बिलासपुर – आरक्षक पर शादी का झांसा देकर दुष्कर्म के आरोप मामले में नया मोड़ आ गया है। आरक्षक ने अब आरोप लगाने वाली महिला से शादी कराने की इच्छा जताई है। इसके लेकर आरक्षक ने सिविल लाइन थाना प्रभारी शनिप रात्रे को आवेदन भी पेश किया है। आवेदन में उसने तखतपुर निवासी 35 वर्षीय महिला से शादी करने की बात कही है।

2 दिन पहले बिलासपुर के सिम्स अस्पताल में एक 35 वर्षीय महिला को भर्ती कराया गया था। डॉक्टरों के अनुसार महिला ने फिनाइल पीकर जान देने की कोशिश की थी। लेकिन उसे समय रहते अस्पताल में भर्ती करा दिया गया था। जहां प्राथमिक इलाज के बाद उसे डिस्चार्ज कर दिया गया। महिला ने अस्पताल की महिला डॉक्टर को बताया था कि उसने फिनाइल प्यार में धोखा खाने की वजह से पिया है। महिला ने सिविल लाइन थाने के आरक्षक पर धोखा देने का आरोप लगाया था।

जानकारी के अनुसार आरोप लगाने वाली 35 वर्षीय महिला बिलासपुर के निजी अस्पताल में बतौर स्वास्थ्य कर्मी जॉब करती है। कुछ समय पहले उसकी जान पहचान सिविल लाइन में पदस्थ आरक्षक से हुई थी। दोनों के बीच लगातार बातचीत होने लगी और दोस्ती जल्द प्यार में बदल गई। धीरे धीरे दोनों के बीच शारीरिक संबंध भी बनने लगा। इस बीच आरक्षक ने महिला से शादी का वादा भी कर दिया। लेकिन महिला जब शादी की बात करती तब आरक्षक अपनी बहन की शादी का हवाला देकर बात को टाल देता।

महिला जब भी शादी की बात करती आरक्षक उसे अपनी बहन की शादी के बाद शादी करने की बात कहता। पुलिस कर्मी का कहना था महिला और उसकी जाति अलग है। ऐसे में पहले शादी करने पर उसकी बहन के लिए रिश्ता ढूंढने में दिक्कत हो सकती है।

शनिप रात्रे ने कहा, आरक्षक ने आरोप लगाने वाली महिला से शादी करने को लेकर मुझे थाने में 9 अगस्त को आवेदन प्रस्तुत किया था, और अब दोनों जल्द शादी भी करने वाले है। आगे उन्होंने कहा महिला ने कोई भी लिखित आवेदन आरक्षक के खिलाफ नहीं दिया था इसलिए कोई FIR उसके खिलाफ दर्ज नहीं हुई है।

By GiONews Team

Editor In Chief