Monday, September 26, 2022

जलती आग के बीच फसा युवक ….. आग की लपटों के चलते नहीं निकल सका बाहर….. आग बुझते तक चले गई थी जान।

भिलाई। दुर्ग जिले में एक घर में आग लगने एक युवक जिंदा जल गया। उसकी चीख पुकार सुनकर मोहल्ले के लोगों ने आग बुझाने का प्रयास किया, लेकिन जब तक आग बुझती, उसके पहले ही जलने से उसकी मौत हो गई। बाद में दमकल वाहन के पहुंचने पर आग को बुझाया गया और शव को बाहर निकाला गया

भिलाई तीन थाने के टीआई विनय सिंह बघेल ने बताया कि आग लगने की घटना चरोदा बस्ती में हुई है। यहां कमल नारायण चौक के पास एक झोपड़ीनुमा घर है। उस घर में सोनू निषाद (42) अपनी छोटी बहन सोनिया निषाद (37) के साथ रहता था। सोनू मजदूरी करता था और उसकी बहन की मानसिक स्थिति ठीक नहीं होने से वह मोहल्ले में इधर उधर घूमती रहती है। शुक्रवार रात रोज की तरह सोनू काम से लौटा। घर में खाना बनाया खाया और शराब के नशे में सो गया। देर रात अचानक घर के सामने के कमरे में आग लग गई। सोनू की नींद खुली तो उसने अपने आपको आग से घिरा पाया। चारों तरफ आग लगने से वह घर के बाहर नहीं निकल पाया। इससे जान बचाने के लिए वह अंदर की तरफ बने दूसरे कमरे में घुस गया।

देखते ही देखते आग ने उस कमरे को भी अपनी चपेट में ले लिया। आग से जलने के चलते सोनू मदद के लिए चिल्लाता रहा। उसकी चीख पुकार सुनकर पड़ोसियों ने आग को बुझाने की कोशिश की, लेकिन आग नहीं बुझी। लोगों ने फायर ब्रिगेड को फोन किया। जब तक फायर ब्रिगेड पहुंचती और आग को बुझाती सोनी की आग में जलकर मौत हो गई। आग बुझने के बाद सोनू के शव को बाहर निकाला गया।

चूल्हे से आग लगने की कही जा रही बात

बताया जा रहा है कि आग चूल्हा जलाने से लगी है। सामने जिस कमरे में सोनू सोया हुआ था, वहीं पर चूल्हा भी था। पुलिस का कहना है कि सोनू ने चूल्हे में खाना बनाया होगा और आग को ठीक से बुझाया नहीं होगा। इससे आग भड़क गई और झोपड़ी में लग गई।

टाउनशिप में आग से जान जाते-जाते बची

शुक्रवार देर रात भिलाई टाउनशिप के सेक्टर 8 स्थित एक घर में आग लगी। आग लगने से पूरे घर में धुआं भर गया। इससे वहां सोए एक युवक और एक किशोर की जान जाते-जाते बची। जानकारी के मुताबिक सेक्टर-8 निवासी अनीता के घर में शुक्रवार देर रात आग लगी। अनीता अपने दोनों बेटों निखिल (21 साल) और अक्षत (12) के साथ घर पर सोई हुई थी। आग लगने से पूरे घर में धुआं भर गया। रात करीब तीन बजे जब अनीता की नींद खुली तो घर में आग लगी थी। उसने तुरंत अपने दोनों बेटों को जगाया, लेकिन वह बेहोश हो चुके थे। इस पर अनीता शोर मचाया। शोर सुनकर पड़ोसी दौड़े। उन्होंने सभी लोगों को घर से बाहर निकाला और निखिल और अक्षत को सेक्टर-9 अस्पताल पहुंचाया। इसके बाद दमकल की टीम ने आग पर काबू पाया। आग से घऱ में रखे कंप्यूटर और आलमारी व अन्य सामान जल गया। दोनों बच्चों की हालत ठीक बताई जा रही है।

