गला काटकर हत्या मामले में खुला राज : 2 बच्चों की मां को उसके ही प्रेमी ने मारा था, पैसे मांगने पर दिया था वारदात को अंजाम..

रायगढ़ – छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जिले में हुई महिला की हत्या का राज खुल गया। 2 बच्चों की मां को उसके ही प्रेमी ने मारा था। दोनों के बीच पिछले कुछ सालों से संबंध थे। इसी के चलते महिला उससे हमेशा पैसा मांगती थी। फिर जब उसने आरोपी को बदनाम करने की धमकी दी तो प्रेमी ने धारदार हथियार से उसकी हत्या कर शव को पैरे में फेंक दिया। आरोपी ने महिला की गला काटकर हत्या की थी। मामले में पुलिस ने अब आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। मामला भूपदेवपुर थाना क्षेत्र का है।

दरअसल, रायगढ़-खरसिया हाईवे के चारभांठा दर्राडोली के पास 14 जनवरी की शाम को महिला की लाश एक खेत में पैरे के अंदर मिली थी। ग्रामीण ने उसका शव देखा था। जिसके बाद उसने पुलिस को इसकी सूचना दी थी। मौके से पुलिस ने रेलवे टिकट, शराब की शीशी मिली थी। महिला के गले को धारदार हथियार से काटा गया था। घटना के बाद पुलिस ने मामले में जांच शुरू की थी।

महिला ने जब जांच शुरू की थी तो महिला के दाहिने हाथ में गोदना था। उसमें नाम लिखा था अनूप कुमार। साथ ही जो रेलवे टिकट मिला था, उसमें ओडिशा के बेलपहाड़ का जिक्र था। इसके बाद पुलिस की एक टीम को बेलपहाड़ भेजा गया था। जहां जाकर जांच करने पर पता चला कि महिला रायगढ़ के चक्रधरनगर की रहने वाली थी। उसका नाम बसंती भरा है। उसकी शादी बेलपहाड़ में अनूप कुमार से हुई थी। उसके 2 बच्चे हैं और पति की मौत हो चुकी है। महिला के एक बेटी 22 साल की है। वहीं बेटा भी करीब 18 साल का है।

महिला क पुलिस को यह भी पता चला कि महिला के रायगढ़ के चारभांठा निवासी फत्ते पटेल से संबंध थे। इस पर पुलिस ने फत्ते सिंह को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की थी। पूछताछ में ही फत्ते पटेल ने आरोपी ने अपना गुनाह कबूल किया था। फत्ते भी पिछले कुछ सालों से बेलपहाड़ में ही रह रहा था। फत्ते पटेल ने बताया कि वह 2017 से बेलपहाड़ गुमाडेरा टीकेएल कंपनी में मकान पेंटिंग का काम करता था। उसी दौरान उसकी मुलाकात बसंती से हुई थी। बसंती कंपनी में साफ सफाई का काम करने आती थी। इस बीच उसके पति की भी मौत हो गई और दोनों में नजदीकियां बढ़ गईं थी। दोनों बात करने लगे थे। फत्ते ने बताया कि ये सब होने के बाद बसंती उस पर शादी करने का दबाव बना रही थी। फिर पैसे भी मांगने लगी थी। इस पर उसने उसको कई बार पैसे भी दिए थे।

फत्ते ने बताया कि बार-बार पैसे देने के बाद भी उसका 11 जनवरी को फोन आया और बसंती ने बताया कि उसकी तबीयत खराब है। वह रायगढ़ जा रही है। उसका इलाज करवाना है। बसंती ने फत्ते को भी रायगढ़ बुला लिया था। 13 जनवरी को फत्ते ने उसका इलाज भी करवाया था। इलाज के बाद फत्ते अपने चारभांठा वाले घर चले गया था।फत्ते ने बताया कि उसी शाम फिर से बसंती का फोन आया। तब उसने कहा कि वह वापस ओडिशा जा रही है। बसंती ने फिर से फत्ते को स्टेशन बुला लिया और उसे धमकी देने लगी कि स्टेशन आ जा नहीं तो तुझे बदनाम कर दूंगी। तुझे बेलपहाड़ में रहने ही नहीं दूंगी। बताया गया कि पैसे देकर पहले से फत्ते महिला पर नाराज था। इस बीच बार-बार धमकी देने से वो और गुस्से में आ गया था।

आरोपी ने घर से ही उसे मारने का मन बना लिया था और अपने साथ लोहे का कत्ता( तलवार से छोटे आकार का धारदार हथियार) लेकर घर से निकला था। इसके बाद उसने शराब खरीदी थी। फिर महिला को अपने साथ रायगढ़-खरसिया हाईवे ले गया था। इसी रास्ते में पहले दोनों ने साथ में शराब पी। शराब के नशे में ही उसकी हत्या कर दी थी। हत्या करने के बाद आरोपी ने उसके शव को पैरे में छिपा दिया था। वारदात को अंजाम देकर वह भाग निकला था। अगले दिन 14 जनवरी को बसंती का शव मिला है। पुलिस ने अब उस गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने बताया कि आरोपी के भी बच्चे हैं। खबरें और भी हैं…

