डॉक्टर की पिटाई : किडनी निकलने में आरोपी डॉक्टर से मारपीट, शिकायत करता ने जमीन में पटक पटक मारा, बयान दर्ज कराने पहुंचे थे रायपुर..

बिलासपुर – साल 2011 में मरीज की किडनी निकालने के आरोपी बिलासपुर के डॉ. केके साव की बुधवार को रायपुर में पिटाई कर दी गई। वह बयान दर्ज कराने के लिए गए थे। आरोप है कि वहां मामले के शिकायतकर्ता ने हमला कर दिया। उनको जमीन पर उठा कर पटक दिया और मारपीट की। डॉक्टर साव, IPS रामकृष्ण साहू के ससुर हैं और साहू समाज के जिलाध्यक्ष भी हैं। उनकी रिपोर्ट पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ अपराध दर्ज कर लिया है।

डॉ. केके साव। - Dainik Bhaskar

घटना रायपुर के गोलबाजार थाना क्षेत्र के स्वास्थ्य संचालनालय के पास स्थित पुराना नर्सिंग हॉस्टल गेट के सामने की है। बिलासपुर के सीपत चौक में रहने वाले डॉ. केके साव के खिलाफ साल 2011 में ऑपरेशन के दौरान इलाज में लापरवाही बरतने का आरोप लगाते हुए चांटीडीह में रहने वाली कुरैशा बेगम ने शिकायत की थी। छत्तीसगढ़ मेडिकल काउंसिल उनकी शिकायत की जांच कर रहा है।

बुधवार को डॉ. साव को जांच टीम ने बयान दर्ज करने व पूछताछ के लिए बुलाया था। लिहाजा, डॉ. शाम करीब 4.10 बजे पुराना नर्सिंग हॉस्टल रायपुर के सभा कक्ष में बयान देने पहुंचे थे। संचालनालय से बाहर निकलते समय जुनैद गाली देते हुए दौड़कर बाहर आया और डॉ. साव को जमीन में पटक दिया। इस दौरान उनके साथ मारपीट भी की गई। वहां से किसी तरह डॉ. साव भागकर अपनी गाड़ी के पास पहुंचे। फिर गोलबाजार थाने पहुंचकर इस घटना की शिकायत दर्ज कराई।

डॉ. साव ने अपनी शिकायत में बताया है कि उन्होंने साल 2011 में चांटीडीह निवासी कुरैशा बेगम के बेटे जुनैद का ऑपरेशन किया था। उपचार के बाद कुरैशा बेगम ने आरोप लगाया कि उन्होंने उनके बेटे की किडनी निकालकर चोरी कर ली है। इस संबंध में कुरैशा बेगम ने शिकायत की है, जिसकी जांच चल रही है। इसी जांच के सिलसिले में डॉक्टर साव रायपुर गए थे। तब उनके साथ जुनैद ने इस घटना को अंजाम दिया है।

GiONews Team

Editor In Chief