Thursday, December 8, 2022

स्कूली बच्चों के राशन पर मारी डंडी, कलेक्टर ने दो प्रधान पाठकों को किया सस्पेंड, बीईओ को भेजा नोटिस

बिलासपुर– गौरेला पेंड्रा मरवाही जिले की कलेक्टर शिखा राजपूत तिवारी ने दो शिक्षकों को निलंबित किया है, वही बीईओ को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। ये कार्रवाई जिले के अंतिम छोर पर बसे गांव उषाढ़ गांव के स्कूल के प्रधान पाठक बच्चों के राशन पर डंडी मारने पर की गई।

कोरोना संक्रमण के लाॅकडाउन के दौरान गांवों की स्थिति का जायजा लेने के लिए कलेक्टर शिखा राजपूत तिवारी जिले के आखिरी छोर तक के गांव पहुंची, तो कोरिया जिले की सीमा से लगने वाले उशाढ़ गांव में उन्होंने राशन दुकानों का निरीक्षण किया। वहीं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने का निर्देश दिया। इसके बाद यहां बालक और कन्या माध्यमिक शालाओं के बच्चों को दिए जाने वाले 40 दिनों का मध्यान्ह भोजन की जानकारी ली। इस दौरान पता चला, कि यहां के प्रधान पाठकों द्वारा कोरोना प्रभावित अवधि में निर्धारित मात्रा से भी कम चावल दिया जा रहा था।

कलेक्टर को मात्रा कम होने की आशंका हुई, तो डीईओ से इसे अपने सामने तौलवाया तो मात्रा काफी कम मिली, जिसके बाद नाराज कलेक्टर शिखा राजपूत तिवारी ने दोनों स्कूल के प्रधान पाठकों लखन लाल और सुशील राय को तत्काल निलंबित कर दिया, वहीं इस मामले में मरवाही बीईओ रामसिंह परस्ते को कारण बताओ नोटिस जारी किया है।

GiONews Team
Editor In Chief

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

बिलासपुर– गौरेला पेंड्रा मरवाही जिले की कलेक्टर शिखा राजपूत तिवारी ने दो शिक्षकों को निलंबित किया है, वही बीईओ को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। ये कार्रवाई जिले के अंतिम छोर पर बसे गांव उषाढ़ गांव के स्कूल के प्रधान पाठक बच्चों के राशन पर डंडी मारने पर की गई।

कोरोना संक्रमण के लाॅकडाउन के दौरान गांवों की स्थिति का जायजा लेने के लिए कलेक्टर शिखा राजपूत तिवारी जिले के आखिरी छोर तक के गांव पहुंची, तो कोरिया जिले की सीमा से लगने वाले उशाढ़ गांव में उन्होंने राशन दुकानों का निरीक्षण किया। वहीं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने का निर्देश दिया। इसके बाद यहां बालक और कन्या माध्यमिक शालाओं के बच्चों को दिए जाने वाले 40 दिनों का मध्यान्ह भोजन की जानकारी ली। इस दौरान पता चला, कि यहां के प्रधान पाठकों द्वारा कोरोना प्रभावित अवधि में निर्धारित मात्रा से भी कम चावल दिया जा रहा था।

कलेक्टर को मात्रा कम होने की आशंका हुई, तो डीईओ से इसे अपने सामने तौलवाया तो मात्रा काफी कम मिली, जिसके बाद नाराज कलेक्टर शिखा राजपूत तिवारी ने दोनों स्कूल के प्रधान पाठकों लखन लाल और सुशील राय को तत्काल निलंबित कर दिया, वहीं इस मामले में मरवाही बीईओ रामसिंह परस्ते को कारण बताओ नोटिस जारी किया है।