Thursday, October 6, 2022

राहुल के सामने पाटा जा रहा रेस्क्यू वाला गड्‌ढा.. ‘भूलन द मेज’ की टीम बनाएगी फिल्म..

जांजगीर– जिले के पिहरीद गांव में बोरवेल में गिरे 10 साल के राहुल को बचाने के लिए खोदे गए गड्‌ढे और टनल को बंद करने का काम सोमवार को शुरू हो गया है। JCB की मदद से गड्‌ढे में मिट्‌टी डालकर पाटने का काम चल रहा है। खास बात यह है कि राहुल भी वहां कुर्सी पर बैठकर इस गड्‌ढे को पाटते हुए देख रहा है। वहीं दूसरी ओर छत्तीसगढ़ी फिल्म ‘भूलन द मेज’ की टीम राहुल वाले गड्‌ढे पर फीचर फिल्म बनाने की तैयारी में है। टीम के लोग इसके लिए मौके पर निरीक्षण करने भी गए थे।

मालखरौद ब्लॉक के पिहरीद गांव निवासी राहुल साहू उसके घर के पीछे खुले पड़े 60 फीट गहरे बोरवेल में गिर गया था। देश का सबसे बड़ा रेस्क्यू ऑपरेशन 105 घंटे तक चलाकर राहुल को बचाया गया। गड्‌ढा करीब 65 से 70 फीट गहरा और इतना ही चौड़ा है। ग्रामीणों ने अनहोनी के डर से कलेक्टर को पत्र लिखकर गड्‌ढा पाटने की बात कही थी। इसे लेकर दैनिक भास्कर ने खबर भी प्रकाशित की थी। इसके बाद कलेक्टर ने डॉक्यूमेंट्री बनाने की बात कहते हुए गड्‌ढे की बैरिकेडिंग करा दी थी।

हालांकि अब इस गड्‌ढे को पाटने का काम किया जा रहा है। सोमवार को प्रशासन की टीम JCB, हाइवा के साथ ही मजदूरों को लेकर भी गांव पहुंची। इसके बाद गड्‌ढे को पाटने का काम शुरू किया गया। इस दौरान राहुल भी वहां बैठकर पूरा नजारा देखता रहा। वहीं बताया जा रहा है कि ‘भूलन द मेज’ के डायरेक्टर मनोज वर्मा और उनकी टीम इस पूरे रेस्क्यू ऑपरेशन पर फीचर फिल्म बनाने की तैयारी में है। इसे लेकर मौके का मुआयना भी किया है। हालांकि प्रशासन की ओर से इसकी पुष्टि नहीं की जा रही है।

GiONews Team
Editor In Chief

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

जांजगीर– जिले के पिहरीद गांव में बोरवेल में गिरे 10 साल के राहुल को बचाने के लिए खोदे गए गड्‌ढे और टनल को बंद करने का काम सोमवार को शुरू हो गया है। JCB की मदद से गड्‌ढे में मिट्‌टी डालकर पाटने का काम चल रहा है। खास बात यह है कि राहुल भी वहां कुर्सी पर बैठकर इस गड्‌ढे को पाटते हुए देख रहा है। वहीं दूसरी ओर छत्तीसगढ़ी फिल्म ‘भूलन द मेज’ की टीम राहुल वाले गड्‌ढे पर फीचर फिल्म बनाने की तैयारी में है। टीम के लोग इसके लिए मौके पर निरीक्षण करने भी गए थे।

मालखरौद ब्लॉक के पिहरीद गांव निवासी राहुल साहू उसके घर के पीछे खुले पड़े 60 फीट गहरे बोरवेल में गिर गया था। देश का सबसे बड़ा रेस्क्यू ऑपरेशन 105 घंटे तक चलाकर राहुल को बचाया गया। गड्‌ढा करीब 65 से 70 फीट गहरा और इतना ही चौड़ा है। ग्रामीणों ने अनहोनी के डर से कलेक्टर को पत्र लिखकर गड्‌ढा पाटने की बात कही थी। इसे लेकर दैनिक भास्कर ने खबर भी प्रकाशित की थी। इसके बाद कलेक्टर ने डॉक्यूमेंट्री बनाने की बात कहते हुए गड्‌ढे की बैरिकेडिंग करा दी थी।

हालांकि अब इस गड्‌ढे को पाटने का काम किया जा रहा है। सोमवार को प्रशासन की टीम JCB, हाइवा के साथ ही मजदूरों को लेकर भी गांव पहुंची। इसके बाद गड्‌ढे को पाटने का काम शुरू किया गया। इस दौरान राहुल भी वहां बैठकर पूरा नजारा देखता रहा। वहीं बताया जा रहा है कि ‘भूलन द मेज’ के डायरेक्टर मनोज वर्मा और उनकी टीम इस पूरे रेस्क्यू ऑपरेशन पर फीचर फिल्म बनाने की तैयारी में है। इसे लेकर मौके का मुआयना भी किया है। हालांकि प्रशासन की ओर से इसकी पुष्टि नहीं की जा रही है।