Tuesday, September 27, 2022

कीचड़ में सड़क की खोज….. रोड में विधायक का खेत और महापौर का तालाब……. बदहाल सिस्टम की खुली पोल……. मजे में जिम्मेदार।

कोरबा। जिले में एक अनोखा प्रदर्शन देखने को मिला. जहां सड़क पर विधायक के नाम से खेती और महापौर के नाम से तालाब बनाए जाने का बोर्ड लगाया गया. जहां स्थानीय लोग हाथ पर पोस्टर लिए जर्जर सड़क का विरोध करते नजर आ रहे हैं.

बता दें कि, लोगों का आरोप है कि शहर के मध्य स्थित कोसाबाड़ी मुख्य मार्ग पर कृष्णा हॉस्पिटल और न्यू कोरबा हॉस्पिटल संचालित है. इसके आसपास कॉलोनी भी है. जिसमें लोग निवास करते हैं, लेकिन इस हॉस्पिटल में आने-जाने वाला मार्ग जर्जर हो चुका है. इसकी मरम्मत की मांग को लेकर काफी लंबे समय से प्रयास किया जा रहा है. लेकिन अब तक जर्जर मार्ग का सुधार कार्य नहीं कराया जा सका. जिसके चलते हैं अस्पताल में आने वाले मरीज और आम लोग सहित आसपास के रहवासी काफी परेशान हैं.

प्रदर्शन कर रहे युवाओं का आरोप है कि इसकी शिकायत कई बार करने के बाद भी मरम्मत कार्य नहीं हो सका है. जिसके कारण प्रदर्शन करने पर मजबूर हैं. यहां के जनप्रतिनिधि और जिला प्रशासन का ध्यान आकर्षित करने यह प्रदर्शन किया जा रहा है. लोग बताते हैं कि इस मार्ग पर आवाजाही करने वाले लोग कई बार हादसे का शिकार हो चुके हैं. कई गंभीर मरीज अस्पताल आवाजाही करते हैं. लेकिन निजी अस्पताल होने के बावजूद भी कोई समारोह को बनवाने के लिए तैयार नहीं हैं. जिसका खामियाजा आम जनता भुगत रही है.

GiONews Team
Editor In Chief

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

कोरबा। जिले में एक अनोखा प्रदर्शन देखने को मिला. जहां सड़क पर विधायक के नाम से खेती और महापौर के नाम से तालाब बनाए जाने का बोर्ड लगाया गया. जहां स्थानीय लोग हाथ पर पोस्टर लिए जर्जर सड़क का विरोध करते नजर आ रहे हैं.

बता दें कि, लोगों का आरोप है कि शहर के मध्य स्थित कोसाबाड़ी मुख्य मार्ग पर कृष्णा हॉस्पिटल और न्यू कोरबा हॉस्पिटल संचालित है. इसके आसपास कॉलोनी भी है. जिसमें लोग निवास करते हैं, लेकिन इस हॉस्पिटल में आने-जाने वाला मार्ग जर्जर हो चुका है. इसकी मरम्मत की मांग को लेकर काफी लंबे समय से प्रयास किया जा रहा है. लेकिन अब तक जर्जर मार्ग का सुधार कार्य नहीं कराया जा सका. जिसके चलते हैं अस्पताल में आने वाले मरीज और आम लोग सहित आसपास के रहवासी काफी परेशान हैं.

प्रदर्शन कर रहे युवाओं का आरोप है कि इसकी शिकायत कई बार करने के बाद भी मरम्मत कार्य नहीं हो सका है. जिसके कारण प्रदर्शन करने पर मजबूर हैं. यहां के जनप्रतिनिधि और जिला प्रशासन का ध्यान आकर्षित करने यह प्रदर्शन किया जा रहा है. लोग बताते हैं कि इस मार्ग पर आवाजाही करने वाले लोग कई बार हादसे का शिकार हो चुके हैं. कई गंभीर मरीज अस्पताल आवाजाही करते हैं. लेकिन निजी अस्पताल होने के बावजूद भी कोई समारोह को बनवाने के लिए तैयार नहीं हैं. जिसका खामियाजा आम जनता भुगत रही है.