Tuesday, December 6, 2022

शहर के ब्लड बैंकों में ब्लड की कमी, सामाजिक संस्था जज़्बा ने की ब्लड डोनेट करने की अपील

बिलासपुर– सामाजिक संस्था जज़्बा एजुकेशन एंड वेलफेयर सोसायटी द्वारा रक्तमित्र के तहत शहर के स्वैच्छिक रक्तदाताओं से अपील की है, कि शहर के सभी ब्लड बैंकों में ब्लड खत्म होने की कगार पर है,
सामान्य ब्लड ग्रुप मिल पाने में भी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है।
बिलासपुर शहर में 130 थैलेसीमिया पीड़ित मरीज़ , 50 के आसपास सिकलसेल पीड़िता मरीज़ , कैंसर पीड़ित मरीज़ हैं जिन्हें हर महीने ब्लड की आवश्यकता होती है , ये लोग स्वैच्छिक रक्तदाताओं पर निर्भर जीवन जीते हैं।
बिलासपुर शहर में 6 ब्लड बैंक हैं
प्रतिदिन शहर में करीब 100 से 110 यूनिट्स की आवश्यकता विभिन्न प्रकार के मरीज़ों के लिए उपरोक्त मरीज़ों सहित पैड रही है।
इसमें ग्रामीण मरीज़ों के लिए जब ब्लड की ज़रूरत पड़ती है तब रिप्लेसमेंट डोनर या तो लॉकडाउन की वजह से शहर नहीं आ पा रहे , या कोरोना महामारी की वजह से डरे हुवे हैं।
यानी सीधे तौर पर देखा जाए तो ब्लड की आवश्यकता के अनुसार डोनेशन केवल 50% और किसी किसी दिन इस से भी कम हो जाता है !
बिलासपुर जिला पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल से जज़्बा के संयोजक संजय मतलानी ने सहायता मांगी है, जिस से जज़्बा को यह अनुमति मिल सकी है, कि वो शहर के सभी ब्लड बैंकों तक डोनर को पहुचाने , रक्तदान करवाने , मरीज़ तक ब्लड पहुंचाने जैसे कार्य इस लॉकडाउन के दौरान कर सकते हैं !
संजय मतलानी ने शहर के स्वैच्छिक रक्तदाताओं से अपील की है कि यदि कोई रक्तदान करना चाहते हैं तो वो बेफिक्र होकर उनसे संपर्क कर सकते हैं, उन्हें घर से लेने व वापस घर तक छोड़ने की ज़िम्मेदारी संस्था उठाएगी !
साथ ही हर ब्लड डोनर को सम्मानित करते हुवे प्रशंसा पत्र , फेस मास्क , सैनिटाइजर , इत्यादि उपहार स्वरूप भी प्रदान किया जाएगा !
रक्तदान के इच्छुक इन नंबरों पर कॉल कर सकते हैं जिस से एमरजेंसी में उनसे संपर्क किया जा सके
9617741111
7566666145
7803007135
7000761942
8103625383

GiONews Team
Editor In Chief

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

बिलासपुर– सामाजिक संस्था जज़्बा एजुकेशन एंड वेलफेयर सोसायटी द्वारा रक्तमित्र के तहत शहर के स्वैच्छिक रक्तदाताओं से अपील की है, कि शहर के सभी ब्लड बैंकों में ब्लड खत्म होने की कगार पर है,
सामान्य ब्लड ग्रुप मिल पाने में भी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है।
बिलासपुर शहर में 130 थैलेसीमिया पीड़ित मरीज़ , 50 के आसपास सिकलसेल पीड़िता मरीज़ , कैंसर पीड़ित मरीज़ हैं जिन्हें हर महीने ब्लड की आवश्यकता होती है , ये लोग स्वैच्छिक रक्तदाताओं पर निर्भर जीवन जीते हैं।
बिलासपुर शहर में 6 ब्लड बैंक हैं
प्रतिदिन शहर में करीब 100 से 110 यूनिट्स की आवश्यकता विभिन्न प्रकार के मरीज़ों के लिए उपरोक्त मरीज़ों सहित पैड रही है।
इसमें ग्रामीण मरीज़ों के लिए जब ब्लड की ज़रूरत पड़ती है तब रिप्लेसमेंट डोनर या तो लॉकडाउन की वजह से शहर नहीं आ पा रहे , या कोरोना महामारी की वजह से डरे हुवे हैं।
यानी सीधे तौर पर देखा जाए तो ब्लड की आवश्यकता के अनुसार डोनेशन केवल 50% और किसी किसी दिन इस से भी कम हो जाता है !
बिलासपुर जिला पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल से जज़्बा के संयोजक संजय मतलानी ने सहायता मांगी है, जिस से जज़्बा को यह अनुमति मिल सकी है, कि वो शहर के सभी ब्लड बैंकों तक डोनर को पहुचाने , रक्तदान करवाने , मरीज़ तक ब्लड पहुंचाने जैसे कार्य इस लॉकडाउन के दौरान कर सकते हैं !
संजय मतलानी ने शहर के स्वैच्छिक रक्तदाताओं से अपील की है कि यदि कोई रक्तदान करना चाहते हैं तो वो बेफिक्र होकर उनसे संपर्क कर सकते हैं, उन्हें घर से लेने व वापस घर तक छोड़ने की ज़िम्मेदारी संस्था उठाएगी !
साथ ही हर ब्लड डोनर को सम्मानित करते हुवे प्रशंसा पत्र , फेस मास्क , सैनिटाइजर , इत्यादि उपहार स्वरूप भी प्रदान किया जाएगा !
रक्तदान के इच्छुक इन नंबरों पर कॉल कर सकते हैं जिस से एमरजेंसी में उनसे संपर्क किया जा सके
9617741111
7566666145
7803007135
7000761942
8103625383