Thursday, December 8, 2022

शराब के नशे में चूर दो पुलिसकर्मियों ने गांव में मचाया उत्पात.. ग्रामीणों की शिकायत पर गिरफ्तार..

बिलासपुर– शराब के नशे में दो पुलिसकर्मियों ने रतनपुर क्षेत्र के खैरा में जमकर उत्पात मचाया। ग्रामीणों की शिकायत पर रतनपुर पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर कार्रवाई की। इनमे से एक आईजी दफ्तर में एएसआई है, और दूसरा आरक्षक।

रतनपुर के पास खैरा गांव में सोमवार शाम को दो व्यक्ति कार में सवार होकर पहुंचे, इनमें से एक पुलिस की वर्दी में था। शराब के नशे में चूर दोनों पुलिसकर्मियो ने एक युवक का शर्ट फाड़ दिया, और उससे वे अपनी गाड़ी पोंछने लगे। इसके बाद गांव के ही एक अन्य युवक प्रीतम का मोबाइल दोनों ने लूट लिया। जब प्रीतम की मां मौके पर पहुंचकर हंगामा मचाने लगी, तो किसी तरह दोनों ने प्रीतम को उसका मोबाइल वापस किया।

इन दोनों की हरकतों से परेशान ग्रामीणों ने संदेह होने पर रतनपुर पुलिस को सूचना दी। रतनपुर थाना प्रभारी मौके पर पहुंचे, और दोनों की कुंडली खंगाली जाने लगी। कहते हैं रतनपुर पुलिस ने ग्रामीणों को बताया कि यह दोनों बिलासपुर आईजी कार्यालय में कार्यरत हैं।

इधर ग्रामीणों ने पूरे घटनाक्रम की वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर दी। जिसके बाद बिलासपुर से लेकर रतनपुर तक हंगामा मच गया। रतनपुर पुलिस ने पूछताछ की, तो पता चला, कि इनमें से एक आईजी दफ्तर में पदस्थ एएसआई (एम) प्रेम उपाध्याय और दूसरा आरक्षक दिलीप तिवारी है। दोनों के खिलाफ धारा 188 व आबकारी एक्ट के तहत कार्रवाई की गई।

GiONews Team
Editor In Chief

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

बिलासपुर– शराब के नशे में दो पुलिसकर्मियों ने रतनपुर क्षेत्र के खैरा में जमकर उत्पात मचाया। ग्रामीणों की शिकायत पर रतनपुर पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर कार्रवाई की। इनमे से एक आईजी दफ्तर में एएसआई है, और दूसरा आरक्षक।

रतनपुर के पास खैरा गांव में सोमवार शाम को दो व्यक्ति कार में सवार होकर पहुंचे, इनमें से एक पुलिस की वर्दी में था। शराब के नशे में चूर दोनों पुलिसकर्मियो ने एक युवक का शर्ट फाड़ दिया, और उससे वे अपनी गाड़ी पोंछने लगे। इसके बाद गांव के ही एक अन्य युवक प्रीतम का मोबाइल दोनों ने लूट लिया। जब प्रीतम की मां मौके पर पहुंचकर हंगामा मचाने लगी, तो किसी तरह दोनों ने प्रीतम को उसका मोबाइल वापस किया।

इन दोनों की हरकतों से परेशान ग्रामीणों ने संदेह होने पर रतनपुर पुलिस को सूचना दी। रतनपुर थाना प्रभारी मौके पर पहुंचे, और दोनों की कुंडली खंगाली जाने लगी। कहते हैं रतनपुर पुलिस ने ग्रामीणों को बताया कि यह दोनों बिलासपुर आईजी कार्यालय में कार्यरत हैं।

इधर ग्रामीणों ने पूरे घटनाक्रम की वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर दी। जिसके बाद बिलासपुर से लेकर रतनपुर तक हंगामा मच गया। रतनपुर पुलिस ने पूछताछ की, तो पता चला, कि इनमें से एक आईजी दफ्तर में पदस्थ एएसआई (एम) प्रेम उपाध्याय और दूसरा आरक्षक दिलीप तिवारी है। दोनों के खिलाफ धारा 188 व आबकारी एक्ट के तहत कार्रवाई की गई।