Saturday, August 13, 2022

बिलासपुर उपचुनाव : यहां कांग्रेस भाजपा में सीधा मुकाबला, 7107 मतदाता प्रत्याशियों करेंगे जीत-हार का फैसला..

वोटिंग के पहले दोनों दलों के पदाधिकारी और प्रत्याशी मतदान केंद्र में पहुंचे। - Dainik Bhaskar

बिलासपुर – प्रदेश भर के नगरीय निकाय के साथ ही बिलासपुर के संजय गांधी नगर वार्ड क्रमांक 29 में सोमवार सुबह 8 बजे से मतदान शुरू हो गया है। यह सीट पिछले 2 साल से खाली थी। जिसके लिए अब उपचुनाव हो रहा है। इस वार्ड में कांग्रेस व भाजपा के साथ ही एक निर्दलीय उम्मीदवार मैदान में है। लेकिन, कांग्रेस-भाजपा के प्रत्याशियों के बीच सीधा मुकाबला है। सुबह 8 बजे से शाम 5 बजे तक 8 बूथों में मतदान होगा। जिसमें वार्ड के 7107 मतदाता प्रत्याशियों के जीत-हार का फैसला करेंगे।

वैसे तो यह वार्ड अभी तक कांग्रेस का गढ़ रहा है। अभी तक भाजपा यहां से एक बार भी नहीं जीत पाई है। पिछली बार कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व पूर्व बीडीए अध्यक्ष स्व. शेख गफ्फार चुनाव ने रिकॉर्ड 2400 से ज्यादा वोट से जीते थे। लेकिन, चुनाव प्रचार के दौरान ही उन्हें हार्ट अटैक आया था। बाद में अस्पताल में उनकी मौत हो गई। उनके निधन के बाद से वार्ड दो साल तक खाली रहा।

मतदान केंद्र में मतदाताओं से वोट की अपील करते दोनों प्रत्याशी

उपचुनाव में कांग्रेस ने उनके भाई शेख असलम को उम्मीदवार बनाया है। दूसरी तरफ भाजपा ने हारने वाले उम्मीदवार राजेश रजक पर ही दांव लगाया है। भाजपा से ही बागी होकर मो. इशरीश खान निर्दलीय प्रत्याशी भी हैं। ऐसे में उपचुनाव में पार्षद के लिए तीन उम्मीदवार मैदान में हैं। जिसमें कांग्रेस व भाजपा के बीच सीधा मुकाबला है।

राज्य निर्वाचन आयोग की ओर से निर्देश जारी निर्देश के अनुसार जिला निर्वाचन अधिकारी ने तैयारी पूरी कर ली है। मतदान केंद्रों में मोबाइल फोन, कार्डलेस फोन, वायरलेस सेट या किसी भी प्रकार का इलेक्ट्रानिक डिवाइस पूर्णत: प्रतिबंधित रहेगा। निर्वाचन कार्य से संबंधित अधिकारी व कर्मचारियों को ही मतदान केंद्रों में प्रवेश दिया जाएगा। पीठासीन अधिकारी निर्वाचन संबंधी सूचनाओं का आदान-प्रदान करने के लिए मोबाइल फोन का उपयोग कर सकेंगे।

कड़कड़ाती ठंड में शुरू हुई वोटिंग, केंद्रों पहुंचने लगे मतदाता।

वार्ड उपचुनाव के लिये आठ मतदान केंद्र बनाए गए हैं। इसमें शासकीय प्राथमिक शाला भवन घोड़ादाना, तारबाहर व मतदान केंद्र क्रमांक दो से केंद्र क्रमांक आठ, कुल सात मतदान केंद्र स्वामी आत्मानंद योजना से संचालित, स्व. शेख गफ्फार, उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम स्कूल, पानी टंकी के पास तारबाहर स्थित मतदान केंद्र शामिल हैं। मतदान के बाद मतपेटियों को बर्जेस स्कूल में बनाए गए स्ट्रांग रूम में शाम को जमा किया जाएगा। मतगणना 23 दिसंबर को होगी।

कोविड-19 के संकट को देखते हुए सुरक्षा की पूरी व्यवस्था की गई है। इसके साथ ही सभी मतदान केंद्रों में स्वास्थ्यकर्मी भी मतदान दल के साथ मौजूद रहेंगे, ताकि किसी भी आपात स्थिति से बचा जा सके। सभी मतदाताओं से मास्क पहनकर ही घर से बाहर निकलने की अपील की गई है। उन्हें दो गज की दूरी के नियमों का भी पालन करना होगा। मतदान केंद्रों में सैनिटाइजर की व्यवस्था होग।

