बिलासपुर – मोपका-सेंदरी बाइपास रोड में निर्माणाधीन FCI गोदाम में चौकीदार की जली हुई लाश मिलने से सनसनी फैल गई। बताया जा रहा है कि वह रात में ड्यूटी कर रहा था। सुबह जब मजदूर काम करने पहुंचे, तब उसकी अधजली लाश पड़ी थी। जिस तरीके से युवक जला है, उससे पुलिस भी जांच में उलझ गई है। घटना सरकंडा थाना क्षेत्र की है।

चौकीदार सूरज राज (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar

जानकारी के अनुसार मोपका-सेंदरी बाइपास रोड में बिरला ओपन माइंड स्कूल के बाजू में FCI का गोदाम बन रहा है। यह काम ठेके में चल रहा है। देवरीखुर्द निवासी सूरज राज पिता अमर राज 22 साल यहां रात में चौकीदारी करता था। उसके साथ बसंत वर्मा भी चौकीदार था। दोनों रात में ड्यूटी पर थे। सुबह करीब 6 बजे बसंत उसे बताकर अपने घर चला गया। उस समय सूरज वहां आग ताप रहा था। इसके बाद सुबह करीब 9 बजे मजदूर जब काम करने पहुंचे, तब गोदाम के पास जली हुई लाश पड़ी थी। उन्होंने अपने सुपरवाइजर को इस घटना की जानकारी दी।

जली हुई लाश व आसपास जांच करती पुलिस

साथ ही पुलिस को भी सूचना दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने आसपास के लोगों से पूछताछ कर उसकी पहचान सूरज के रूप में की। पुलिस ने ठेकेदार सहित वहां काम करने वालों को बुलाकर पूछताछ की। तब पता चला कि घटना सुबह 6 से 7.30 के बीच हुई होगी। पुलिस इस मामले में मर्ग कायम कर जांच कर रही है। सरकंडा TI परिवेश तिवारी ने जांच के लिए फोरेंसिक एक्सपर्ट को भी बुलाया। फोरेंसिक टीम ने घटनास्थल की जांच की। हालॉकि, अभी टीम ने अपनी राय नहीं दी है। पुलिस का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही स्थिति स्पष्ट होगी।

घटनास्थल की जांच करते फोरेंसिक एक्सपर्ट के साथ थानेदार

प्रारंभिक जांच के बाद पुलिस को शक है कि युवक सुबह 6 बजे आग ताप रहा था। इस दौरान उसके कपड़ों में आग लगी होगी और झपकी आने पर उसे भनक नहीं लगी होगी। आग की लपटें तेज होने व कपड़ों तक पहुंचने के बाद अचानक उसकी नींद खुली होगी। तब वह इधर-उधर भागने का प्रयास किया और घटनास्थल से 100 मीटर दूर जाकर गिर गया होगा। लेकिन, इस घटना को लेकर कई ऐसे सवाल उठ रहे हैं। जिसका जवाब पुलिस ढूंढ रही है। साथ ही उसके परिजन व साथ काम करने वाले चौकीदार से पूछताछ कर जानकारी जुटा रही है।

By GiONews Team

Editor In Chief