Saturday, December 3, 2022

पार्षद की मुर्गा पार्टी.. दोस्तों पर पड़ी भारी.. पुलिस ने पार्षद व उनके साथियों पर दर्ज किया जुर्म..

बिलासपुर- लॉक डाउन के बीच पार्टी मनाना बिल्हा के पार्षद को महंगा पड़ गया। वीडियो और फोटो वायरल होने के बाद पुलिस ने उसके खिलाफ अपराध दर्ज कर लिया है।

जनप्रतिनिधि जिन्हें आम जनता अपना मुखिया मानती है, और सरकार ऐसा मानती है, कि नियमों के पालन में वे जनता के सामने आदर्श प्रस्तुत करेंगे, पर ऐसा नहीं है, बिल्हा नगर पंचायत के वार्ड नंबर 13 भाजपा के पार्षद देवव्रत ने लाक डाउन के दौरान अपने मित्रों को मुर्गा पार्टी के लिए आमंत्रित किया, और मित्रों ने पार्षद के आमंत्रण को स्वीकार कर मुर्गे के साथ शराब की पार्टी भी कर डाली। एक पूर्व जनप्रतिनिधि की शिकायत पर बिल्हा टीआई ने जांच कराई। मामला सही पाए जाने पर पार्टी में शामिल मेहमानों और पार्षद के खिलाफ धारा 188 के तहत अपराध दर्ज कर लिया है।

GiONews Team
Editor In Chief

6 COMMENTS

  1. A systematic review included prospective studies investigating the benefit of endometrial surveillance during tamoxifen therapy stromectol and alcohol To determine the lesion core volume 14 days after cortico striatal stab lesions in GLAST Rasless EYFP animals, five alternate sagittal sections per animal spanning the lesion center and spaced 120 Ојm apart were immunostained for PDGFRОІ, GFAP, and DAPI

  2. Administration Information Instruct patients to take bupropion hydrochloride tablets in equally divided doses 3 or 4 times a day, with doses separated by at least 6 hours to minimize the risk of seizure lasix for dogs said the source

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

बिलासपुर- लॉक डाउन के बीच पार्टी मनाना बिल्हा के पार्षद को महंगा पड़ गया। वीडियो और फोटो वायरल होने के बाद पुलिस ने उसके खिलाफ अपराध दर्ज कर लिया है।

जनप्रतिनिधि जिन्हें आम जनता अपना मुखिया मानती है, और सरकार ऐसा मानती है, कि नियमों के पालन में वे जनता के सामने आदर्श प्रस्तुत करेंगे, पर ऐसा नहीं है, बिल्हा नगर पंचायत के वार्ड नंबर 13 भाजपा के पार्षद देवव्रत ने लाक डाउन के दौरान अपने मित्रों को मुर्गा पार्टी के लिए आमंत्रित किया, और मित्रों ने पार्षद के आमंत्रण को स्वीकार कर मुर्गे के साथ शराब की पार्टी भी कर डाली। एक पूर्व जनप्रतिनिधि की शिकायत पर बिल्हा टीआई ने जांच कराई। मामला सही पाए जाने पर पार्टी में शामिल मेहमानों और पार्षद के खिलाफ धारा 188 के तहत अपराध दर्ज कर लिया है।