बिलासपुर– गुरुघासीदास विश्वविद्यालय में जेएनयू में दिल्ली पुलिस द्वारा आई रिपोर्ट के समर्थन में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद बिलासपुर के कार्यकर्ताओं ने रैली निकाली और वामपंथ के पुतले को जलाकर हुई हिंसा पर अपना विरोध प्रकट किया।वहां पर उपस्थित निवर्तमान प्रदेश मंत्री सन्नी केसरी जी ने कहा कि पहले से जानबूझकर रचित ये हिंसा परिषद के छात्रों को बदनाम करने की साजिश थी मगर दिल्ली पुलिस की आई इस रिपोर्ट से दूध का दूध और पानी का पानी हो गया है यह रिपोर्ट यह दर्शाती है की किस प्रकार से नकाबपोश गुंडों का सहारा लेकर लेफ्ट ने गुंडागर्दी की है जल्द से जल्द दोषियों पर कार्रवाई होनी चाहिए अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के गुरुघासीदास इकाई के अध्यक्ष अमन कुमार ने कहा कि वामपंथी विचारधारा के समर्थकों द्वारा शिक्षा के सर्वोच्च मंदिर को कलंकित करने की बेहद निदनीय घटना का अभाविप विरोध करती है।दिल्ली सरकार,प्रशासन एवं जेएनयू प्रबंधन से परिषद कड़ी कार्रवाई करने की मांग के साथ कैंपस में छात्रों को भयमुक्त माहौल में पठन-पाठन की सुविधा की व्यवस्था की मांग की।वहीं विश्वविद्यालय प्रमुख अविनाश त्रिपाठी कहा कि जब वामपंथियों ने यह देखा कि आम छात्र उनके बहिष्कार के आह्वान को नहीं मान रहे हैं तो उन्होंने आम छात्राओं व अभाविप के सदस्यों पर हमला करना शुरू कर दिया।
फर्जी वीडियो व स्क्रीनशॉट वायरल किया गया जो फर्जी पाए गए।अभाविप ने मांग करते हुए कहा कि हिसा में संलिप्त लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए।मौके पर निवर्तमान प्रदेश मंत्री सन्नी केसरी,प्रदेश सहमंत्री मोरध्वज पैकरा,गुरूघासीदास वि वि अध्यक्ष अमन कुमार,प्रदेश SFD प्रमुख़ यशवर्धन मरार,प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य रौनक केसरी,महानगर महाविद्यालय प्रमुख़ गिरजा शंकर यादव,महानगर सहमंत्री लोकेन्द्र कुर्रे,शिवा पांडेय,राघवेन्द्र राठौर, अविनाश खलको,शुभम पाठक,अमन प्रकाश,हर्ष सौदर्शन, आशुतोष श्रीवास, अनमोल कुमार, अशुतोष कुमार, अभिषेक सिंह बनाफर, अनुज यादव, वेद प्रकाश, नीतीष, आलोक, नीतीश, यश, आशीष चौहान,माधव,अभिषेक,दीपक,शिवम, मुरली,खिलेंद्र, अखिलेश ध्रुव, शिवांशु सिंह, नागेन्द्र, मुकेश,संजय,साहिलतथा अन्य छात्र उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *