भिलाई – फर्जी राशन कार्ड मामले में दुर्ग पुलिस ने खुलासा कर दिया है.इस मामले में पुलिस ने पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है. मास्टरमाइंड समेत दो आरोपी अब भी फरार है. वहीं एक आरोपी महिला है. इसमें एक पुलिस कर्मी का बेटा है. पुलिस कर्मी एसआई है. जो दुर्ग जिले के एक थाने में पोस्टेड हैं. राशन दुकान संचालक, चावल तस्कर और निगम कर्मी है. 

पुलिस ने बताया कि फर्जी राशन कार्ड बनाने के लिए आरोपियों ने जो आधार कार्ड यूज किए हैं वो पावर हाउस भिलाई से लेकर अंबिकापुर, यूपी, और बलिया बिहार के लोगों के हैं. वहां के लोगों के आधार को यूज करते हुए फर्जी कार्ड बनाए गए.

जानकारी के मुताबिक, आरोपी शुभम साव उर्फ कारू चावल तस्कर है. राशन दुकान से चावल उठाकर मिलों में बेचता है. इसने भी चावल खरीदा. बताया जा रहा है कि कारू ने चावल एक अन्य को बेचा है. जिसका खुलासा पुलिस ने अभी नहीं किया है. वहीं विवेक चौधरी राशन दुकान संचालक है. तीसरा आरोपी आकाश सिंह यादव है. आकाश के पिता पुलिस डिपार्टमेंट में सब इंस्पेक्टर हैं. जो दुर्ग जिले में पोस्टेड हैं. वहीं चौथा आरोपी विकास निर्मलकर है जो नगर निगम भिलाई में डाटा एंट्री ऑपरेटर रहा. एक अन्य आरोपी ममता गड़पल्लीवार है. इसे आज पेश नहीं किया गया.

By GiONews Team

Editor In Chief