बिलासपुर– शहर के कई इलाकों में दीपावली में मां काली की विधि विधान से स्थापना की गई है। करबला में भी मां काली उत्सव की इन दिनों धूम है। जहां भक्तिमय कार्यक्रम देखने देर रात तक श्राद्धालुओ की भीड़ जमी रहती है।

दीपावली रात मां काली की मूर्ति स्थापित कर पूजा अर्चना की जा रही है। राक्षसों का वध करने के बाद भी जब महाकाली का क्रोध कम नहीं हुआ। दुष्‍टों और पापियों का संहार करने के लिए माता दुर्गा ने ही काली के रूप में अवतार लिया था। माना जाता है कि श्रद्धापूर्वक मां काली के पूजन से जीवन के सभी दुखों और शत्रुओं का नाश हो जाता है। इसलिए करबला में 11 साल से काली पूजा की जा रही है, जिसमें मोहल्ले के लोग बढ़ चढ़कर हिस्सा लेते हैं। दिवाली से 7 दिनों तक यहां हर दिन अलग अलग कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं, जिससे माहौल भक्तिमय हो जाता है।

By GiONews Team

Editor In Chief