Monday, September 26, 2022

अधूरा प्यार…….क्यो प्रेमी की शादी के दिन युवती ने अत्महत्या की….सुसाइड नोट में लिखा-भैया उसको बताना मैं कितना प्यार करती थी….. उससे, कहना-मेरी लाश देखने जरूर आए।

कोरबा। छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले में युवती ने अपने प्रेमी के शादी वाले दिन जान दे दी। उसने अपने ही घर में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। साथ ही उसने एक सुसाइड नोट भी छोड़ा है, जिसमें उसने लिखा है कि भैया ये मेरी आखिरी इच्छा है कि उसको ये जरूर बताना कि मैं उससे कितना प्यार करती थी। उससे यह भी कहना कि मेरे मरने के बाद मेरी लाश देखने जरूर आए।

दरअसल, ये पूरी घटना हुई है कोतवाली थाना क्षेत्र के रामसागर पारा में, यहां रहने वाली प्रीति मंहत (27) फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। शुक्रवार सुबह उसके परिजनों ने कमरे में पंखे में फंदे पर लटकी हुई उसकी लाश मिली थी। बताया जा रहा है कि युवती ने शुक्रवार सुबह ही आत्महत्या किया था। घटना के बाद परिजनों ने पुलिस को इस बात की सूचना दी थी। युवती एलआईसी एजेंट के रूप में काम करती थी।

सुसाइड नोट में ये लिखा

खबर मिलते ही पुलिस की टीम मौके पर पहुंची और शव को फंदे से उतारा गया था। इसके बाद पुलिस ने मौके से एक सुसाइड नोट भी बरामद किया है। यह सुसाइड नोट प्रीति ने अपने भाई के नाम लिखा है।

सुसाइड नोट में प्रीति ने लिखा है कि मैं अपने प्रेमी से बहुत प्यार करती थी। मगर उसने मुझे धोखा दिया है और आज शादी कर रहा है। उसने लिखा मैंने बहुत जीने की कोशिश की, लेकिन जिंदगी से हार गई हूं। प्रीति ने आगे लिखा है भैया मुझे माफ कर देना। अब आप किसी पर भरोसा नहीं करना। मेरी अंतिम इच्छा है कि मेरी प्रेमी को यह जरूर बताना कि मैं उसे कितना प्यार करती थी। उससे यह भी कहना कि मेरे मरने के बाद मेरी लाश देखने जरूर आए। आगे युवती ने लिखा भैया सब मतलबी हैं, सब आपसे काम के वक्त ही मतलब रखेंगे। सबको दूसरों की गलतियां दिखती है, लेकिन अपने बच्चों की गलतियां नहीं दिखती हैं।

युवती ने लिखा मैंने बहुत कोशिश की अपने प्रेमी से बात करने की, पर नहीं कर पाई। वो हमेशा मुझसे झूठ बोलता रहा और मैं पागलों की तरह उससे प्यार करती रही। साथ ही उसकी झूठी बातों को सच समझ लेती थी। मां, चाचा,दादाजी इन सब को खोने के बाद मुझमें और हिम्मत नहीं है किसी को खोने की। मैंने यह सब उससे बताया था, लेकिन उसके लिए यह सब मजाक था।

तुमने मेरे लिए सब कुछ किया है भाई। बस आखिरी बार उससे इतना पूछ लेना उसने मेरे साथ ऐसा क्यों किया। आगे लिखा अगला जन्म मिला तो तुम्हारी बेटी बनूंगी भाई, मुझसे नफरत मत करना, मैं थक गई हूं। मुझे माफ कर देना।

भाई बोला-मैं शादी ही नहीं होने देता

परिजनों ने बताया है कि प्रीति का दर्री क्षेत्र में रहने वाले युवक से काफी समय से प्रेम प्रसंग था। इस बीच युवक की शादी लग गई थी। शुक्रवार को युवक की शादी होने वाली थी। इस बात से युवती परेशान थी। आखिरकार सुबह उसने यह कदम उठा लिया है। इस पूरे मामले को लेकर प्रीति के भाई केशर दास महंत ने कहा है कि जिस युवक के कारण मेरे बहन की मौत हई। उसकी शादी शुक्रवार को होने वाली थी। उसके खिलाफ कार्रवाई होना चाहिए। केसर ने कहा कि मुझे पता होता तो मैं उस लड़के की शादी ही नहीं होने देता। मैं उस लड़के से अपनी बहन की शादी करवाता। अब मुझे इंसाफ चाहिए।

