दुर्ग – सोना चोरी करने वाले शातिर अंतर्राज्यीय गिरोह का पुलिस ने पर्दाफाश किया है. पश्चिम बंगाल गिरोह के 5 आरोपी गिरफ्त में आए हैं. आरोपी मुम्बई, राजस्थान, बैंगलोर एवं दुर्ग-राजनांदगांव सहित छत्तीसगढ़ में करीब 3 किलो सोने की चोरी कर चुके हैं. आरोपियों से करीब 500 ग्राम (आधा किलो) सोना, फर्जी आई-डी, करीबन 25 बैक खाता जब्त किये गए है.

दुर्ग की घटना को अंजाम देने वाला मुख्य आरोपी अजहर उर्फ बाघ बच्चा गिरफ्तार हुआ है. आरोपी मुम्बई के अंधेरी इलाके में घटना करने के लिए रेकी कर चुके थे. घटना से पहले पुलिस ने उसे धर दबोचा.

अंतर्राज्यीय गिरोह का का मास्टर माइंड शुकुर अली कान्ट्रेक्ट कर अन्य सदस्यों को भेजकर चोरी कराता था. इससे पहले वह अपने दोस्त से गिरोह के सदस्यों के लिए फर्जी आईडी बनवाता था. पिछले 5 साल से शुकुर अली अपने गिरोह के साथ देश के अलग-अलग राज्यो में चोरी की घटना को दिया है. आरोपी शुकुर अली से दुर्ग घटना स्थल का नक्शा बरामद किया गया. आरोपी बैंगलोर, राजस्थान और मुम्बई में गिरफ्तार हो चुके हैं.

यह है पूरा मामला
ब्राम्हण पारा निवास संदीप सन्यासी मंडल पिता सन्यासी मंडल (39) ने थाना दुर्ग में रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि रामकृष्ण सामंत ज्वेलर्स में सोने की ज्वेलरी बनाने का काम कारीगरों द्वारा किया जाता है. 25 जून 2021 को पश्चिम बंगाल से अजहर शेख नाम का व्यक्ति कारीगर के रूप में काम करने आया. 30 जून को ज्वेलर्स में कार्यरत अन्य कारीगरों के लॉकर को तोड़कर 800 ग्राम सोना चोरी कर ले गया. इस रिपोर्ट पर अपराध पंजीबद्ध किया गया था.

गिरफ्तार आरोपी

शेख अकरम कासेम पिता अब्दुल कासेम (30) निवासी ग्राम उदना जिला हुगली (पश्चिम बंगाल).

शुकुर अली शेख पिता रहमत अली (37) निवासी ग्राम रुस्तमपुर थाना कालना जिला वर्धमान.

जिन्नोट शेख उर्फ अजहर शेख (26) निवासी कुसुमग्राम  जिला बर्धमान.

साहिल पोरे ऊर्फ रिजु (24) निवासी ग्राम कटान, पश्चिम मेदनीपुर

समत खान ऊर्फ अभिजीत मंडल (23) निवासी ग्राम-इस्ना बजरु थाना, जिला वर्धमान.

जब्त सोना
1. करीब 411 ग्राम सोने की सिल्ली.

2. सोने के आभूषण करीबन 50 ग्राम.

3. 15 नग मोबाईल.

4. करीब 18 फर्जी आधार कार्ड, वोटर आईडी कार्ड.

5. अलग-अलग बैकों के एटीएम कार्ड एवं पासबुक कुल मशरूका – 25 लाख रुपए.

By GiONews Team

Editor In Chief