GiONews Team
Editor In Chief

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

रायगढ़ – छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जिले में हुई महिला की हत्या का राज खुल गया। 2 बच्चों की मां को उसके ही प्रेमी ने मारा था। दोनों के बीच पिछले कुछ सालों से संबंध थे। इसी के चलते महिला उससे हमेशा पैसा मांगती थी। फिर जब उसने आरोपी को बदनाम करने की धमकी दी तो प्रेमी ने धारदार हथियार से उसकी हत्या कर शव को पैरे में फेंक दिया। आरोपी ने महिला की गला काटकर हत्या की थी। मामले में पुलिस ने अब आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। मामला भूपदेवपुर थाना क्षेत्र का है।

दरअसल, रायगढ़-खरसिया हाईवे के चारभांठा दर्राडोली के पास 14 जनवरी की शाम को महिला की लाश एक खेत में पैरे के अंदर मिली थी। ग्रामीण ने उसका शव देखा था। जिसके बाद उसने पुलिस को इसकी सूचना दी थी। मौके से पुलिस ने रेलवे टिकट, शराब की शीशी मिली थी। महिला के गले को धारदार हथियार से काटा गया था। घटना के बाद पुलिस ने मामले में जांच शुरू की थी।

महिला ने जब जांच शुरू की थी तो महिला के दाहिने हाथ में गोदना था। उसमें नाम लिखा था अनूप कुमार। साथ ही जो रेलवे टिकट मिला था, उसमें ओडिशा के बेलपहाड़ का जिक्र था। इसके बाद पुलिस की एक टीम को बेलपहाड़ भेजा गया था। जहां जाकर जांच करने पर पता चला कि महिला रायगढ़ के चक्रधरनगर की रहने वाली थी। उसका नाम बसंती भरा है। उसकी शादी बेलपहाड़ में अनूप कुमार से हुई थी। उसके 2 बच्चे हैं और पति की मौत हो चुकी है। महिला के एक बेटी 22 साल की है। वहीं बेटा भी करीब 18 साल का है।

महिला क पुलिस को यह भी पता चला कि महिला के रायगढ़ के चारभांठा निवासी फत्ते पटेल से संबंध थे। इस पर पुलिस ने फत्ते सिंह को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की थी। पूछताछ में ही फत्ते पटेल ने आरोपी ने अपना गुनाह कबूल किया था। फत्ते भी पिछले कुछ सालों से बेलपहाड़ में ही रह रहा था। फत्ते पटेल ने बताया कि वह 2017 से बेलपहाड़ गुमाडेरा टीकेएल कंपनी में मकान पेंटिंग का काम करता था। उसी दौरान उसकी मुलाकात बसंती से हुई थी। बसंती कंपनी में साफ सफाई का काम करने आती थी। इस बीच उसके पति की भी मौत हो गई और दोनों में नजदीकियां बढ़ गईं थी। दोनों बात करने लगे थे। फत्ते ने बताया कि ये सब होने के बाद बसंती उस पर शादी करने का दबाव बना रही थी। फिर पैसे भी मांगने लगी थी। इस पर उसने उसको कई बार पैसे भी दिए थे।

फत्ते ने बताया कि बार-बार पैसे देने के बाद भी उसका 11 जनवरी को फोन आया और बसंती ने बताया कि उसकी तबीयत खराब है। वह रायगढ़ जा रही है। उसका इलाज करवाना है। बसंती ने फत्ते को भी रायगढ़ बुला लिया था। 13 जनवरी को फत्ते ने उसका इलाज भी करवाया था। इलाज के बाद फत्ते अपने चारभांठा वाले घर चले गया था।फत्ते ने बताया कि उसी शाम फिर से बसंती का फोन आया। तब उसने कहा कि वह वापस ओडिशा जा रही है। बसंती ने फिर से फत्ते को स्टेशन बुला लिया और उसे धमकी देने लगी कि स्टेशन आ जा नहीं तो तुझे बदनाम कर दूंगी। तुझे बेलपहाड़ में रहने ही नहीं दूंगी। बताया गया कि पैसे देकर पहले से फत्ते महिला पर नाराज था। इस बीच बार-बार धमकी देने से वो और गुस्से में आ गया था।

आरोपी ने घर से ही उसे मारने का मन बना लिया था और अपने साथ लोहे का कत्ता( तलवार से छोटे आकार का धारदार हथियार) लेकर घर से निकला था। इसके बाद उसने शराब खरीदी थी। फिर महिला को अपने साथ रायगढ़-खरसिया हाईवे ले गया था। इसी रास्ते में पहले दोनों ने साथ में शराब पी। शराब के नशे में ही उसकी हत्या कर दी थी। हत्या करने के बाद आरोपी ने उसके शव को पैरे में छिपा दिया था। वारदात को अंजाम देकर वह भाग निकला था। अगले दिन 14 जनवरी को बसंती का शव मिला है। पुलिस ने अब उस गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने बताया कि आरोपी के भी बच्चे हैं। खबरें और भी हैं…