Tuesday, December 6, 2022

हवाई सेवा की मांग को लेकर चल रहे धरना प्रदर्शन के 100 दिन..समिति के सदस्यों की भूख हड़ताल..केक काटा..फिर देशभक्ति गीतों ने बांधा समां

बिलासपुर– बीते 26 अक्टूबर को प्रारंभ हुए हवाई सेवा अखंड धरना आंदोलन के आज 100 दिन पूरे हो गए। इस मौके पर समिति के 10 सदस्यों ने भूख हड़ताल करते हुए केंद्र सरकार को चेतावनी दी, कि बिलासपुर की मांग को शीघ्र पूरा किया जाए, अन्यथा आंदोलन को और तेज किया जाएगा।

गौरतलब है, कि बिलासपुर से महानगरों तक सीधी हवाई सेवा की मांग को लेकर अखण्ड धरना आंदोलन किया जा रहा है, राघवेन्द्र राव सभा भवन में आयोजित इस धरना प्रदर्शन को आज 100 दिन हो गए, इस दौरान आंदोलन ने कई पड़ाव पार किए हैं, आंदोलन के एक माह पूरा होने पर गांधी चौक से नेहरू चौक तक वृहद मौन रैली निकाली गई। 2 माह बीत जाने पर समिति ने धरना स्थल से रिवर व्यू तक कैंडल मार्च का आयोजन किया था। 75 दिन होने पर सर्वधर्म प्रार्थना सभा की गई थी।

इस आंदोलन में आज तक 270 से अधिक विभिन्न समितियां एवं संगठन आंदोलन में भाग ले चुके हैं। जिसमें बिलासपुर के अलावा तखतपुर, मुंगेली, पंडरिया, बिल्हा, चकरभाठा, मस्तूरी आदि की समितियां व संघ शामिल हैं।

इस आंदोलन के प्रभाव से 29 नवंबर को सर्वप्रथम विधानसभा में लोरमी के विधायक धर्मजीत सिंह द्वारा प्रशासकीय संकल्प पेश किया गया, जिसे अन्य सभी विधायकों के साथ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा भी समर्थन दिया गया, साथ ही छत्तीसगढ़ सरकार के द्वारा ₹27 करोड़ की राशि बिलासपुर चकरभाठा हवाई अड्डे के विकास के लिए घोषित की गई। जिसकी प्रशासकीय स्वीकृति 6 जनवरी को कलेक्टर बिलासपुर को प्राप्त हो गई है। इस राशि से ₹5 करोड़ को प्रदाय किए गए हैं, जिससे बिलासपुर हवाई अड्डे को 3 सी कैटेगरी में बदलने के सभी आवश्यक कार्य कराए जाने का टेंडर भी जारी कर दिया गया है, जो कि 4 फरवरी को खोला जाएगा। इस आंदोलन के चलते उच्च न्यायालय के द्वारा भी निराकृत की गई जनहित याचिकाओं को पुनर्जीवित कर पुनः नोटिस जारी कर दिया गया है।

आज पूरे दिन समिति के बद्री यादव, मनोज श्रीवास, समीर अहमद, गौरव अग्रवाल, धर्मेंद्र चंद्राकर, राघवेंद्र सिंह, राकेश तिवारी, डॉ तरुण तिवारी, जितेंद्र चौबे और सुदीप श्रीवास्तव दिनभर भूख हड़ताल पर बैठे। वहीं रोज की तरह 100 वें दिन धरना आंदोलन भी जारी रहा, जिसमें वार्ड क्रमांक 21, ब्लॉक कांग्रेस क्रमांक 2 और गुरु घासीदास विश्वविद्यालय के नवनिर्वाचित छात्र परिषद के सदस्य धरने पर बैठे। बिलासपुर के महापौर रामशरण यादव भी आज एक बार फिर धरना आंदोलन में भाग लिया, और बिलासपुर में हवाई सेवा शुरू करने की मांग दोहराई।

सभा को संबोधित करते हुए अटल श्रीवास्तव, अभय नारायण राय, राकेश शर्मा, महेश दुबे, देवेंद्र सिंह, धर्मेश शर्मा, रविंद्र सिंह, अशोक भंडारी, प्रमोद नायक, पंकज सिंह, तैयब हुसैन, बृजेश साहू, गोपाल दुबे, केशव गोरख, संजय पिल्ले, जावेद मेमन और डॉक्टर रमन जोगी ने एक स्वर में यह मांग की, कि शीघ्र ही बिलासपुर से महानगरों तक हवाई सेवा का संचालन शुरू किया जाए। सभी ने एक स्वर में चेतावनी देते हुए कहा, कि इस मांग को और अधिक विलंब नहीं किया जाना चाहिए, अन्यथा उग्र आंदोलन होने की संभावना है।