GiONews Team
Editor In Chief

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

वोटिंग के पहले दोनों दलों के पदाधिकारी और प्रत्याशी मतदान केंद्र में पहुंचे। - Dainik Bhaskar

बिलासपुर – प्रदेश भर के नगरीय निकाय के साथ ही बिलासपुर के संजय गांधी नगर वार्ड क्रमांक 29 में सोमवार सुबह 8 बजे से मतदान शुरू हो गया है। यह सीट पिछले 2 साल से खाली थी। जिसके लिए अब उपचुनाव हो रहा है। इस वार्ड में कांग्रेस व भाजपा के साथ ही एक निर्दलीय उम्मीदवार मैदान में है। लेकिन, कांग्रेस-भाजपा के प्रत्याशियों के बीच सीधा मुकाबला है। सुबह 8 बजे से शाम 5 बजे तक 8 बूथों में मतदान होगा। जिसमें वार्ड के 7107 मतदाता प्रत्याशियों के जीत-हार का फैसला करेंगे।

वैसे तो यह वार्ड अभी तक कांग्रेस का गढ़ रहा है। अभी तक भाजपा यहां से एक बार भी नहीं जीत पाई है। पिछली बार कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व पूर्व बीडीए अध्यक्ष स्व. शेख गफ्फार चुनाव ने रिकॉर्ड 2400 से ज्यादा वोट से जीते थे। लेकिन, चुनाव प्रचार के दौरान ही उन्हें हार्ट अटैक आया था। बाद में अस्पताल में उनकी मौत हो गई। उनके निधन के बाद से वार्ड दो साल तक खाली रहा।

मतदान केंद्र में मतदाताओं से वोट की अपील करते दोनों प्रत्याशी

उपचुनाव में कांग्रेस ने उनके भाई शेख असलम को उम्मीदवार बनाया है। दूसरी तरफ भाजपा ने हारने वाले उम्मीदवार राजेश रजक पर ही दांव लगाया है। भाजपा से ही बागी होकर मो. इशरीश खान निर्दलीय प्रत्याशी भी हैं। ऐसे में उपचुनाव में पार्षद के लिए तीन उम्मीदवार मैदान में हैं। जिसमें कांग्रेस व भाजपा के बीच सीधा मुकाबला है।

राज्य निर्वाचन आयोग की ओर से निर्देश जारी निर्देश के अनुसार जिला निर्वाचन अधिकारी ने तैयारी पूरी कर ली है। मतदान केंद्रों में मोबाइल फोन, कार्डलेस फोन, वायरलेस सेट या किसी भी प्रकार का इलेक्ट्रानिक डिवाइस पूर्णत: प्रतिबंधित रहेगा। निर्वाचन कार्य से संबंधित अधिकारी व कर्मचारियों को ही मतदान केंद्रों में प्रवेश दिया जाएगा। पीठासीन अधिकारी निर्वाचन संबंधी सूचनाओं का आदान-प्रदान करने के लिए मोबाइल फोन का उपयोग कर सकेंगे।

कड़कड़ाती ठंड में शुरू हुई वोटिंग, केंद्रों पहुंचने लगे मतदाता।

वार्ड उपचुनाव के लिये आठ मतदान केंद्र बनाए गए हैं। इसमें शासकीय प्राथमिक शाला भवन घोड़ादाना, तारबाहर व मतदान केंद्र क्रमांक दो से केंद्र क्रमांक आठ, कुल सात मतदान केंद्र स्वामी आत्मानंद योजना से संचालित, स्व. शेख गफ्फार, उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम स्कूल, पानी टंकी के पास तारबाहर स्थित मतदान केंद्र शामिल हैं। मतदान के बाद मतपेटियों को बर्जेस स्कूल में बनाए गए स्ट्रांग रूम में शाम को जमा किया जाएगा। मतगणना 23 दिसंबर को होगी।

कोविड-19 के संकट को देखते हुए सुरक्षा की पूरी व्यवस्था की गई है। इसके साथ ही सभी मतदान केंद्रों में स्वास्थ्यकर्मी भी मतदान दल के साथ मौजूद रहेंगे, ताकि किसी भी आपात स्थिति से बचा जा सके। सभी मतदाताओं से मास्क पहनकर ही घर से बाहर निकलने की अपील की गई है। उन्हें दो गज की दूरी के नियमों का भी पालन करना होगा। मतदान केंद्रों में सैनिटाइजर की व्यवस्था होग।