रायपुर– छत्तीसगढ़ में एक सप्ताह में कांग्रेस के तीसरे मुख्यमंत्री का चेहरा सामने आया है। इस बार बाकायदा होर्डिंग भी लगा दिए गए। इसमें मुख्यमंत्री आदिम जाति विकास, स्कूल शिक्षा और सहकारिता विभाग के मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम को बताया गया है। यह होर्डिंग सहकारिता विभाग की ओर से राजधानी में लगा हुआ था। इस पर सवाल उठे तो आनन-फानन में गलती सुधारी गई। पोस्टर में उनके नाम के साथ मंत्री लिखा गया। इससे पहले कोरोना वैक्सीनेशन के प्रमाण पत्र पर स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव को मुख्यमंत्री बताया गया था।

अंतरराष्ट्रीय सहकारिता दिवस के दिन बैंक में आयोजित एक संगोष्ठी के लिए लगे होर्डिंग में सात नेताओं की तस्वीर है। पहली तस्वीर सीएम भूपेश बघेल की है। इस तस्वीर के नीचे नाम और मुख्यमंत्री छग शासन लिखा है। उसी के ठीक पास दूसरी तस्वीर में डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम की तस्वीर है। उसके नीचे नाम के साथ लिखा है मुख्यमंत्री छग शासन। तीसरी लेकिन थोड़ी छोटी तस्वीर छत्तीसगढ़ राज्य सहकारी बैंक, रायपुर के अध्यक्ष बैजनाथ चंद्राकर की है।

शनिवार को उस मार्ग से गुजरने वाले और संगोष्ठी में पहुंचे लोगों ने यह पोस्टर और दो-दो मुख्यमंत्री का नाम एक साथ देखा तो पूछताछ शुरू हुई। बैंक प्रबंधन को गलती का एहसास हुआ तो आनन-फानन में होर्डिंग पर डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम के नाम के नीचे एक चिप्पी लगाकर सहकारिता मंत्री छत्तीसगढ़ शासन लिख दिया।

मंत्री ने कहा- गलती से लिख दिया होगा
इस बारे में प्रेमसाय सिंह टेकाम ने कहा कि “मैं ऐसे बवाल में नहीं पड़ता। इस आयोजन में मुख्यमंत्री जी को आना था। समीक्षा बैठक की वजह से उनका आना टल गया। मेरे लिए वे लोग मुख्य अतिथि लिख रहे होंगे और मुख्यमंत्री लिखा गया होगा। यह गलती है, सुधार लिया गया तो ठीक ही हुआ।’

By GiONews Team

Editor In Chief