Tuesday, September 27, 2022

बिलासपुर में हुई तेज बारिश…..मौसम विभाग ने जारी की सूचना…..राज्य के कोरबा, जशपुर, सरगुजा समेत कुछ जिलों में भी आंधी-पानी की चेतावनी।

बिलासपुर। छत्तीसगढ़ के मध्य और उत्तरी भाग में मौसम बिगड़ गया है। मौसम विभाग ने बताया है, बिलासपुर, कोरबा, जशपुर, सरगुजा और उनसे लगे जिलों में एक-दो स्थानों पर गरज चमक के साथ मौसम बहुत ज्यादा खराब रहने की संभावना है। रात आठ बजे तक यहां गरज-चमक के साथ अंधड़ उठने और आकाशीय बिजली गिरने की भी संभावना बन रही है। इस अलर्ट के बाद शाम 7 बजे से बिलासपुर में तेज बारिश होने लगी।

अनुमान जारी किया। इसके मुताबिक शाम 4 बजे से रात तक पेण्ड्रा, बिलासपुर, कोरबा, सरगुजा, सूरजपुर, जशपुर, कांकेर, धमतरी, गरियाबंद, महासमुंद और उनसे लगे जिलों में एक-दो स्थानों पर अंधड़ उठ सकता है। इन जिलों में एक-दो स्थानों पर गरज-चमक के साथ आकाशीय बिजली गिरने की संभावना भी बन रही है। शाम 7 बजे से बिलासपुर जिले में तेज हवाएं चलनी शुरू हुई। इसके बाद बूंदाबांदी और फिर तेज बौछारें पड़ने लगीं। करीब आधे घंटे बाद बारिश बंद हुई। इस बारिश से कुछ देर के लिए ही सही गर्मी से राहत मिली है। इस क्षेत्र में बादल अभी भी छाए हुए हैं। रात तक फिर बौछारें पड़ने का अनुमान है।

इससे पहले मौसम विभाग ने बताया था, अंदरूनी कर्नाटक से पश्चिमी विदर्भ तक एक द्रोणिका फैली हुई है। प्रदेश के उत्तर में उत्तरी और दक्षिण में दक्षिणी हवा का आगमन लगातार जारी है। ऐसे में बुधवार को एक-दो स्थानों पर हल्की वर्षा होने अथवा गरज-चमक के साथ छीेंटे पड़ने की संभावना है। बताया गया था, इस बरसात के बाद भी अधिकतम और न्यूनतम तापमान में किसी विशेष परिवर्तन की संभावना नहीं है।

गुरुवार को भी ऐसा ही रहेगा मौसम

मौसम अनुमानों के मुताबिक गुरुवार को भी प्रदेश का मौसम कमोबेश ऐसा ही रहेगा। एक-दो स्थानों पर हल्की वर्षा होने अथवा गरज चमक के साथ छींटे पड़ने की संभावना है। प्रदेश में अधिकतम और न्यूनतम तापमान में विशेष परिवर्तन होने की संभावना नहीं है।

GiONews Team
Editor In Chief

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

बिलासपुर। छत्तीसगढ़ के मध्य और उत्तरी भाग में मौसम बिगड़ गया है। मौसम विभाग ने बताया है, बिलासपुर, कोरबा, जशपुर, सरगुजा और उनसे लगे जिलों में एक-दो स्थानों पर गरज चमक के साथ मौसम बहुत ज्यादा खराब रहने की संभावना है। रात आठ बजे तक यहां गरज-चमक के साथ अंधड़ उठने और आकाशीय बिजली गिरने की भी संभावना बन रही है। इस अलर्ट के बाद शाम 7 बजे से बिलासपुर में तेज बारिश होने लगी।

अनुमान जारी किया। इसके मुताबिक शाम 4 बजे से रात तक पेण्ड्रा, बिलासपुर, कोरबा, सरगुजा, सूरजपुर, जशपुर, कांकेर, धमतरी, गरियाबंद, महासमुंद और उनसे लगे जिलों में एक-दो स्थानों पर अंधड़ उठ सकता है। इन जिलों में एक-दो स्थानों पर गरज-चमक के साथ आकाशीय बिजली गिरने की संभावना भी बन रही है। शाम 7 बजे से बिलासपुर जिले में तेज हवाएं चलनी शुरू हुई। इसके बाद बूंदाबांदी और फिर तेज बौछारें पड़ने लगीं। करीब आधे घंटे बाद बारिश बंद हुई। इस बारिश से कुछ देर के लिए ही सही गर्मी से राहत मिली है। इस क्षेत्र में बादल अभी भी छाए हुए हैं। रात तक फिर बौछारें पड़ने का अनुमान है।

इससे पहले मौसम विभाग ने बताया था, अंदरूनी कर्नाटक से पश्चिमी विदर्भ तक एक द्रोणिका फैली हुई है। प्रदेश के उत्तर में उत्तरी और दक्षिण में दक्षिणी हवा का आगमन लगातार जारी है। ऐसे में बुधवार को एक-दो स्थानों पर हल्की वर्षा होने अथवा गरज-चमक के साथ छीेंटे पड़ने की संभावना है। बताया गया था, इस बरसात के बाद भी अधिकतम और न्यूनतम तापमान में किसी विशेष परिवर्तन की संभावना नहीं है।

गुरुवार को भी ऐसा ही रहेगा मौसम

मौसम अनुमानों के मुताबिक गुरुवार को भी प्रदेश का मौसम कमोबेश ऐसा ही रहेगा। एक-दो स्थानों पर हल्की वर्षा होने अथवा गरज चमक के साथ छींटे पड़ने की संभावना है। प्रदेश में अधिकतम और न्यूनतम तापमान में विशेष परिवर्तन होने की संभावना नहीं है।