GiONews Team
Editor In Chief

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

कोरबा। छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले में युवती ने अपने प्रेमी के शादी वाले दिन जान दे दी। उसने अपने ही घर में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। साथ ही उसने एक सुसाइड नोट भी छोड़ा है, जिसमें उसने लिखा है कि भैया ये मेरी आखिरी इच्छा है कि उसको ये जरूर बताना कि मैं उससे कितना प्यार करती थी। उससे यह भी कहना कि मेरे मरने के बाद मेरी लाश देखने जरूर आए।

दरअसल, ये पूरी घटना हुई है कोतवाली थाना क्षेत्र के रामसागर पारा में, यहां रहने वाली प्रीति मंहत (27) फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। शुक्रवार सुबह उसके परिजनों ने कमरे में पंखे में फंदे पर लटकी हुई उसकी लाश मिली थी। बताया जा रहा है कि युवती ने शुक्रवार सुबह ही आत्महत्या किया था। घटना के बाद परिजनों ने पुलिस को इस बात की सूचना दी थी। युवती एलआईसी एजेंट के रूप में काम करती थी।

सुसाइड नोट में ये लिखा

खबर मिलते ही पुलिस की टीम मौके पर पहुंची और शव को फंदे से उतारा गया था। इसके बाद पुलिस ने मौके से एक सुसाइड नोट भी बरामद किया है। यह सुसाइड नोट प्रीति ने अपने भाई के नाम लिखा है।

सुसाइड नोट में प्रीति ने लिखा है कि मैं अपने प्रेमी से बहुत प्यार करती थी। मगर उसने मुझे धोखा दिया है और आज शादी कर रहा है। उसने लिखा मैंने बहुत जीने की कोशिश की, लेकिन जिंदगी से हार गई हूं। प्रीति ने आगे लिखा है भैया मुझे माफ कर देना। अब आप किसी पर भरोसा नहीं करना। मेरी अंतिम इच्छा है कि मेरी प्रेमी को यह जरूर बताना कि मैं उसे कितना प्यार करती थी। उससे यह भी कहना कि मेरे मरने के बाद मेरी लाश देखने जरूर आए। आगे युवती ने लिखा भैया सब मतलबी हैं, सब आपसे काम के वक्त ही मतलब रखेंगे। सबको दूसरों की गलतियां दिखती है, लेकिन अपने बच्चों की गलतियां नहीं दिखती हैं।

युवती ने लिखा मैंने बहुत कोशिश की अपने प्रेमी से बात करने की, पर नहीं कर पाई। वो हमेशा मुझसे झूठ बोलता रहा और मैं पागलों की तरह उससे प्यार करती रही। साथ ही उसकी झूठी बातों को सच समझ लेती थी। मां, चाचा,दादाजी इन सब को खोने के बाद मुझमें और हिम्मत नहीं है किसी को खोने की। मैंने यह सब उससे बताया था, लेकिन उसके लिए यह सब मजाक था।

तुमने मेरे लिए सब कुछ किया है भाई। बस आखिरी बार उससे इतना पूछ लेना उसने मेरे साथ ऐसा क्यों किया। आगे लिखा अगला जन्म मिला तो तुम्हारी बेटी बनूंगी भाई, मुझसे नफरत मत करना, मैं थक गई हूं। मुझे माफ कर देना।

भाई बोला-मैं शादी ही नहीं होने देता

परिजनों ने बताया है कि प्रीति का दर्री क्षेत्र में रहने वाले युवक से काफी समय से प्रेम प्रसंग था। इस बीच युवक की शादी लग गई थी। शुक्रवार को युवक की शादी होने वाली थी। इस बात से युवती परेशान थी। आखिरकार सुबह उसने यह कदम उठा लिया है। इस पूरे मामले को लेकर प्रीति के भाई केशर दास महंत ने कहा है कि जिस युवक के कारण मेरे बहन की मौत हई। उसकी शादी शुक्रवार को होने वाली थी। उसके खिलाफ कार्रवाई होना चाहिए। केसर ने कहा कि मुझे पता होता तो मैं उस लड़के की शादी ही नहीं होने देता। मैं उस लड़के से अपनी बहन की शादी करवाता। अब मुझे इंसाफ चाहिए।