Sunday, November 27, 2022

मुंगेली कलेक्टर के फरमान से कर्मचारियों में रोष

बिलासपुर– मुंगेली जिला मुख्यालय से बाहर रहने वाले शासकीय अधिकारी व कर्मचारियों की अब खैर नहीं है। मुंगेली कलेक्टर सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने अंतिम चेतावनी देते हुए पत्र जारी किया है। जिसमें बिना अनुमति के अनुपस्थित रहने वालों के विरूद्ध अनुशानात्मक कार्यवाही की चेतावनी दी गई है। इस आदेश से शासकीय कर्मियों में रोष व्याप्त है।

मुंगेली कलेक्टर ने गुरूवार 16 अप्रैल को एक पत्र जारी कर अंतिम चेतावनी दी है। जिसमें कहा गया है, कि अधिकारी एवं कर्मचारियों के मुख्यालय में निवास नहीं करने से कार्यो के संपादन में बाधा उत्पन्न हो रही है। ऐसे में मुख्यालय में रहते हुए कार्यालयीन समय में उपस्थित रहने सुनिश्चित करने को कहा गया है।

तुगलगी फरमान – रोहित तिवारी


छग प्रदेश लिपिक वर्गीय शासकीय कर्म संघ के प्रदेश अध्यक्ष रोहित तिवारी ने मुंगेली कलेक्टर के उक्त आदेश को शासन द्वारा जारी गाईड लाईन के विपरीत बताते हुऐ आदेश को तुगलकी फरमान बताया हैं। जिला के कलेक्ट्रट द्वारा सभी कर्मचारियो को मुख्यालय मे कार्यालयीन समय पर प्रतिदिन उपस्थिति रहने का निर्देश जारी किया गया हैं छग प्रदेश लिपिक वर्गीय शासकीय कर्म संघ के प्रदेश अध्यक्ष रोहित तिवारी ने उक्त आदेश को शासन द्वारा जारी गाईड लाईन के विपरीत बताते हुऐ इस आदेश को तुगलकी फरमान बताया हैं। श्री तिवारी ने बताया कि छग शासन की गाईड लाईन के आधार पर वर्क फ्राम होम के तहत आवश्यकतानुसार ही कर्मचारियो से कार्य लेने के निर्देश हैं। इसके विपरीत मुंगेली कलेक्टर का यह आदेश शासन की जारी गाईडलाईन का उलंघन हैं। मुगेली जिला मुख्यालय मे कार्यरत कर्मचारियो के लिए पर्याप्त आवास सुविधा ना होने के कारण अधिकतर कर्मचारी बिलासपुर या आसपास गांवो से आना जाना करते हैं। ऐसी स्थति में जिला कलेक्टर को कर्मचारियो को स्थायी पास बनाकर देने के निर्देश हैं। जिसका पालन भी मुंगेली कलेक्टर ने नही किया है। साथ ही अभी तक मुंगेली के कलेक्टर कार्यालय एवं अन्य कार्यालयों को ना ही सेनेटाईज किया गया और ना ही सुरक्षा हेतु कर्मचारियो को मास्क वितरित किया गया। ऐसी स्थति मे यदि कर्मचारियो को दबाव पूर्वक काम पर बुलाया जाता हैं, तो छग शासन की सोशल डिस्टेंस के माप दंड का पालन कैसे किया जाऐगा। संघ ने छग शासन की गाईड लाईन के अनुरूप ही कर्मचारियो से आवश्कतानुसार कार्य लेने की मांग की है।

GiONews Team
Editor In Chief

68 COMMENTS

  1. Videos for: Türk ifşa sepeti Most Relevant.
    Latest; Most Viewed; Top Rated; Longest; Most Commented;
    Most Favourited; HD. VOLKAN Turkish turk webcam
    cam 31 msn skype 69 ifsa 1:29. 80% 99 738. HD. Bu Kız Felaket!

    Turk Porno Liseli Ifşa Turkish Amateur Snapchat Periscope 2:10.

    77% 80 419.

  2. Spot on with this write-up, I really believe that this site needs a lot more attention. I’ll probably be returning to see more, thanks for the information.

  3. I’m impressed, I must say. Seldom do I encounter a blog that’s equally educative and interesting, and let me tell you, you’ve hit the nail on the head. The issue is something not enough people are speaking intelligently about. I’m very happy that I found this in my search for something regarding this.

  4. Greetings, There’s no doubt that your site might be having web browser compatibility problems. When I look at your site in Safari, it looks fine but when opening in I.E., it has some overlapping issues. I simply wanted to give you a quick heads up! Aside from that, great website!

  5. I blog quite often and I genuinely appreciate your information. The article has truly peaked my interest. I am going to book mark your blog and keep checking for new information about once a week. I subscribed to your Feed as well.

  6. Howdy! I could have sworn I’ve visited your blog before but after looking at some of the posts I realized it’s new to me. Regardless, I’m certainly pleased I found it and I’ll be book-marking it and checking back regularly.

  7. I’d like to thank you for the efforts you’ve put in writing this website. I really hope to check out the same high-grade content from you in the future as well. In truth, your creative writing abilities has motivated me to get my own, personal website now ;)

  8. Good post. I learn something new and challenging on websites I stumbleupon every day. It will always be helpful to read articles from other writers and use a little something from their sites.

