Wednesday, August 10, 2022

Paytm का KYC बंद होने का झांसा देकर शिक्षिका के खाते से 50 हजार पार

बिलासपुर– पेटीएम का के वाय सी बंद होने का झांसा देकर ठग ने ब्रिलयन्ट पब्लिक स्कूल की शिक्षिका के बैंक खाते से 50 हजार रु निकाल लिये। मामले की रिपोर्ट पर सरकंडा पुलिस ने अज्ञात आरोपी के खिलाफ जुर्म दर्ज किया है।
सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र के जूनी लाइन की निवासी ज्योति पांडेय ब्रिलयन्ट पब्लिक स्कूल में शिक्षिका है। उनका बैंक ऑफ बड़ौदा के राजकिशोर नगर शाखा में खाता है। बीते 7 मार्च को उनके पति सचिन के पास 8250045392 नंबर से फोन आया। फोन करने वाले ने खुद को पेटीएम अधिकारी बताते हुए कहा, कि आप के एटीएम का केवायसी नंबर अगले 12 घंटे में बंद हो जायेगा। इसे अपडेट कराने की बात कहते हुए एटीएम नंबर की जानकारी ली। इसके बाद रात में शिक्षिका के मोबाईल में उसके बैंक खाते से दो किश्त में 50 हजार रु निकाले जाने का मैसेज आया। उन्होंने इसकी बैंक व् साइबर सेल को जानकारी दी एवं खाते से रकम निकासी पर रोक लगवाई, और ठग के खिलाफ सरकंडा थाने में रिपोर्ट लिखाई है। पुलिस ने धारा 420 के तहत जुर्म दर्ज कर जांच शुरू कर दिया है।

GiONews Team
Editor In Chief

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

बिलासपुर– पेटीएम का के वाय सी बंद होने का झांसा देकर ठग ने ब्रिलयन्ट पब्लिक स्कूल की शिक्षिका के बैंक खाते से 50 हजार रु निकाल लिये। मामले की रिपोर्ट पर सरकंडा पुलिस ने अज्ञात आरोपी के खिलाफ जुर्म दर्ज किया है।
सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र के जूनी लाइन की निवासी ज्योति पांडेय ब्रिलयन्ट पब्लिक स्कूल में शिक्षिका है। उनका बैंक ऑफ बड़ौदा के राजकिशोर नगर शाखा में खाता है। बीते 7 मार्च को उनके पति सचिन के पास 8250045392 नंबर से फोन आया। फोन करने वाले ने खुद को पेटीएम अधिकारी बताते हुए कहा, कि आप के एटीएम का केवायसी नंबर अगले 12 घंटे में बंद हो जायेगा। इसे अपडेट कराने की बात कहते हुए एटीएम नंबर की जानकारी ली। इसके बाद रात में शिक्षिका के मोबाईल में उसके बैंक खाते से दो किश्त में 50 हजार रु निकाले जाने का मैसेज आया। उन्होंने इसकी बैंक व् साइबर सेल को जानकारी दी एवं खाते से रकम निकासी पर रोक लगवाई, और ठग के खिलाफ सरकंडा थाने में रिपोर्ट लिखाई है। पुलिस ने धारा 420 के तहत जुर्म दर्ज कर जांच शुरू कर दिया है।