Saturday, December 3, 2022

Hotstar एप के कस्टमर केयर में कॉल करना युवक को पड़ा महँगा.. 2 लाख की हुई ठगी..

रायपुर– लॉकडाउन के दौरान राजधानी में हॉटस्टार एप के कस्टमर केयर में कॉल करना युवक को महंगा पड़ गया, 2 लाख रुपयों से भी महँगा पड़ गया।

मामले की जानकारी देते हुए गुढ़ियारी थाना प्रभारी रविशंकर तिवारी ने बताया, कि रामनगर निवासी अनुज सोनी ने 18 अप्रैल को गूगल से सर्च कर हॉट-स्टार एप के कस्टमर केयर पर कॉल कर 1 साल के रिचार्ज को कम्पनी द्वारा 6 महीने में ही बंद कर देने की बात कही, जिस पर अज्ञात मोबाइल धारक ने प्लान एक्टिवेट करने अनुज के बैंक खाता से लिंक मोबाइल नं के आखरी 4 अंक पूछे व मोबाइल पर भेजे गए OTP की भी जानकारी मांगी, जिसके 3 दिन पश्चात से ही निरंतर अनुज के इंडियन बैंक खाते से 5 दिनों तक राशि निकाली गई।

प्रार्थी की शिकायत पर आवेदन को जांच के लिए साइबर सेल भेजा गया था, जहां से दो अज्ञात मोबाइल धारकों की पहचान मजीद गाज़ी व मो.सद्दाम हुसैन के रूप में हुई है। पुलिस ने दोनों आरोपियों के खिलाफ IPC की धारा 420,34 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर लिया है। कुल 2 लाख 4 हज़ार रुपयों का ऑनलाइन फ्रॉड प्रार्थी अनुज सोनी के साथ हुआ है।

थाना प्रभारी गुढ़ियारी ने सभी को सावधान रहने व किसी भी व्यक्ति से अपने मोबाइल पर आए OTP को ना शेयर करने की समझाइश दी है।

GiONews Team
Editor In Chief

4 COMMENTS

  1. Scout69 Com. GERMAN SISTER BRUDER UEBERRASCHT STIEF SCHWESTER UND
    FICKT SIE EINFACH. 2.8M 100% 10min 1080p. Karisini siktiren koca (konusmali) 1.5M
    100% 35sec 360p. Amator Turk Anal: Free Amateur HD Porn VideoxHamster
    stepdaugther 540.9k 86% 10min 360p.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

रायपुर– लॉकडाउन के दौरान राजधानी में हॉटस्टार एप के कस्टमर केयर में कॉल करना युवक को महंगा पड़ गया, 2 लाख रुपयों से भी महँगा पड़ गया।

मामले की जानकारी देते हुए गुढ़ियारी थाना प्रभारी रविशंकर तिवारी ने बताया, कि रामनगर निवासी अनुज सोनी ने 18 अप्रैल को गूगल से सर्च कर हॉट-स्टार एप के कस्टमर केयर पर कॉल कर 1 साल के रिचार्ज को कम्पनी द्वारा 6 महीने में ही बंद कर देने की बात कही, जिस पर अज्ञात मोबाइल धारक ने प्लान एक्टिवेट करने अनुज के बैंक खाता से लिंक मोबाइल नं के आखरी 4 अंक पूछे व मोबाइल पर भेजे गए OTP की भी जानकारी मांगी, जिसके 3 दिन पश्चात से ही निरंतर अनुज के इंडियन बैंक खाते से 5 दिनों तक राशि निकाली गई।

प्रार्थी की शिकायत पर आवेदन को जांच के लिए साइबर सेल भेजा गया था, जहां से दो अज्ञात मोबाइल धारकों की पहचान मजीद गाज़ी व मो.सद्दाम हुसैन के रूप में हुई है। पुलिस ने दोनों आरोपियों के खिलाफ IPC की धारा 420,34 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर लिया है। कुल 2 लाख 4 हज़ार रुपयों का ऑनलाइन फ्रॉड प्रार्थी अनुज सोनी के साथ हुआ है।

थाना प्रभारी गुढ़ियारी ने सभी को सावधान रहने व किसी भी व्यक्ति से अपने मोबाइल पर आए OTP को ना शेयर करने की समझाइश दी है।