Thursday, October 6, 2022

देखिए ViDEO: मारपीट के मामले में जमानत के लिए प्रधान आरक्षक ने लिए रु.. वीडियो वायरल हुआ तो एससपी ने किया निलंबित..

बिलासपुर– चकरभाठा थाने में पदस्थ प्रधान आरक्षक के द्वारा मारपीट के मामले में रिश्वत की मांग करने का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हुआ.. बोड़सरा में गाली गलौच और मारपीट के निपटारे के लिए प्रधान आरक्षक ने 15 हजार रुपए लेकर आरोपियों को छोड़ देने की बात कहते हुए वीडियो में दिखाई दे रहा है.. पीड़ित युवकों ने रुपए देने वाले ने लेनदेन को अपने मोबाइल फोन में रिकॉर्ड कर लिया था.. एसएसपी पारुल माथुर ने वायरल वीडियो के आधार पर जांच के बाद प्रधान आरक्षक हरविंदर खूंटे को सस्पेंड कर दिया है.. और मामले की जांच की जिम्मेदारी सीएसपी मंजुलता बाज को सौंपी है।

देखिए वायरल वीडियो

बता दें, कि पिछले दिनों चकरभाठा क्षेत्र के बोड़सरा में मेला आयोजित किया गया था। इस दौरान दो पक्ष में मारपीट हो गई। इस मामले में तीन लोगों के खिलाफ जुर्म दर्ज किया गया। जिसकी जांच प्रधान आरक्षक हरविंदर खूंटे कर रहा था। जांच के दौरान प्रधान आरक्षक तीनों आरोपियों को पकड़कर थाने ले आए, और उन पर कार्रवाई करने के बजाय प्रधान आरक्षक ने जमानत के लिए स्र्पये की मांग की। उन्होंने पैसे न होने की बात कही, तो प्रधान आरक्षक ने उन्हें दूसरे दिन स्र्पये लेकर आने कहा। दूसरे दिन युवकों ने प्रधान आरक्षक को दस हजार स्र्पये दिए.. और प्रधान आरक्षक का स्र्पये लेते हुए वीडियो बना लिया.. फिर  वीडियो को सोशल मीडिया में वायरल कर दिया.. हेड कॉन्स्टेबल वीडियो में बकायदा रुपयों के बंटवारे का हिसाब दे रहा है, 8 हजार रुपए टीआई, 2 हजार रुपए विवेचक और एक हजार रुपए मददगार सिपाही को देने की बात कह रहा है.. वीडियो सामने आने के बाद एसपी पास्र्ल माथुर ने प्रधान आरक्षक को निलंबित कर मामले की जांच की जिम्मेदारी सीएसपी मंजूलता बाज को दी है।

GiONews Team
Editor In Chief

Stay Connected

4,364FansLike
5,464FollowersFollow
3,245SubscribersSubscribe

Latest Articles

बिलासपुर– चकरभाठा थाने में पदस्थ प्रधान आरक्षक के द्वारा मारपीट के मामले में रिश्वत की मांग करने का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हुआ.. बोड़सरा में गाली गलौच और मारपीट के निपटारे के लिए प्रधान आरक्षक ने 15 हजार रुपए लेकर आरोपियों को छोड़ देने की बात कहते हुए वीडियो में दिखाई दे रहा है.. पीड़ित युवकों ने रुपए देने वाले ने लेनदेन को अपने मोबाइल फोन में रिकॉर्ड कर लिया था.. एसएसपी पारुल माथुर ने वायरल वीडियो के आधार पर जांच के बाद प्रधान आरक्षक हरविंदर खूंटे को सस्पेंड कर दिया है.. और मामले की जांच की जिम्मेदारी सीएसपी मंजुलता बाज को सौंपी है।

देखिए वायरल वीडियो

बता दें, कि पिछले दिनों चकरभाठा क्षेत्र के बोड़सरा में मेला आयोजित किया गया था। इस दौरान दो पक्ष में मारपीट हो गई। इस मामले में तीन लोगों के खिलाफ जुर्म दर्ज किया गया। जिसकी जांच प्रधान आरक्षक हरविंदर खूंटे कर रहा था। जांच के दौरान प्रधान आरक्षक तीनों आरोपियों को पकड़कर थाने ले आए, और उन पर कार्रवाई करने के बजाय प्रधान आरक्षक ने जमानत के लिए स्र्पये की मांग की। उन्होंने पैसे न होने की बात कही, तो प्रधान आरक्षक ने उन्हें दूसरे दिन स्र्पये लेकर आने कहा। दूसरे दिन युवकों ने प्रधान आरक्षक को दस हजार स्र्पये दिए.. और प्रधान आरक्षक का स्र्पये लेते हुए वीडियो बना लिया.. फिर  वीडियो को सोशल मीडिया में वायरल कर दिया.. हेड कॉन्स्टेबल वीडियो में बकायदा रुपयों के बंटवारे का हिसाब दे रहा है, 8 हजार रुपए टीआई, 2 हजार रुपए विवेचक और एक हजार रुपए मददगार सिपाही को देने की बात कह रहा है.. वीडियो सामने आने के बाद एसपी पास्र्ल माथुर ने प्रधान आरक्षक को निलंबित कर मामले की जांच की जिम्मेदारी सीएसपी मंजूलता बाज को दी है।