Monday, September 26, 2022

सिंहदेव का इस्तीफा स्वीकार: टीएस बाबा की जगह रविंद्र चौबे होंगे पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री

रायपुर– CM भूपेश बघेल ने वरिष्ठ मंत्री टीएस सिंहदेव का पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग से इस्तीफा स्वीकार कर लिया है। उसके बाद सामान्य प्रशासन विभाग ने बदलाव की अधिसूचना भी जारी कर दी है। इसके मुताबिक सिंहदेव के पास अब स्वास्थ्य, चिकित्सा शिक्षा, जीएसटी और 20 सूत्री कार्यक्रम क्रियान्वयन विभाग की जिम्मेदारी होगी। पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग अब कृषि मंत्री रविंद्र चौबे संभालेंगे।

मंत्री टीएस सिंहदेव ने शनिवार शाम को पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग से इस्तीफे की घोषणा की थी। उन्होंने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को चार पेज का एक पत्र लिखा। इसमें विभाग में लगातार दखल और उनके प्रस्तावों पर काम नहीं होने की गंभीर शिकायतें हैं। इस पत्र में उन्होंने साफ शब्दों में कहा है कि वे पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के भार से खुद को पृथक कर रहे हैं।

करीब पांच दिनों के मंथन के बाद गुरुवार शाम उनका एक विभाग से इस्तीफा स्वीकार कर मंत्रियों की जिम्मेदारियों में फेरबदल किया गया।मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने विधानसभा में मंत्रिमंडल में फेरबदल की सूचना दी। छत्तीसगढ़ के राजपत्र में सामान्य प्रशासन विभाग ने मंत्रियों के विभागों में बदलाव की अधिसूचना भी प्रकाशित की है। इसमें रविंद्र चौबे के कृषि, पशुधन विकास, मछली पालन, जल संसाधन और संसदीय कार्य विभाग के साथ पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

GiONews Team
Editor In Chief

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

रायपुर– CM भूपेश बघेल ने वरिष्ठ मंत्री टीएस सिंहदेव का पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग से इस्तीफा स्वीकार कर लिया है। उसके बाद सामान्य प्रशासन विभाग ने बदलाव की अधिसूचना भी जारी कर दी है। इसके मुताबिक सिंहदेव के पास अब स्वास्थ्य, चिकित्सा शिक्षा, जीएसटी और 20 सूत्री कार्यक्रम क्रियान्वयन विभाग की जिम्मेदारी होगी। पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग अब कृषि मंत्री रविंद्र चौबे संभालेंगे।

मंत्री टीएस सिंहदेव ने शनिवार शाम को पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग से इस्तीफे की घोषणा की थी। उन्होंने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को चार पेज का एक पत्र लिखा। इसमें विभाग में लगातार दखल और उनके प्रस्तावों पर काम नहीं होने की गंभीर शिकायतें हैं। इस पत्र में उन्होंने साफ शब्दों में कहा है कि वे पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के भार से खुद को पृथक कर रहे हैं।

करीब पांच दिनों के मंथन के बाद गुरुवार शाम उनका एक विभाग से इस्तीफा स्वीकार कर मंत्रियों की जिम्मेदारियों में फेरबदल किया गया।मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने विधानसभा में मंत्रिमंडल में फेरबदल की सूचना दी। छत्तीसगढ़ के राजपत्र में सामान्य प्रशासन विभाग ने मंत्रियों के विभागों में बदलाव की अधिसूचना भी प्रकाशित की है। इसमें रविंद्र चौबे के कृषि, पशुधन विकास, मछली पालन, जल संसाधन और संसदीय कार्य विभाग के साथ पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग की जिम्मेदारी सौंपी गई है।