GiONews Team
Editor In Chief

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

भिलाई। दुर्ग जिले में एक घर में आग लगने एक युवक जिंदा जल गया। उसकी चीख पुकार सुनकर मोहल्ले के लोगों ने आग बुझाने का प्रयास किया, लेकिन जब तक आग बुझती, उसके पहले ही जलने से उसकी मौत हो गई। बाद में दमकल वाहन के पहुंचने पर आग को बुझाया गया और शव को बाहर निकाला गया

भिलाई तीन थाने के टीआई विनय सिंह बघेल ने बताया कि आग लगने की घटना चरोदा बस्ती में हुई है। यहां कमल नारायण चौक के पास एक झोपड़ीनुमा घर है। उस घर में सोनू निषाद (42) अपनी छोटी बहन सोनिया निषाद (37) के साथ रहता था। सोनू मजदूरी करता था और उसकी बहन की मानसिक स्थिति ठीक नहीं होने से वह मोहल्ले में इधर उधर घूमती रहती है। शुक्रवार रात रोज की तरह सोनू काम से लौटा। घर में खाना बनाया खाया और शराब के नशे में सो गया। देर रात अचानक घर के सामने के कमरे में आग लग गई। सोनू की नींद खुली तो उसने अपने आपको आग से घिरा पाया। चारों तरफ आग लगने से वह घर के बाहर नहीं निकल पाया। इससे जान बचाने के लिए वह अंदर की तरफ बने दूसरे कमरे में घुस गया।

देखते ही देखते आग ने उस कमरे को भी अपनी चपेट में ले लिया। आग से जलने के चलते सोनू मदद के लिए चिल्लाता रहा। उसकी चीख पुकार सुनकर पड़ोसियों ने आग को बुझाने की कोशिश की, लेकिन आग नहीं बुझी। लोगों ने फायर ब्रिगेड को फोन किया। जब तक फायर ब्रिगेड पहुंचती और आग को बुझाती सोनी की आग में जलकर मौत हो गई। आग बुझने के बाद सोनू के शव को बाहर निकाला गया।

चूल्हे से आग लगने की कही जा रही बात

बताया जा रहा है कि आग चूल्हा जलाने से लगी है। सामने जिस कमरे में सोनू सोया हुआ था, वहीं पर चूल्हा भी था। पुलिस का कहना है कि सोनू ने चूल्हे में खाना बनाया होगा और आग को ठीक से बुझाया नहीं होगा। इससे आग भड़क गई और झोपड़ी में लग गई।

टाउनशिप में आग से जान जाते-जाते बची

शुक्रवार देर रात भिलाई टाउनशिप के सेक्टर 8 स्थित एक घर में आग लगी। आग लगने से पूरे घर में धुआं भर गया। इससे वहां सोए एक युवक और एक किशोर की जान जाते-जाते बची। जानकारी के मुताबिक सेक्टर-8 निवासी अनीता के घर में शुक्रवार देर रात आग लगी। अनीता अपने दोनों बेटों निखिल (21 साल) और अक्षत (12) के साथ घर पर सोई हुई थी। आग लगने से पूरे घर में धुआं भर गया। रात करीब तीन बजे जब अनीता की नींद खुली तो घर में आग लगी थी। उसने तुरंत अपने दोनों बेटों को जगाया, लेकिन वह बेहोश हो चुके थे। इस पर अनीता शोर मचाया। शोर सुनकर पड़ोसी दौड़े। उन्होंने सभी लोगों को घर से बाहर निकाला और निखिल और अक्षत को सेक्टर-9 अस्पताल पहुंचाया। इसके बाद दमकल की टीम ने आग पर काबू पाया। आग से घऱ में रखे कंप्यूटर और आलमारी व अन्य सामान जल गया। दोनों बच्चों की हालत ठीक बताई जा रही है।