Monday, September 26, 2022

वृद्धा की गला रेत कर हत्या : खून से लथपथ उसके ही घर मे मिला शव, धारदार हथियार से चेहरे पर भी किए वार..

बलौदाबाजार – छत्तीसगढ़ के बलौदाबाजार में एक वृद्धा की गला रेत कर हत्या कर दी गई। धारदार हथियार से उसके चेहरे पर भी वार किया गया है। महिला का शव उसके ही घर में जमीन पर पड़ा मिला। वारदात एक दिन पुरानी है, लेकिन नेटवर्क समस्या के चलते पुलिस से संपर्क नहीं हो सका। पुलिस को वारदात में किसी परिचित पर ही हत्या का संदेह है। अभी तक वारदात में इस्तेमाल कोई हथियार नहीं मिला है। मामला सलिहा थाना क्षेत्र का है।

ग्राम कौहाजुनवानी निवासी समारिन बाई (65) घर में ही किराना दुकान चलाती थी। उनके पति हलधर सिदार की करीब 10 साल पहले मौत हो गई थी। शनिवार को जब स्थानीय ग्रामीण सामान लेने के लिए पहुंचे तो दुकान बंद थी। इस पर उन्होंने आवाज दी। काफी देर तक कोई नहीं बोला तो घर का दरवाजा खुला देख अंदर चले गए। अंदर खून से लथपथ समारिन बाई का शव पड़ा हुआ था। इस पर ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी।

महिला सामरिन बाई के दो बेटे हैं। दोनों बेटे उससे अलग ही रहते हैं। बड़ा बेटा अपनी ससुराल में रहता है, तो दूसरा अपने परिवार के साथ गांव में ही घर से करीब डेढ़-दो किमी रहता है। घर में सामरिन बाई अकेले ही रहती थी। वारदात के बाद मकान में लूट और छीना-झपटी के निशान नहीं मिले हैं। इसके चलते वारदात के पीछे हत्या का कारण स्पष्ट नहीं है। अभी तक दुश्मनी जैसी भी कोई बात सामने नहीं आई है।

पुलिस ने बताया कि हत्या 14 जनवरी की शाम 7 बजे से 15 जनवरी की सुबह 6.30 बजे के बीच हुई है। दरवाजा अंदर से खोला गया था। ऐसे में आशंका है- हत्यारे को सामरिन बाई जानती थी। इसी के चलते उसने दरवाजा रात को खोल दिया। यह भी आशंका है कि हत्या को लेकर पहले से ही साजिश रची गई। हत्यारा अपने साथ हथियार लेकर आया था और वारदात के बाद लेकर चला गया।

GiONews Team
Editor In Chief

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

बलौदाबाजार – छत्तीसगढ़ के बलौदाबाजार में एक वृद्धा की गला रेत कर हत्या कर दी गई। धारदार हथियार से उसके चेहरे पर भी वार किया गया है। महिला का शव उसके ही घर में जमीन पर पड़ा मिला। वारदात एक दिन पुरानी है, लेकिन नेटवर्क समस्या के चलते पुलिस से संपर्क नहीं हो सका। पुलिस को वारदात में किसी परिचित पर ही हत्या का संदेह है। अभी तक वारदात में इस्तेमाल कोई हथियार नहीं मिला है। मामला सलिहा थाना क्षेत्र का है।

ग्राम कौहाजुनवानी निवासी समारिन बाई (65) घर में ही किराना दुकान चलाती थी। उनके पति हलधर सिदार की करीब 10 साल पहले मौत हो गई थी। शनिवार को जब स्थानीय ग्रामीण सामान लेने के लिए पहुंचे तो दुकान बंद थी। इस पर उन्होंने आवाज दी। काफी देर तक कोई नहीं बोला तो घर का दरवाजा खुला देख अंदर चले गए। अंदर खून से लथपथ समारिन बाई का शव पड़ा हुआ था। इस पर ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी।

महिला सामरिन बाई के दो बेटे हैं। दोनों बेटे उससे अलग ही रहते हैं। बड़ा बेटा अपनी ससुराल में रहता है, तो दूसरा अपने परिवार के साथ गांव में ही घर से करीब डेढ़-दो किमी रहता है। घर में सामरिन बाई अकेले ही रहती थी। वारदात के बाद मकान में लूट और छीना-झपटी के निशान नहीं मिले हैं। इसके चलते वारदात के पीछे हत्या का कारण स्पष्ट नहीं है। अभी तक दुश्मनी जैसी भी कोई बात सामने नहीं आई है।

पुलिस ने बताया कि हत्या 14 जनवरी की शाम 7 बजे से 15 जनवरी की सुबह 6.30 बजे के बीच हुई है। दरवाजा अंदर से खोला गया था। ऐसे में आशंका है- हत्यारे को सामरिन बाई जानती थी। इसी के चलते उसने दरवाजा रात को खोल दिया। यह भी आशंका है कि हत्या को लेकर पहले से ही साजिश रची गई। हत्यारा अपने साथ हथियार लेकर आया था और वारदात के बाद लेकर चला गया।