज खंगालना शुरू किया। मुरली होटल के संचालक के मकान के लगे सीसीटीवी कैमरे में किशोरी और उसका भाई कमरे में जाते दिखे उनके साथ कोई और नही था। पुलिस ने फिर से पूछताछ शुरू की तो किशोरी ने सच्चाई बयां कर दी। उसने बताया कि क्लास 9 में वह पढ़ती है और उसे स्कूल नही जाने की वजह से अक्सर उसकी माँ डांटती थी। इस बात से नाराज किशोरी भाई के साथ उस मकान के पास जैसे ही पहुँची उसे बोरी और रस्सी दिखा। उसने खुद को रस्सी से पहले बांध लिया और अपने भाई को भी सीखा दिया कि दो युवकों ने उनको यहां लाकर बांधा है ऐसा बोलना है। उसके सिखाये मुताबिक भाई ने भी परिजनों से वही कहा। पुलिस के अधिकारियों का कहना है कि इस मामले में दर्ज किए अपराध को खात्मे में डाल दिया जाएगा