छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल ने 25 जुलाई को 12वीं का परिणाम जारी किया था। इसके मुताबिक 97 प्रतिशत विद्यार्थी पास हुए। - Dainik Bhaskar

रायपुर – छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल 12वीं में फेल हो गए परीक्षार्थियों को एक और मौका उपलब्ध करा रहा है। प्रायोगिक या प्रोजेक्ट वर्क परीक्षाओं में अनुपस्थिति की वजह से फेल हुए विद्यार्थियों के लिए आज से 31 अगस्त तक परीक्षा आयोजित करने का निर्देश दिया गया है। यह परीक्षाएं स्कूलों में ही होंगी। इस बार भी अनुपस्थित रहे तो अगला मौका 2022 की मुख्य परीक्षा में ही मिलेगा।

माध्यमिक शिक्षा मंडल के सचिव प्रोफेसर वीके गोयल ने बताया, 12वीं की मुख्य परीक्षा में कई नियमित और स्वाध्यायी विद्यार्थी प्रायोगिक अथवा प्रोजेक्ट वर्क परीक्षाओं में अनुपस्थित रहने की वजह से अनुत्तीर्ण रह गए हैं। ऐसे विद्यार्थियों की प्रायोगिक-प्रोजेक्ट वर्क परीक्षाओं को उनकी संस्था अथवा केंद्रों पर ही आयोजित करने की अनुमति प्रदान की गई है। बताया जा रहा है, प्रदेश भर में ऐसे 2 हजार से अधिक विद्यार्थी चिन्हित किए गए हैं।

जो लिखित परीक्षा में फेल उनके लिए पूरक परीक्षा
छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल ने यह स्पष्ट किया है कि सैद्धांतिक परीक्षाओं में परीक्षा में अनुत्तीर्ण विद्यार्थियों को इसमें अवसर नहीं दिया जाएगा। मंडल के मुताबिक सैद्धांतिक, प्रायोगिक अथवा प्रोजेक्ट वर्क परीक्षा में फेल विद्यार्थियों को पास होने के लिए 2021 की पूरक परीक्षा देनी होगी।

बोर्ड परीक्षाओं की आवेदन प्रक्रिया शुरू
इस बीच छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल की 10वीं-12वीं मुख्य परीक्षा 2022 की आवेदन प्रक्रिया सोमवार से शुरू कर दी गई। आवेदन के लिए 15 सितम्बर तक की समय-सीमा तय की गई है। उसके बाद आवेदन करने वालों को विलंब शुल्क अदा करना होगा। इस साल भी बोर्ड परीक्षा के आवेदन ऑनलाइन ही भरे जाने हैं। इसमें विद्यार्थी से नाम, जन्मतिथि, पिता का नाम, माता का नाम आदि जानकारी ली जा रही है।

पिछली परीक्षा में 97 प्रतिशत परीक्षार्थी पास हुए थे
छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल ने 25 जुलाई को 12वीं का परिणाम जारी किया था। इसके मुताबिक 97 प्रतिशत विद्यार्थी पास हुए। परीक्षा के लिए 2 लाख 89 हजार विद्यार्थियों ने पंजीयन कराया था। इसमें से 2 लाख 76 हजार 817 लोग पास हुए। 12वीं के 5 हजार 255 बच्चे फेल हो गए। परीक्षा में 95 प्रतिशत बच्चों ने फर्स्ट डिवीजन, 1 प्रतिशत ने सेकेंड और 0.3 ने थर्ड डिवीजन से परीक्षा पास की।

By GiONews Team

Editor In Chief