Tuesday, September 27, 2022

ViDEO: पुलिस वालों ने ग्रामीण के घर रखी शराब.. फिर बनाने लगे केस.. वीडियो वायरल हुआ, तो एसएसपी ने की कार्रवाई..

बिलासपुर– ग्रामीण के घर शराब रख उसे झूठे केस में फंसाने का प्रयास करने वाले पुलिसकर्मियों का वीडियो वायरल होने व शिकायत के बाद SSP पारुल माथुर ने पचपेड़ी थाने के चार कांस्टेबल को लाइन अटैच कर दिया है। बीते एक सप्ताह से सोशल मीडिया में पुलिसकर्मियों का ये वीडियो वायरल हो रहा है।

देखिए वायरल वीडियो

दरअसल, वायरल वीडियो में पचपेड़ी पुलिस के जवान क्षेत्र के एक ग्रामीण के घर में दिख रहे हैं। घर का कोई सदस्य मोबाइल से वीडियो बना रहा है और महिलाएं पुलिस पर अपनी गाड़ी से शराब लाकर रखने की कोशिश करने का आरोप लगा रही हैं। महिलाएं बता रही है कि, उनके घर से केवल दो बोतल शराब मिली है और उन्हें अधिक मात्रा में शराब रखने के केस में फंसाने के लिए पुलिस अपनी गाड़ी से शराब लाकर रख रही है। SSP के संज्ञान में मामला आने के बाद उन्होंने पचपेड़ी थाना के कांस्टेबल भानू प्रताप डहरिया, चंद्रप्रकाश भारद्वाज, शिव धन बंजारे व सद्दाम पाटले को लाइन अटैच कर दिया है। इसके साथ ही SSP ने एएसपी ग्रामीण को मामले का विभागीय जांच कर एक सप्ताह के भीतर जांच प्रतिवेदन पेश करने भी कहा है।

GiONews Team
Editor In Chief

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

बिलासपुर– ग्रामीण के घर शराब रख उसे झूठे केस में फंसाने का प्रयास करने वाले पुलिसकर्मियों का वीडियो वायरल होने व शिकायत के बाद SSP पारुल माथुर ने पचपेड़ी थाने के चार कांस्टेबल को लाइन अटैच कर दिया है। बीते एक सप्ताह से सोशल मीडिया में पुलिसकर्मियों का ये वीडियो वायरल हो रहा है।

देखिए वायरल वीडियो

दरअसल, वायरल वीडियो में पचपेड़ी पुलिस के जवान क्षेत्र के एक ग्रामीण के घर में दिख रहे हैं। घर का कोई सदस्य मोबाइल से वीडियो बना रहा है और महिलाएं पुलिस पर अपनी गाड़ी से शराब लाकर रखने की कोशिश करने का आरोप लगा रही हैं। महिलाएं बता रही है कि, उनके घर से केवल दो बोतल शराब मिली है और उन्हें अधिक मात्रा में शराब रखने के केस में फंसाने के लिए पुलिस अपनी गाड़ी से शराब लाकर रख रही है। SSP के संज्ञान में मामला आने के बाद उन्होंने पचपेड़ी थाना के कांस्टेबल भानू प्रताप डहरिया, चंद्रप्रकाश भारद्वाज, शिव धन बंजारे व सद्दाम पाटले को लाइन अटैच कर दिया है। इसके साथ ही SSP ने एएसपी ग्रामीण को मामले का विभागीय जांच कर एक सप्ताह के भीतर जांच प्रतिवेदन पेश करने भी कहा है।