Thursday, October 6, 2022

छत्तीसगढ़ में कोरोना का कहर : 1059 नए मामले आए सामने 3 लोगों की मौत, रायपुर, रायगढ़ और बिलासपुर के आंकड़े भयावह.. बिलासपुर में लगा नाईट कर्फ्यू…

बिलासपुर – छत्तीसगढ़ और बिलासपुर में कोरोना का कहर बढ़ता ही जा रहा है। बिलासपुर में एक दिन पहले 131 नए संक्रमण के मामले सामने आए थे, जो बढ़कर मंगलवार को 159 तक जा पहुंचे। रायपुर में एक ही दिन में 343 नए मामले सामने आए हैं। दुर्ग में 89, राजनांदगांव में 44, रायगढ़ में 141, कोरबा में 73, जशपुर में 32, सुकमा में 46 बीजापुर में 19 मामले सामने आए हैं। छत्तीसगढ़ में मंगलवार को 1059 नए मामले सामने आने के बाद प्रशासन के भी हाथ – पांव फूल गए। इसी के साथ प्रदेश में कोरोना से 3 मौत की भी खबरें हैं, जिसमें से दो बिलासपुर और एक रायगढ़ से है। जिसके बाद बिलासपुर में भी नाइट कर्फ्यू और 144 धारा लागू कर दी गई।

कलेक्टर ने नए आदेश जारी करते हुए बिलासपुर जिले में धारा 144 लागू करने का ऐलान किया है। यहां रात 10:00 बजे से लेकर सुबह 6:00 बजे तक नाइट कर्फ्यू लगेगा। इस दौरान सभी तरह के सामाजिक धार्मिक राजनीतिक कार्यक्रमों पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। होटल रेस्टोरेंट ढाबा बेकरी आइटम, फूड कोर्ट और अन्य खाद्य संबंधी प्रतिष्ठा रात 11:00 बजे तक संचालित होंगे। फूड की होम डिलीवरी रात 11:00 बजे तक की जा सकेगी। नगर निगम सीमा क्षेत्र के बाहर मुख्य मार्ग में स्थित ढाबे, टेकअवे रात 11:00 बजे के बाद भी संचालित किए जाएंगे। इस दौरान बिलासपुर जिले में सभी प्रकार के जुलूस और रैलियों, सभा, सार्वजनिक समारोह, सामाजिक आयोजन सांस्कृतिक धार्मिक खेल सामूहिक आयोजन पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा दिया गया है।

किसी व्यक्ति में कोरोना के लक्षण पाए जाने पर इसकी जांच कराने और जांच रिपोर्ट प्राप्त होने तक होम क्वारेन्टीन रहना अनिवार्य कर दिया गया है। इस दौरान बिलासपुर जिले के सभी मॉल होलसेल दुकानें जीम सिनेमाघर मल्टीप्लेक्स टॉकीज थियेटर ऑडिटोरियम होटल रेस्टोरेंट मैरिज हॉल और अन्य आयोजन स्थलों को आगामी आदेश तक एक तिहाई क्षमता के संचालित किया जाएगा। सभी के लिए मास्क पहनना और सोशल डिस्टेंस का पालन करना अनिवार्य होगा, अन्यथा उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। सभी स्कूल और कॉलेज बंद करने के आदेश दिए गए हैं। अब एक बार फिर से ऑनलाइन क्षाएं लगेंगी।

इस दौरान प्ले स्कूल आंगनबाड़ी पुस्तकालय स्विमिंग पूल वाटर पार्क भी पूरी तरह से बंद रहेंगे। हवाई अड्डे पर आने जाने वाले यात्रियों को 72 घंटे पूर्व की rt – per नेगेटिव रिपोर्ट दिखानी होगी। दोहरे टीकाकरण वाले व्यक्तियों को भी यात्रा समय से 72 घंटे के भीतर की नेगेटिव rt – per रिपोर्ट प्रस्तुत करना होगा। राज्य की सीमाओं और रेलवे स्टेशनों पर आने वाली यात्रियों की भी रेंडम चेकिंग की जाएगी। सिनेमा मैरिज हॉल कोचिंग सेंटर एक तिहाई क्षमता के साथ संचालित होंगे। वैवाहिक कार्यक्रमों में 100 से अधिक लोग और अंत्येष्टि में 50 से अधिक लोग शामिल नहीं हो सकेंगे। प्रदेश में जहां भी 4 % से अधिक संक्रमण के मामले हैं वहां वहां नाइट कर्फ्यू लगाया गया है, जिसमें बिलासपुर भी शामिल हो गया है। रायगढ़, बलोदा बाजार, धमतरी, दुर्ग, कवर्धा और कोरिया जिले में भी नाईट कर्फ्यू लगाया गया है।

अधिकांश स्थलों पर होटल रेस्टोरेंट सिनेमा हॉल मैरिज हॉल पर प्रतिबंध लगाया गया है । अन्य राज्यों से आने वालों को 72 घंटों का rt – per जांच रिपोर्ट दिखाना अनिवार्य होगा साथ ही विदेश से आने वालों को स्वास्थ्य विभाग को जानकारी देनी होगी । सार्वजनिक और सामाजिक कार्यक्रमों पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है । यह आने वाले दिनों की भयावहता के संकेत है । जिस तरह से रोजाना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है और प्रदेश में यह संख्या 1000 के पार चली गई है उससे यही आशंका गहरा रही है कि आने वाले दिनों में ओमिक्रोन का प्रभाव तेजी से फैलेगा और बड़ी संख्या में लोग इससे संक्रमित हो सकते हैं , इसीलिए अस्पतालों को भी सतर्क रहने के लिए कह दिया गया है।

