Tuesday, September 27, 2022

एंटी क्राइम यूनिट और सिविल लाइन पुलिस की नशे के खिलाफ बड़ी कार्रवाई… तीन नाबालिग समेत दो आरोपी चढ़े पुलिस के हत्थे….आरोपियों के परिवार वाले पहले से ही एनडीपीएस एक्ट के तहत जेल में हैं बन्द।

बिलासपुर। बिलासपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पारुल माथुर द्वारा जिले में नशे के व्यापार पर लगाम लगाने और इन कामों को अंजाम देने वाले व्यापारियों को पकड़ने के लिए एंटी क्राइम यूनिट की स्थापना की थी और अब इस टीम की बड़ी कार्रवाई भी सामने आई है दरअसल मिनी बस्ती और चंदेला नगर में सिविल लाइन पुलिस और एंटी क्राइम यूनिट की संयुक्त टीम ने छापामार कार्रवाई करते हुए बड़ी मात्रा में नशे का सामान बरामद किया है मामले का खुलासा करते हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक उमेश कश्यप ने बताया कि, शहर के मिनी बस्ती में लंबे समय से नशे के व्यापार के संचालन की सूचना पुलिस को मिल गई थी जिसके बाद एंटी क्राइम यूनिट और सिविल लाइन की टीम ने संयुक्त टीम बनाकर छापामार कार्रवाई की इस दौरान मिनी बस्ती से दो नाबालिगों के पास से कई सौ की संख्या में इंजेक्शन और प्रतिबंधित टेबलेट बरामद किए गए इसके अलावा चंदेला नगर में की गई कार्रवाई में दो आरोपी और एक नाबालिग आरोपी से पुलिस ने हजारों की संख्या में इंजेक्शन और प्रतिबंधित टेबलेट सिरप को जप्त किया है।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों के परिवार वाले भी नशे के व्यापार में सम्मिलित रहे हैं और इसी के चलते वे अब तक एनडीपीएस के तहत जेल में बंद है.. बताया जा रहा है कि.. जिन अवैध नशीले टेबलेट और इंजेक्शन का धंधा आरोपियों द्वारा किया जा रहा था उन की बाजार में कीमत 6 लाख से अधिक आंकी जा रही है।

GiONews Team
Editor In Chief

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

बिलासपुर। बिलासपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पारुल माथुर द्वारा जिले में नशे के व्यापार पर लगाम लगाने और इन कामों को अंजाम देने वाले व्यापारियों को पकड़ने के लिए एंटी क्राइम यूनिट की स्थापना की थी और अब इस टीम की बड़ी कार्रवाई भी सामने आई है दरअसल मिनी बस्ती और चंदेला नगर में सिविल लाइन पुलिस और एंटी क्राइम यूनिट की संयुक्त टीम ने छापामार कार्रवाई करते हुए बड़ी मात्रा में नशे का सामान बरामद किया है मामले का खुलासा करते हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक उमेश कश्यप ने बताया कि, शहर के मिनी बस्ती में लंबे समय से नशे के व्यापार के संचालन की सूचना पुलिस को मिल गई थी जिसके बाद एंटी क्राइम यूनिट और सिविल लाइन की टीम ने संयुक्त टीम बनाकर छापामार कार्रवाई की इस दौरान मिनी बस्ती से दो नाबालिगों के पास से कई सौ की संख्या में इंजेक्शन और प्रतिबंधित टेबलेट बरामद किए गए इसके अलावा चंदेला नगर में की गई कार्रवाई में दो आरोपी और एक नाबालिग आरोपी से पुलिस ने हजारों की संख्या में इंजेक्शन और प्रतिबंधित टेबलेट सिरप को जप्त किया है।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों के परिवार वाले भी नशे के व्यापार में सम्मिलित रहे हैं और इसी के चलते वे अब तक एनडीपीएस के तहत जेल में बंद है.. बताया जा रहा है कि.. जिन अवैध नशीले टेबलेट और इंजेक्शन का धंधा आरोपियों द्वारा किया जा रहा था उन की बाजार में कीमत 6 लाख से अधिक आंकी जा रही है।