आज के आंदोलन में जीजीयू छात्र परिषद के अध्यक्ष सचिन गुप्ता, उपाध्यक्ष दिनेश साहू, सचिव रेणुका पांडेय समेत सूर्य प्रकाश माली, यश कलवानी, मातृका साहू, धनंजय मैत्री, संकल्प पांडे समेत सभी अन्य छात्र शामिल रहे।

वार्ड क्रमांक 21 से जावेद अली, विनय जांगड़े, गिरवर जोशी, लल्ला सोनी, निर्मल मानिकपुरी, मनीष श्रीवास्तव, अभिषेक रजक, अमित नागदेव, शबाब अली, सोहेल अहमद, बबलू पुरी, शेख मोइनुद्दीन, नवाब खान, पंचराम सूर्यवंशी, गणेश रजक, नरेश यादव, अमित दुबे, रंजीत सिंह, गणेश, संदीप, ऋषि केशरी, रीवा नायडू, विनय बेदी, शुभम गड़ा, आशीष लहरिया, शांतनु मेश्राम, रेहान रजा, संतोष पीपलवा, प्रशांत पांडे, अमित खान, नाजिम खान और अभिषेक चौबे शामिल हुए। कल 101 में दिन धरना आंदोलन में युवा कांग्रेस बिलासपुर शहर धरने पर बैठेगी।

केक काटा गया, देशभक्ति गीतों का कार्यक्रम

शाम को समिति के सदस्यों द्वारा आंदोलन के 100 दिन पूरे होने पर केक काटा, और उसके पश्चात अंचल शर्मा ग्रुप द्वारा सहयोग के रूप में देशभक्ति गीतों का कार्यक्रम आंदोलन के समर्थन में आयोजित किया गया, करीब 2 घंटे चले इस आयोजन में बड़ी संख्या में लोगों ने भाग लिया, और इसका आनंद उठाया।

GiONews Team
Editor In Chief

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

बिलासपुर– बीते 26 अक्टूबर को प्रारंभ हुए हवाई सेवा अखंड धरना आंदोलन के आज 100 दिन पूरे हो गए। इस मौके पर समिति के 10 सदस्यों ने भूख हड़ताल करते हुए केंद्र सरकार को चेतावनी दी, कि बिलासपुर की मांग को शीघ्र पूरा किया जाए, अन्यथा आंदोलन को और तेज किया जाएगा।

गौरतलब है, कि बिलासपुर से महानगरों तक सीधी हवाई सेवा की मांग को लेकर अखण्ड धरना आंदोलन किया जा रहा है, राघवेन्द्र राव सभा भवन में आयोजित इस धरना प्रदर्शन को आज 100 दिन हो गए, इस दौरान आंदोलन ने कई पड़ाव पार किए हैं, आंदोलन के एक माह पूरा होने पर गांधी चौक से नेहरू चौक तक वृहद मौन रैली निकाली गई। 2 माह बीत जाने पर समिति ने धरना स्थल से रिवर व्यू तक कैंडल मार्च का आयोजन किया था। 75 दिन होने पर सर्वधर्म प्रार्थना सभा की गई थी।

इस आंदोलन में आज तक 270 से अधिक विभिन्न समितियां एवं संगठन आंदोलन में भाग ले चुके हैं। जिसमें बिलासपुर के अलावा तखतपुर, मुंगेली, पंडरिया, बिल्हा, चकरभाठा, मस्तूरी आदि की समितियां व संघ शामिल हैं।

इस आंदोलन के प्रभाव से 29 नवंबर को सर्वप्रथम विधानसभा में लोरमी के विधायक धर्मजीत सिंह द्वारा प्रशासकीय संकल्प पेश किया गया, जिसे अन्य सभी विधायकों के साथ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा भी समर्थन दिया गया, साथ ही छत्तीसगढ़ सरकार के द्वारा ₹27 करोड़ की राशि बिलासपुर चकरभाठा हवाई अड्डे के विकास के लिए घोषित की गई। जिसकी प्रशासकीय स्वीकृति 6 जनवरी को कलेक्टर बिलासपुर को प्राप्त हो गई है। इस राशि से ₹5 करोड़ को प्रदाय किए गए हैं, जिससे बिलासपुर हवाई अड्डे को 3 सी कैटेगरी में बदलने के सभी आवश्यक कार्य कराए जाने का टेंडर भी जारी कर दिया गया है, जो कि 4 फरवरी को खोला जाएगा। इस आंदोलन के चलते उच्च न्यायालय के द्वारा भी निराकृत की गई जनहित याचिकाओं को पुनर्जीवित कर पुनः नोटिस जारी कर दिया गया है।

आज पूरे दिन समिति के बद्री यादव, मनोज श्रीवास, समीर अहमद, गौरव अग्रवाल, धर्मेंद्र चंद्राकर, राघवेंद्र सिंह, राकेश तिवारी, डॉ तरुण तिवारी, जितेंद्र चौबे और सुदीप श्रीवास्तव दिनभर भूख हड़ताल पर बैठे। वहीं रोज की तरह 100 वें दिन धरना आंदोलन भी जारी रहा, जिसमें वार्ड क्रमांक 21, ब्लॉक कांग्रेस क्रमांक 2 और गुरु घासीदास विश्वविद्यालय के नवनिर्वाचित छात्र परिषद के सदस्य धरने पर बैठे। बिलासपुर के महापौर रामशरण यादव भी आज एक बार फिर धरना आंदोलन में भाग लिया, और बिलासपुर में हवाई सेवा शुरू करने की मांग दोहराई।

सभा को संबोधित करते हुए अटल श्रीवास्तव, अभय नारायण राय, राकेश शर्मा, महेश दुबे, देवेंद्र सिंह, धर्मेश शर्मा, रविंद्र सिंह, अशोक भंडारी, प्रमोद नायक, पंकज सिंह, तैयब हुसैन, बृजेश साहू, गोपाल दुबे, केशव गोरख, संजय पिल्ले, जावेद मेमन और डॉक्टर रमन जोगी ने एक स्वर में यह मांग की, कि शीघ्र ही बिलासपुर से महानगरों तक हवाई सेवा का संचालन शुरू किया जाए। सभी ने एक स्वर में चेतावनी देते हुए कहा, कि इस मांग को और अधिक विलंब नहीं किया जाना चाहिए, अन्यथा उग्र आंदोलन होने की संभावना है।

आज के आंदोलन में जीजीयू छात्र परिषद के अध्यक्ष सचिन गुप्ता, उपाध्यक्ष दिनेश साहू, सचिव रेणुका पांडेय समेत सूर्य प्रकाश माली, यश कलवानी, मातृका साहू, धनंजय मैत्री, संकल्प पांडे समेत सभी अन्य छात्र शामिल रहे।

वार्ड क्रमांक 21 से जावेद अली, विनय जांगड़े, गिरवर जोशी, लल्ला सोनी, निर्मल मानिकपुरी, मनीष श्रीवास्तव, अभिषेक रजक, अमित नागदेव, शबाब अली, सोहेल अहमद, बबलू पुरी, शेख मोइनुद्दीन, नवाब खान, पंचराम सूर्यवंशी, गणेश रजक, नरेश यादव, अमित दुबे, रंजीत सिंह, गणेश, संदीप, ऋषि केशरी, रीवा नायडू, विनय बेदी, शुभम गड़ा, आशीष लहरिया, शांतनु मेश्राम, रेहान रजा, संतोष पीपलवा, प्रशांत पांडे, अमित खान, नाजिम खान और अभिषेक चौबे शामिल हुए। कल 101 में दिन धरना आंदोलन में युवा कांग्रेस बिलासपुर शहर धरने पर बैठेगी।

केक काटा गया, देशभक्ति गीतों का कार्यक्रम

शाम को समिति के सदस्यों द्वारा आंदोलन के 100 दिन पूरे होने पर केक काटा, और उसके पश्चात अंचल शर्मा ग्रुप द्वारा सहयोग के रूप में देशभक्ति गीतों का कार्यक्रम आंदोलन के समर्थन में आयोजित किया गया, करीब 2 घंटे चले इस आयोजन में बड़ी संख्या में लोगों ने भाग लिया, और इसका आनंद उठाया।