GiONews Team
Editor In Chief

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

बिलासपुर – छत्तीसगढ़ और बिलासपुर में कोरोना का कहर बढ़ता ही जा रहा है। बिलासपुर में एक दिन पहले 131 नए संक्रमण के मामले सामने आए थे, जो बढ़कर मंगलवार को 159 तक जा पहुंचे। रायपुर में एक ही दिन में 343 नए मामले सामने आए हैं। दुर्ग में 89, राजनांदगांव में 44, रायगढ़ में 141, कोरबा में 73, जशपुर में 32, सुकमा में 46 बीजापुर में 19 मामले सामने आए हैं। छत्तीसगढ़ में मंगलवार को 1059 नए मामले सामने आने के बाद प्रशासन के भी हाथ – पांव फूल गए। इसी के साथ प्रदेश में कोरोना से 3 मौत की भी खबरें हैं, जिसमें से दो बिलासपुर और एक रायगढ़ से है। जिसके बाद बिलासपुर में भी नाइट कर्फ्यू और 144 धारा लागू कर दी गई।

कलेक्टर ने नए आदेश जारी करते हुए बिलासपुर जिले में धारा 144 लागू करने का ऐलान किया है। यहां रात 10:00 बजे से लेकर सुबह 6:00 बजे तक नाइट कर्फ्यू लगेगा। इस दौरान सभी तरह के सामाजिक धार्मिक राजनीतिक कार्यक्रमों पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। होटल रेस्टोरेंट ढाबा बेकरी आइटम, फूड कोर्ट और अन्य खाद्य संबंधी प्रतिष्ठा रात 11:00 बजे तक संचालित होंगे। फूड की होम डिलीवरी रात 11:00 बजे तक की जा सकेगी। नगर निगम सीमा क्षेत्र के बाहर मुख्य मार्ग में स्थित ढाबे, टेकअवे रात 11:00 बजे के बाद भी संचालित किए जाएंगे। इस दौरान बिलासपुर जिले में सभी प्रकार के जुलूस और रैलियों, सभा, सार्वजनिक समारोह, सामाजिक आयोजन सांस्कृतिक धार्मिक खेल सामूहिक आयोजन पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा दिया गया है।

किसी व्यक्ति में कोरोना के लक्षण पाए जाने पर इसकी जांच कराने और जांच रिपोर्ट प्राप्त होने तक होम क्वारेन्टीन रहना अनिवार्य कर दिया गया है। इस दौरान बिलासपुर जिले के सभी मॉल होलसेल दुकानें जीम सिनेमाघर मल्टीप्लेक्स टॉकीज थियेटर ऑडिटोरियम होटल रेस्टोरेंट मैरिज हॉल और अन्य आयोजन स्थलों को आगामी आदेश तक एक तिहाई क्षमता के संचालित किया जाएगा। सभी के लिए मास्क पहनना और सोशल डिस्टेंस का पालन करना अनिवार्य होगा, अन्यथा उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। सभी स्कूल और कॉलेज बंद करने के आदेश दिए गए हैं। अब एक बार फिर से ऑनलाइन क्षाएं लगेंगी।

इस दौरान प्ले स्कूल आंगनबाड़ी पुस्तकालय स्विमिंग पूल वाटर पार्क भी पूरी तरह से बंद रहेंगे। हवाई अड्डे पर आने जाने वाले यात्रियों को 72 घंटे पूर्व की rt – per नेगेटिव रिपोर्ट दिखानी होगी। दोहरे टीकाकरण वाले व्यक्तियों को भी यात्रा समय से 72 घंटे के भीतर की नेगेटिव rt – per रिपोर्ट प्रस्तुत करना होगा। राज्य की सीमाओं और रेलवे स्टेशनों पर आने वाली यात्रियों की भी रेंडम चेकिंग की जाएगी। सिनेमा मैरिज हॉल कोचिंग सेंटर एक तिहाई क्षमता के साथ संचालित होंगे। वैवाहिक कार्यक्रमों में 100 से अधिक लोग और अंत्येष्टि में 50 से अधिक लोग शामिल नहीं हो सकेंगे। प्रदेश में जहां भी 4 % से अधिक संक्रमण के मामले हैं वहां वहां नाइट कर्फ्यू लगाया गया है, जिसमें बिलासपुर भी शामिल हो गया है। रायगढ़, बलोदा बाजार, धमतरी, दुर्ग, कवर्धा और कोरिया जिले में भी नाईट कर्फ्यू लगाया गया है।

अधिकांश स्थलों पर होटल रेस्टोरेंट सिनेमा हॉल मैरिज हॉल पर प्रतिबंध लगाया गया है । अन्य राज्यों से आने वालों को 72 घंटों का rt – per जांच रिपोर्ट दिखाना अनिवार्य होगा साथ ही विदेश से आने वालों को स्वास्थ्य विभाग को जानकारी देनी होगी । सार्वजनिक और सामाजिक कार्यक्रमों पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है । यह आने वाले दिनों की भयावहता के संकेत है । जिस तरह से रोजाना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है और प्रदेश में यह संख्या 1000 के पार चली गई है उससे यही आशंका गहरा रही है कि आने वाले दिनों में ओमिक्रोन का प्रभाव तेजी से फैलेगा और बड़ी संख्या में लोग इससे संक्रमित हो सकते हैं , इसीलिए अस्पतालों को भी सतर्क रहने के लिए कह दिया गया है।