Tuesday, September 27, 2022

वैलंटाइन डे पर खुली पोल 61 वर्षीय बुजुर्ग ने 7 राज्याें की 14 महिलाओं से रचाई शादी; शातिर इतना कि दूसरी पत्नियों को भनक तक नहीं लगी….

रायगढ़/राउरकेला: एक ही व्यक्ति द्वारा 7 राज्यों की 14 अलग-अलग जगहों से 14 शादी करने का मामला सामने आया है। ओडिशा के 61 वर्षीय बुजुर्ग रमेश चंद्र स्वांई की पोल वैलेंटाइन डे पर खुल गई। आरोपी पेशे से तथाकथित होम्योपैथी डाॅक्टर है। इस होम्योपैथी डाॅक्टर ने कोलकाता, मुंबई, हैदराबाद, भुवनेश्वर, दिल्ली सहित विभिन्न शहरों की 14 महिलाओं से शादी की है।

इसने विभिन्न आनॅलाइन विवाह वेबसाइटों पर हाईप्रोफाइल बैकग्राउंड वाली अपनी कई प्रोफाइल बनाई हैं। इन फर्जी प्रोफाइल का इस्तेमाल कर वह देशभर की महिलाओं को फंसाया करता था। जैसे ही महिलाएं उसके झांसे में आती थी वह उनसे शादी कर लेता था। किसी मामले में संदेह होने से पहले ही वह उनकी धन दौलत लूटकर वहां से फरार हो जाता था।

गाड़ी में लालबत्ती लगा लेता था सेल्फी फिर सोशल साइट पर करता था पोस्ट
इन 14 पत्नियों में डॉक्टर, वकील एवं माॅडल भी शामिल हैं। इसके पांच बेटे भी हैं। रमेश 2002 से 2019 तक ऑनलाइन शादी की वेबसाइटों को सर्च किया करता था। महिलाओं का विश्वास जीतकर खुद को डॉक्टर बताकर शादी कर लेता था। वहीं आर्थिक संबल महिलाओं को लूटना इसका मुख्य उद्देश्य है। बिहार के एक स्कूल के सर्टिफिकेट पर अपनी फोटो दिखाता था।

इसके अलावा गाड़ी में लालबत्ती व नेम प्लेट लगाकर फोटो विभिन्न सोशल साइट पर डालता था। जिस महिला को इस पर संदेह होता तो उसके साथ संपर्क बंद कर देता था। इस संबंध में भुवनेश्वर के डीआईजी उमाशंकर दास ने कहा कि बेहतर जांच के लिए एक विशेष टीम बनाई जाएगी। इसके साथ ही आरोपी ने और कितनी महिलाओं को ठगा या शादी की है। इस संबंध में जांच की जाएगी।

शातिर इतना कि दूसरी पत्नियों को भनक नहीं
आरोपी का घर ओडिशा के केन्द्रापड़ा जिले के भगवानपुर में है। पुलिस ने उसके पास से 11 एटीएम कार्ड, 4 आधार कार्ड, अलग-अलग परिचय पत्र, एक कार एवं कई कागजात जब्त किया है। आरोपी ने खुद को डाॅक्टर बताकर पिछले लगभग 20 साल में 7 राज्य में 14 शादियां की हैं। इसके अलावा रमेश पर 2018 में एक महिला से 10 लाख ठगी का भी आरोप है। आरोपी इतना शातिर है कि दूसरी पत्नियों को एक-दूसरे के बारे में पता नहीं लगने देता था।

2011 में भी पकड़ा जा चुका है रमेश
एक पत्‍नी को संदेह होने पर 2021 में रमेश के खिलाफ महिला थाना भुवनेश्वर में शिकायत दर्ज कराई थी। पुलिस ने शिकायत के आधार पर रमेश को सोमवार को वेलेंटाइन डे के दिन ही गिरफ्तार कर लिया है। इस दौरान पता चला कि आंध्रप्रदेश पुलिस ने भी वर्ष 2011 में इसे गिरफ्तार किया था। भुवनेश्वर के डीआईजी उमाशंकर दास ने कहा कि रमेश सबसे ज्यादा असम में रहा है।

हम इसकी 14 पत्नियों में से 9 पत्नियों से पहले ही संपर्क कर चुके हैं। इसकी आर्थिक स्थिति की जांच की जा रही है, ताकि यह पता लगाया जा सके कि उसने इस तरह का झांसा देकर कितना पैसा लूटा है। आरोपी पर विवाह के नाम पर लाखों ठगी करने का भी आरोप है। रमेश मुख्य रूप से उन महिलाओं को निशाना बनाता है जिन पर भरोसा करने वाला कोई नहीं रहता।

