Thursday, October 6, 2022

तीसरी लहर हुई कमजोर … अनलॉक होते ही बढ़ी भीड़…. रोक नहीं इसलिए सार्वजनिक कार्यक्रमों में बढ़ी रौनक…..

रायपुर । तीसरी लहर के कमजोर पड़ने के साथ ही राजधानी समेत राज्यभर के लगभग सभी शहर और जिले कोविड नियमों के मामले में पूरी तरह अनलाॅक हो गए, यानी हर सेवा-सुविधा और सार्वजनिक कार्यक्रमों में कोई रोक-टोक नहीं बची है। बाजार, सिनेमा, शॉपिंग मॉल, ऑडिटोरियम, स्विमिंग पूल, लाइब्रेरी, मल्टीप्लेक्स समेत सभी तरह के संस्थानों या कार्यक्रमों में कोई बड़ी पाबंदी नहीं है। एयरपोर्ट में आरटीपीसीआर जांच रिपोर्ट की अनिवार्यता खत्म कर दी गई।

नाइट कर्फ्यू पूरे प्रदेश से हटा लिया गया है, यानी रात 10 बजे के बाद आवाजाही पर रोक हट गई है। शहरी होटल-रेस्टोरेंट को रात 12 बजे तक खुले रहने की इजाजत मिल गई है, हाईवे के ढाबों को रात 2 बजे के बाद तक। किसी जिले ये राज्य में जाने के लिए ई-पास की जरूरत नहीं रही है। राज्य सरकार ने पिछले 15 दिन में जारी अलग-अलग निर्देशों के निर्देशों में कोविड से जुड़ी पाबंदियां एक-एक कर हटाई हैं। अब शादियों, सार्वजनिक कार्यक्रमों में हॉल की क्षमता का 50 फीसदी लोग एक साथ रह सकते हैं। कुछ जिलों में यह संख्या दो-तिहाई तक भी है।

पाबंदियां खत्म होते ही हर जगह भीड़ बढ़ने लगी….


राजधानी समेत राज्यभर में लगभग सभी तरह की पाबंदियां खत्म होने की वजह से बाजारों, शादियों या सार्वजनिक कार्यक्रमों में लोगों की भीड़ बढ़ रही है। सिटी बस, प्राइवेट बस, रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट में यात्रियों की संख्या पहले की तरह ही सामान्य हो गई है। फ्लाइट और ट्रेनों के कैंसिल होने का सिलसिला भी खत्म हो गया है। लोगों ने पहले की तरह ही सफर करना शुरू कर दिया है। तीसरी लहर कमजोर होने की वजह से कारोबार में भी कोई असर नहीं हुआ है। बाजार उछाल पर है और लगभग सभी सेक्टरों में अच्छी खासी खरीदी-बिक्री हो रही है।

GiONews Team
Editor In Chief

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

रायपुर । तीसरी लहर के कमजोर पड़ने के साथ ही राजधानी समेत राज्यभर के लगभग सभी शहर और जिले कोविड नियमों के मामले में पूरी तरह अनलाॅक हो गए, यानी हर सेवा-सुविधा और सार्वजनिक कार्यक्रमों में कोई रोक-टोक नहीं बची है। बाजार, सिनेमा, शॉपिंग मॉल, ऑडिटोरियम, स्विमिंग पूल, लाइब्रेरी, मल्टीप्लेक्स समेत सभी तरह के संस्थानों या कार्यक्रमों में कोई बड़ी पाबंदी नहीं है। एयरपोर्ट में आरटीपीसीआर जांच रिपोर्ट की अनिवार्यता खत्म कर दी गई।

नाइट कर्फ्यू पूरे प्रदेश से हटा लिया गया है, यानी रात 10 बजे के बाद आवाजाही पर रोक हट गई है। शहरी होटल-रेस्टोरेंट को रात 12 बजे तक खुले रहने की इजाजत मिल गई है, हाईवे के ढाबों को रात 2 बजे के बाद तक। किसी जिले ये राज्य में जाने के लिए ई-पास की जरूरत नहीं रही है। राज्य सरकार ने पिछले 15 दिन में जारी अलग-अलग निर्देशों के निर्देशों में कोविड से जुड़ी पाबंदियां एक-एक कर हटाई हैं। अब शादियों, सार्वजनिक कार्यक्रमों में हॉल की क्षमता का 50 फीसदी लोग एक साथ रह सकते हैं। कुछ जिलों में यह संख्या दो-तिहाई तक भी है।

पाबंदियां खत्म होते ही हर जगह भीड़ बढ़ने लगी….


राजधानी समेत राज्यभर में लगभग सभी तरह की पाबंदियां खत्म होने की वजह से बाजारों, शादियों या सार्वजनिक कार्यक्रमों में लोगों की भीड़ बढ़ रही है। सिटी बस, प्राइवेट बस, रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट में यात्रियों की संख्या पहले की तरह ही सामान्य हो गई है। फ्लाइट और ट्रेनों के कैंसिल होने का सिलसिला भी खत्म हो गया है। लोगों ने पहले की तरह ही सफर करना शुरू कर दिया है। तीसरी लहर कमजोर होने की वजह से कारोबार में भी कोई असर नहीं हुआ है। बाजार उछाल पर है और लगभग सभी सेक्टरों में अच्छी खासी खरीदी-बिक्री हो रही है।