  9. After checking out a few of the blog posts on your web site, I seriously appreciate your technique of blogging. I saved as a favorite it to my bookmark site list and will be checking back in the near future. Please visit my web site too and let me know what you think.

  10. An impressive share! I have just forwarded this onto a coworker who had been conducting a little research on this. And he actually ordered me lunch due to the fact that I stumbled upon it for him… lol. So allow me to reword this…. Thanks for the meal!! But yeah, thanks for spending time to talk about this matter here on your website.

  11. I truly love your site.. Great colors & theme. Did you create this web site yourself? Please reply back as Iím wanting to create my very own blog and want to know where you got this from or what the theme is named. Many thanks!

  12. An interesting discussion is worth comment. I do think that you ought to publish more on this subject matter, it might not be a taboo matter but generally folks don’t talk about these subjects. To the next! Best wishes!!

  13. Hello, I do think your blog could be having browser compatibility problems. Whenever I look at your blog in Safari, it looks fine but when opening in I.E., it has some overlapping issues. I just wanted to provide you with a quick heads up! Other than that, great website!

  14. Hi there, I do believe your website may be having browser compatibility issues. Whenever I look at your website in Safari, it looks fine but when opening in Internet Explorer, it has some overlapping issues. I just wanted to give you a quick heads up! Besides that, fantastic site!

  15. An outstanding share! I’ve just forwarded this onto a friend who was conducting a little homework on this. And he in fact bought me lunch due to the fact that I found it for him… lol. So let me reword this…. Thank YOU for the meal!! But yeah, thanx for spending time to talk about this issue here on your site.

  16. After I initially left a comment I appear to have clicked on the -Notify me when new comments are added- checkbox and now each time a comment is added I recieve four emails with the same comment. There has to be a way you are able to remove me from that service? Thank you!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

बिलासपुर– मुंगेली जिला मुख्यालय से बाहर रहने वाले शासकीय अधिकारी व कर्मचारियों की अब खैर नहीं है। मुंगेली कलेक्टर सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने अंतिम चेतावनी देते हुए पत्र जारी किया है। जिसमें बिना अनुमति के अनुपस्थित रहने वालों के विरूद्ध अनुशानात्मक कार्यवाही की चेतावनी दी गई है। इस आदेश से शासकीय कर्मियों में रोष व्याप्त है।

मुंगेली कलेक्टर ने गुरूवार 16 अप्रैल को एक पत्र जारी कर अंतिम चेतावनी दी है। जिसमें कहा गया है, कि अधिकारी एवं कर्मचारियों के मुख्यालय में निवास नहीं करने से कार्यो के संपादन में बाधा उत्पन्न हो रही है। ऐसे में मुख्यालय में रहते हुए कार्यालयीन समय में उपस्थित रहने सुनिश्चित करने को कहा गया है।

तुगलगी फरमान – रोहित तिवारी


छग प्रदेश लिपिक वर्गीय शासकीय कर्म संघ के प्रदेश अध्यक्ष रोहित तिवारी ने मुंगेली कलेक्टर के उक्त आदेश को शासन द्वारा जारी गाईड लाईन के विपरीत बताते हुऐ आदेश को तुगलकी फरमान बताया हैं। जिला के कलेक्ट्रट द्वारा सभी कर्मचारियो को मुख्यालय मे कार्यालयीन समय पर प्रतिदिन उपस्थिति रहने का निर्देश जारी किया गया हैं छग प्रदेश लिपिक वर्गीय शासकीय कर्म संघ के प्रदेश अध्यक्ष रोहित तिवारी ने उक्त आदेश को शासन द्वारा जारी गाईड लाईन के विपरीत बताते हुऐ इस आदेश को तुगलकी फरमान बताया हैं। श्री तिवारी ने बताया कि छग शासन की गाईड लाईन के आधार पर वर्क फ्राम होम के तहत आवश्यकतानुसार ही कर्मचारियो से कार्य लेने के निर्देश हैं। इसके विपरीत मुंगेली कलेक्टर का यह आदेश शासन की जारी गाईडलाईन का उलंघन हैं। मुगेली जिला मुख्यालय मे कार्यरत कर्मचारियो के लिए पर्याप्त आवास सुविधा ना होने के कारण अधिकतर कर्मचारी बिलासपुर या आसपास गांवो से आना जाना करते हैं। ऐसी स्थति में जिला कलेक्टर को कर्मचारियो को स्थायी पास बनाकर देने के निर्देश हैं। जिसका पालन भी मुंगेली कलेक्टर ने नही किया है। साथ ही अभी तक मुंगेली के कलेक्टर कार्यालय एवं अन्य कार्यालयों को ना ही सेनेटाईज किया गया और ना ही सुरक्षा हेतु कर्मचारियो को मास्क वितरित किया गया। ऐसी स्थति मे यदि कर्मचारियो को दबाव पूर्वक काम पर बुलाया जाता हैं, तो छग शासन की सोशल डिस्टेंस के माप दंड का पालन कैसे किया जाऐगा। संघ ने छग शासन की गाईड लाईन के अनुरूप ही कर्मचारियो से आवश्कतानुसार कार्य लेने की मांग की है।