GiONews Team
Editor In Chief

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

रायगढ़/राउरकेला: एक ही व्यक्ति द्वारा 7 राज्यों की 14 अलग-अलग जगहों से 14 शादी करने का मामला सामने आया है। ओडिशा के 61 वर्षीय बुजुर्ग रमेश चंद्र स्वांई की पोल वैलेंटाइन डे पर खुल गई। आरोपी पेशे से तथाकथित होम्योपैथी डाॅक्टर है। इस होम्योपैथी डाॅक्टर ने कोलकाता, मुंबई, हैदराबाद, भुवनेश्वर, दिल्ली सहित विभिन्न शहरों की 14 महिलाओं से शादी की है।

इसने विभिन्न आनॅलाइन विवाह वेबसाइटों पर हाईप्रोफाइल बैकग्राउंड वाली अपनी कई प्रोफाइल बनाई हैं। इन फर्जी प्रोफाइल का इस्तेमाल कर वह देशभर की महिलाओं को फंसाया करता था। जैसे ही महिलाएं उसके झांसे में आती थी वह उनसे शादी कर लेता था। किसी मामले में संदेह होने से पहले ही वह उनकी धन दौलत लूटकर वहां से फरार हो जाता था।

गाड़ी में लालबत्ती लगा लेता था सेल्फी फिर सोशल साइट पर करता था पोस्ट
इन 14 पत्नियों में डॉक्टर, वकील एवं माॅडल भी शामिल हैं। इसके पांच बेटे भी हैं। रमेश 2002 से 2019 तक ऑनलाइन शादी की वेबसाइटों को सर्च किया करता था। महिलाओं का विश्वास जीतकर खुद को डॉक्टर बताकर शादी कर लेता था। वहीं आर्थिक संबल महिलाओं को लूटना इसका मुख्य उद्देश्य है। बिहार के एक स्कूल के सर्टिफिकेट पर अपनी फोटो दिखाता था।

इसके अलावा गाड़ी में लालबत्ती व नेम प्लेट लगाकर फोटो विभिन्न सोशल साइट पर डालता था। जिस महिला को इस पर संदेह होता तो उसके साथ संपर्क बंद कर देता था। इस संबंध में भुवनेश्वर के डीआईजी उमाशंकर दास ने कहा कि बेहतर जांच के लिए एक विशेष टीम बनाई जाएगी। इसके साथ ही आरोपी ने और कितनी महिलाओं को ठगा या शादी की है। इस संबंध में जांच की जाएगी।

शातिर इतना कि दूसरी पत्नियों को भनक नहीं
आरोपी का घर ओडिशा के केन्द्रापड़ा जिले के भगवानपुर में है। पुलिस ने उसके पास से 11 एटीएम कार्ड, 4 आधार कार्ड, अलग-अलग परिचय पत्र, एक कार एवं कई कागजात जब्त किया है। आरोपी ने खुद को डाॅक्टर बताकर पिछले लगभग 20 साल में 7 राज्य में 14 शादियां की हैं। इसके अलावा रमेश पर 2018 में एक महिला से 10 लाख ठगी का भी आरोप है। आरोपी इतना शातिर है कि दूसरी पत्नियों को एक-दूसरे के बारे में पता नहीं लगने देता था।

2011 में भी पकड़ा जा चुका है रमेश
एक पत्‍नी को संदेह होने पर 2021 में रमेश के खिलाफ महिला थाना भुवनेश्वर में शिकायत दर्ज कराई थी। पुलिस ने शिकायत के आधार पर रमेश को सोमवार को वेलेंटाइन डे के दिन ही गिरफ्तार कर लिया है। इस दौरान पता चला कि आंध्रप्रदेश पुलिस ने भी वर्ष 2011 में इसे गिरफ्तार किया था। भुवनेश्वर के डीआईजी उमाशंकर दास ने कहा कि रमेश सबसे ज्यादा असम में रहा है।

हम इसकी 14 पत्नियों में से 9 पत्नियों से पहले ही संपर्क कर चुके हैं। इसकी आर्थिक स्थिति की जांच की जा रही है, ताकि यह पता लगाया जा सके कि उसने इस तरह का झांसा देकर कितना पैसा लूटा है। आरोपी पर विवाह के नाम पर लाखों ठगी करने का भी आरोप है। रमेश मुख्य रूप से उन महिलाओं को निशाना बनाता है जिन पर भरोसा करने वाला कोई नहीं रहता।