Monday, September 26, 2022

हुसैन उमर दलवाई बोले- RSS झूठ बोलना सिखाता है…. स्कूल सभी संस्कृतियों का मिलन है।

बिलासपुर। बिलासपुर में महाराष्ट्र के कांग्रेस के लीडर और छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस के संगठन चुनाव अधिकारी हुसैन उमर दलवाई ने भाजपा और RSS के खिलाफ बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि वे हिजाब विजाब का समर्थन नहीं करने वाले नहीं है और न ही कोई कम्यूनल हैं। पहले लड़कियों के पहनावे में अंतर था वो आज भी है। लेकिन, यहां सवाल हिजाब का नहीं, सवाल महिलाओं की शिक्षा का है। जो स्कूल यूनिफार्म है, उसे लीजिए। स्कूल सब संस्कृति का मिलन है। लड़कियां पढ़ रही हैं यह कुछ लोगों को अच्छा नहीं लगता। उन्होंने कहा कि RSS और भाजपा के लोग झूठ बोलना और हिंसा सिखाते हैं।

कांग्रेस के संगठन चुनाव 2022–2027 के छत्तीसगढ़ प्रदेश के निर्वाचन अधिकारी हुसैन उमर दलवाई रविवार को डिजिटल सदस्यता अभियान को लेकर बैठक में शामिल होने पहुंचे। बैठक से पहले उन्होंने मीडिया से बातचीत की। उन्होंने कहा कि भाजपा और RSS देश के अलग-अलग हिस्से करने का काम कर रहे हैं। अलग-अलग समाज के बीच बंटवारा कर रहे हैं। इसके साथ ही लाठी और हिंसा सिखाने का काम कर रहे हैं। हिंसा से देश में कोई राजनीति नहीं चली, लेकिन वे लोग हिंसा सिखाते हैं। हिंसा इस देश की परंपरा नहीं है। इसलिए गांधी सफल हुए। राष्ट्रवाद के नाम पर हिंदुत्ववाद सिखाते हैं। लेकिन, हम इससे अलग सिखाते हैं।

भाजपा ने प्रतिक्रांतिवादी आंदोलन शुरू किया है…..
उन्होंने कहा कि भाजपा ने देश में प्रतिक्रांतिवादी आंदोलन चालू किया है, जो यहां राहत की बात है और लोगों के पेट का सवाल है। मूलभूत आवश्यकता है उसे छिपाकर यह बताने की कोशिश करते हैं और यह दावा करते हैं कि विकास के जरिए जीत हुई है। पर सच्चाई यह नहीं है। महामारी में जो मजदूर परेशान हुए और रोजगारी के लिए पलायन करने वाले परेशान होते रहे। गंगा नदी में लाशें बहती रही। उन्होंने कहा कि हम हार की वजह का क्या है इसका एनालिसिस जरूर करेंगे। इसके लिए CWC की बैठक हो रही है।

डिजिटल सदस्यता में बिलासपुर में देखा उत्साह…..
दलवाई ने कहा कि बिलासपुर में डिजिटल सदस्यता अभियान को लेकर अच्छा उत्साह है, जिसे देखकर मैं हैरान हूं। संगठन के पदाधिकारी के साथ ही विधायक भी अभियान में लगे हुए हैं। बिलासपुर में अब तक एक लाख सदस्य बनाए गए हैं। आने वाले दिनों में एक लाख 25 हजार सदस्य बनाने का दावा किया जा रहा है, जो उत्साहजनक है।

GiONews Team
Editor In Chief

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

बिलासपुर। बिलासपुर में महाराष्ट्र के कांग्रेस के लीडर और छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस के संगठन चुनाव अधिकारी हुसैन उमर दलवाई ने भाजपा और RSS के खिलाफ बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि वे हिजाब विजाब का समर्थन नहीं करने वाले नहीं है और न ही कोई कम्यूनल हैं। पहले लड़कियों के पहनावे में अंतर था वो आज भी है। लेकिन, यहां सवाल हिजाब का नहीं, सवाल महिलाओं की शिक्षा का है। जो स्कूल यूनिफार्म है, उसे लीजिए। स्कूल सब संस्कृति का मिलन है। लड़कियां पढ़ रही हैं यह कुछ लोगों को अच्छा नहीं लगता। उन्होंने कहा कि RSS और भाजपा के लोग झूठ बोलना और हिंसा सिखाते हैं।

कांग्रेस के संगठन चुनाव 2022–2027 के छत्तीसगढ़ प्रदेश के निर्वाचन अधिकारी हुसैन उमर दलवाई रविवार को डिजिटल सदस्यता अभियान को लेकर बैठक में शामिल होने पहुंचे। बैठक से पहले उन्होंने मीडिया से बातचीत की। उन्होंने कहा कि भाजपा और RSS देश के अलग-अलग हिस्से करने का काम कर रहे हैं। अलग-अलग समाज के बीच बंटवारा कर रहे हैं। इसके साथ ही लाठी और हिंसा सिखाने का काम कर रहे हैं। हिंसा से देश में कोई राजनीति नहीं चली, लेकिन वे लोग हिंसा सिखाते हैं। हिंसा इस देश की परंपरा नहीं है। इसलिए गांधी सफल हुए। राष्ट्रवाद के नाम पर हिंदुत्ववाद सिखाते हैं। लेकिन, हम इससे अलग सिखाते हैं।

भाजपा ने प्रतिक्रांतिवादी आंदोलन शुरू किया है…..
उन्होंने कहा कि भाजपा ने देश में प्रतिक्रांतिवादी आंदोलन चालू किया है, जो यहां राहत की बात है और लोगों के पेट का सवाल है। मूलभूत आवश्यकता है उसे छिपाकर यह बताने की कोशिश करते हैं और यह दावा करते हैं कि विकास के जरिए जीत हुई है। पर सच्चाई यह नहीं है। महामारी में जो मजदूर परेशान हुए और रोजगारी के लिए पलायन करने वाले परेशान होते रहे। गंगा नदी में लाशें बहती रही। उन्होंने कहा कि हम हार की वजह का क्या है इसका एनालिसिस जरूर करेंगे। इसके लिए CWC की बैठक हो रही है।

डिजिटल सदस्यता में बिलासपुर में देखा उत्साह…..
दलवाई ने कहा कि बिलासपुर में डिजिटल सदस्यता अभियान को लेकर अच्छा उत्साह है, जिसे देखकर मैं हैरान हूं। संगठन के पदाधिकारी के साथ ही विधायक भी अभियान में लगे हुए हैं। बिलासपुर में अब तक एक लाख सदस्य बनाए गए हैं। आने वाले दिनों में एक लाख 25 हजार सदस्य बनाने का दावा किया जा रहा है, जो उत्साहजनक है।