Friday, December 3, 2021

खुदकुशी : मोबाइल मैकेनिक ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, दुकान मालिक से तंग आकर उठाया कदम

बिलासपुर – मोबाइल दुकान में काम करने वाले मैकेनिक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। उसके पास से मिले सुसाइड नोट के आधार पर पुलिस ने दुकान संचालक के खिलाफ अपराध दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है। सुसाइड नोट में युवक ने लिखा है, कि छोटी सी गलती के लिए दुकान संचालक उससे 15 लाख रुपए मांग रहा था। इसके चलते उसे खुदकुशी करनी पड़ी।

आरोपी दुकान संचालक नरेंद्र मंगवानी - Dainik Bhaskar
आरोपी दुकान संचालक

सरकंडा थाना प्रभारी परिवेश तिवारी ने बताया कि मूलत: तखतपुर क्षेत्र के लिमही निवासी मृणेंद्र तिवारी (21) राजीव प्लाजा के एआर कम्यूनिकेशन में मोबाइल मैकेनिक का काम करता था। वह अशोक विहार प्रगति पार्क के सामने उदय देवांगन के मकान में किराए में रहता था। बुधवार शाम उसने अपने कमरे में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। देर शाम उसके पड़ोसी ने देखा तो पुलिस को सूचना दी।

मौके पर पहुंची पुलिस ने रात होने की वजह से कमरे को सील कर दिया। साथ ही इस घटना की जानकारी गणेश के परिजनों को दी गई। गुरुवार की सुबह उनकी मौजूदगी में कमरा खोलकर जांच की गई। तब एक सुसाइड नोट मिला। पुलिस ने मृतक मृणेंद्र गणेश के परिजनों के बयान व सुसाइड नोट के आधार पर मिनोचा कालोनी निवासी आरोपी नरेंद्र मंगवानी के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का अपराध दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है।

फांसी लगाकर आत्महत्या करने वाले मृणेंद्र तिवारी से मिले सुसाइड नोट में लिखा है कि उसकी छोटी सी गलती के कारण दुकान मालिक नरेंद्र मंगवानी 15 लाख रुपए की मांग कर रहा था। वह रुपए देने की हालत में नहीं था। इसके चलते उसे आत्महत्या करने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है। पुलिस ने सुसाइड नोट के आधार पर आरोपी से पूछताछ की, तब उसने बताया कि लाखों रुपए मांगने की बात झूठ है। उसने मृतक को चोरी करते पकड़ लिया था। चोरी गई सामान के एवज में ही रुपए मांग रहा था।

GiONews Team
Editor In Chief

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

बिलासपुर – मोबाइल दुकान में काम करने वाले मैकेनिक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। उसके पास से मिले सुसाइड नोट के आधार पर पुलिस ने दुकान संचालक के खिलाफ अपराध दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है। सुसाइड नोट में युवक ने लिखा है, कि छोटी सी गलती के लिए दुकान संचालक उससे 15 लाख रुपए मांग रहा था। इसके चलते उसे खुदकुशी करनी पड़ी।

आरोपी दुकान संचालक नरेंद्र मंगवानी - Dainik Bhaskar
आरोपी दुकान संचालक

सरकंडा थाना प्रभारी परिवेश तिवारी ने बताया कि मूलत: तखतपुर क्षेत्र के लिमही निवासी मृणेंद्र तिवारी (21) राजीव प्लाजा के एआर कम्यूनिकेशन में मोबाइल मैकेनिक का काम करता था। वह अशोक विहार प्रगति पार्क के सामने उदय देवांगन के मकान में किराए में रहता था। बुधवार शाम उसने अपने कमरे में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। देर शाम उसके पड़ोसी ने देखा तो पुलिस को सूचना दी।

मौके पर पहुंची पुलिस ने रात होने की वजह से कमरे को सील कर दिया। साथ ही इस घटना की जानकारी गणेश के परिजनों को दी गई। गुरुवार की सुबह उनकी मौजूदगी में कमरा खोलकर जांच की गई। तब एक सुसाइड नोट मिला। पुलिस ने मृतक मृणेंद्र गणेश के परिजनों के बयान व सुसाइड नोट के आधार पर मिनोचा कालोनी निवासी आरोपी नरेंद्र मंगवानी के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का अपराध दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है।

फांसी लगाकर आत्महत्या करने वाले मृणेंद्र तिवारी से मिले सुसाइड नोट में लिखा है कि उसकी छोटी सी गलती के कारण दुकान मालिक नरेंद्र मंगवानी 15 लाख रुपए की मांग कर रहा था। वह रुपए देने की हालत में नहीं था। इसके चलते उसे आत्महत्या करने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है। पुलिस ने सुसाइड नोट के आधार पर आरोपी से पूछताछ की, तब उसने बताया कि लाखों रुपए मांगने की बात झूठ है। उसने मृतक को चोरी करते पकड़ लिया था। चोरी गई सामान के एवज में ही रुपए मांग रहा था।