Wednesday, August 10, 2022

हत्या की सज़ा मिली, तो बौखलाए आरोपियों ने पुलिस, वकील और मीडिया को धमकाया

बिलासपुर– सिंधी कॉलोनी में हत्या की वारदात को अंजाम देने वाले 6 आरोपियों को कोर्ट ने उम्र कैद की सजा सुनाई है। सिंधी कॉलोनी की बहुचर्चित हत्याकांड अमित नंदवानी उर्फ पुच्ची के दोषियों को जिला न्यायालय ने उम्रकैद की सजा सुनाई, तो रईसजादे आरोपी मीडिया, पुलिस और सरकारी वकील पर अपनी भड़ास निकालने लगे, कोर्ट के बाहर आते ही आरोपी अपने परिजनों को देख उनका हौसला बढ़ गया, और उन्होंने सबको देख लेने की धमकी दी, जिसकी वजह से कोर्ट परिसर में भीड़ लग गई, पुलिस उन्हें जेल लेकर गई, तो मामला शांत हुआ।

आरोपियों ने कोर्ट परिसर में धमकाया

जरा इस वीडियो को देखिए..इसमें कैसे आरोपी सबको देख लेने की बात कह रहा है, शायद इसी सनक की वजह से ही 4 अगस्त 2018 को अमित नंदवानी उर्फ पुच्ची को बड़ी ही बेरहमी से इन 6 युवकों ने मौत के घाट उतार दिया था। जिसमें लखमा ढीमर, सनी, सुनील समेत कुल 6 आरोपी थे।

इन आरोपियों की हेकड़ी निकालने ही घटना के बाद पकड़े जाने पर तत्कालीन एडिशनल एसपी नीरज चंद्राकर और तत्कालीन सिविल लाइन थाना प्रभारी नसर सिद्दीकी ने सिंधी कालोनी में उनकी रैली निकालकर खूब खातिरदारी की थी, फिर जेल भेजे गए। अब अदालत ने सज़ा सुनाई, तो आरोपी मीडिया, पुलिस और सरकारी वकील को धमकाने लगे। सज़ा सुनाए जाने के बाद आरोपियों ने कोर्ट से निकलते हुए पहले तो सरकारी वकील को देख लेने की बात कही, फिर जिन पुलिसवालों ने उनके खिलाफ बयान दिया है, उन्हें निपटाने की बात कहने लगे। इन रईसजादों ने मीडिया को भी धमकाया, और जेल से बाहर आने या इनमें से किसी के जेल आने पर सबको देख लेने की बात कहकर धमकाता रहा। जिससे कोर्ट परिसर में माहौल गरमा गया, किसी तरह पुलिस उन्हें लेकर जेल के लिए निकली, तो मामला शांत हुआ।

पुलिस ने जब उन्हें जेल ले जाने के लिए वाहन में बैठाया, तो आरोपी चिल्लाकर गाली-गलौच करते रहे, जिससे कोर्ट परिसर में उपस्थित लोग सोच में पड़ गए, कि जेल में रहकर भी आरोपियों की हेकड़ी अब तक नही निकली!!

GiONews Team
Editor In Chief

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

बिलासपुर– सिंधी कॉलोनी में हत्या की वारदात को अंजाम देने वाले 6 आरोपियों को कोर्ट ने उम्र कैद की सजा सुनाई है। सिंधी कॉलोनी की बहुचर्चित हत्याकांड अमित नंदवानी उर्फ पुच्ची के दोषियों को जिला न्यायालय ने उम्रकैद की सजा सुनाई, तो रईसजादे आरोपी मीडिया, पुलिस और सरकारी वकील पर अपनी भड़ास निकालने लगे, कोर्ट के बाहर आते ही आरोपी अपने परिजनों को देख उनका हौसला बढ़ गया, और उन्होंने सबको देख लेने की धमकी दी, जिसकी वजह से कोर्ट परिसर में भीड़ लग गई, पुलिस उन्हें जेल लेकर गई, तो मामला शांत हुआ।

आरोपियों ने कोर्ट परिसर में धमकाया

जरा इस वीडियो को देखिए..इसमें कैसे आरोपी सबको देख लेने की बात कह रहा है, शायद इसी सनक की वजह से ही 4 अगस्त 2018 को अमित नंदवानी उर्फ पुच्ची को बड़ी ही बेरहमी से इन 6 युवकों ने मौत के घाट उतार दिया था। जिसमें लखमा ढीमर, सनी, सुनील समेत कुल 6 आरोपी थे।

इन आरोपियों की हेकड़ी निकालने ही घटना के बाद पकड़े जाने पर तत्कालीन एडिशनल एसपी नीरज चंद्राकर और तत्कालीन सिविल लाइन थाना प्रभारी नसर सिद्दीकी ने सिंधी कालोनी में उनकी रैली निकालकर खूब खातिरदारी की थी, फिर जेल भेजे गए। अब अदालत ने सज़ा सुनाई, तो आरोपी मीडिया, पुलिस और सरकारी वकील को धमकाने लगे। सज़ा सुनाए जाने के बाद आरोपियों ने कोर्ट से निकलते हुए पहले तो सरकारी वकील को देख लेने की बात कही, फिर जिन पुलिसवालों ने उनके खिलाफ बयान दिया है, उन्हें निपटाने की बात कहने लगे। इन रईसजादों ने मीडिया को भी धमकाया, और जेल से बाहर आने या इनमें से किसी के जेल आने पर सबको देख लेने की बात कहकर धमकाता रहा। जिससे कोर्ट परिसर में माहौल गरमा गया, किसी तरह पुलिस उन्हें लेकर जेल के लिए निकली, तो मामला शांत हुआ।

पुलिस ने जब उन्हें जेल ले जाने के लिए वाहन में बैठाया, तो आरोपी चिल्लाकर गाली-गलौच करते रहे, जिससे कोर्ट परिसर में उपस्थित लोग सोच में पड़ गए, कि जेल में रहकर भी आरोपियों की हेकड़ी अब तक नही निकली!!