सुकमा जिले में कलेक्टर रहे एलेक्स पॉल मेनन के अपहरण में शामिल एक नक्सली को सुराक्षाबलों ने गिरफ्तार किया है। - Dainik Bhaskar
सुकमा जिले में कलेक्टर रहे एलेक्स पॉल मेनन के अपहरण में शामिल एक नक्सली को सुराक्षाबलों ने गिरफ्तार किया है।

छत्तीसगढ़ की सुकमा पुलिस को शनिवार को एक बड़ी सफलता मिली है। सुकमा जिले में कलेक्टर रहे एलेक्स पॉल मेनन के अपहरण में शामिल एक नक्सली को सुरक्षाबलों ने गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार नक्सली रवा गंगा वर्तमान में नक्सलियों के दंडकारण्य आदिवासी किसान मजदूर संघ (DAKMS) का अध्यक्ष है। एक लाख का इनामी रवा गंगा मतदान दल पर हमला करने समेत कई बड़ी घटनाओं में शामिल रहा है। बड़ेसट्टी गांव में ग्रामीणों की मीटिंग लेकर लौट रहे जवानों ने रवा गंगा को पकड़ा है। SP सुनील शर्मा ने बताया कि गिरफ्तार नक्सली से कई बड़े खुलासे हो सकते हैं। फिलहाल इससे पूछताछ जारी है।

एलेक्स पॉल मेनन 2006 बैच के IAS अधिकारी हैं।
एलेक्स पॉल मेनन 2006 बैच के IAS अधिकारी हैं।

सुकमा जिला पुलिस बल और DRG के जवान नक्सल प्रभावित बड़ेसट्टी गांव में ग्रामीणों की बैठक लेकर लौट रहे थे। इसी बीच जंगलों में जवान एरिया डोमिनेशन के लिए भी निकले थे। बड़ेसट्टी के जंगल में जवानों को देख एक संदिग्ध व्यक्ति छिप रहा था, जिसे पुलिस जवानों ने घेराबंदी कर पकड़ा है। पूछताछ पर इसने अपना नाम रवा गंगा बताया। जिसकी पहचान इलाके के हार्डकोर इनामी नक्सली के रूप में की गई है।

पुलिस ने रिकॉर्ड खंगाला तो उड़ गए होश
रवा गंगा की गिरफ्तारी के बाद जब जवानों ने इसके रिकॉर्ड को खंगाला तो पता चला कि यह पिछले 10-12 सालों से नक्सल संगठन में जुड़कर काम कर रहा है। रिकॉर्ड के पन्नों को जब अधिकारियों ने पलटाया तो पुलिस के भी होश उड़ गए। उन्हें पता चला कि साल 2012 में सुकमा में कलेक्टर रहे एलेक्स पॉल मेनन का इसने अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर अपहरण किया था। उस समय यह नक्सलियों के पूर्व बड़ेसट्टी LOS सदस्य के पद पर सक्रिय था। इसके अलावा साल 2013 में विधानसभा चुनाव के समय मतदान पार्टी पर IED ब्लास्ट करने की घटना में भी शामिल था।

ग्रामीणों की समस्या सुनने गए थे कलेक्टर
कलेक्टर एलेक्स पॉल मेनन 21 अप्रैल 2012 की शाम छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले के नक्सल प्रभावित इलाके केरलापाल क्षेत्र के माझीपारा गांव में पहुंचे थे। यहां वे ग्रामीणों से उनकी समस्याओं से रूबरू हो ही रहे थे कि इस दौरान भारी संख्या में नक्सली पहुंच गए थे। जिन्होंने कलेक्टर के 2 गार्ड को भी मौत के घाट उतार दिया था और सुकमा कलेक्टर को अगवा कर जंगल में अपने साथ लेकर चले गए थे। ठीक 12 दिन बाद नक्सलियों ने कलेक्टर को छोड़ दिया था। एलेक्स पॉल मेनन 2006 बैच के IAS अधिकारी हैं।

इन घटनाओं में भी था शामिल

  • साल 2020 को बड़ेसट्टी गांव के ग्रामीणों पर पुलिस मुखबिरी का आरोप लगा कर घर से सारा सामान लूटने की घटना में शामिल था।
  • साल 2020 में ही बड़ेसट्टी गांव के दुरमापारा के ग्रामीणों पर पुलिस मुखबिरी का आरोप लगाकर हाथ पैर बांध जंगल में ले जाकर पिटाई कर अधमरा करने की घटना में शामिल था।
  • साल 2020 में ही फुलबगड़ी क्षेत्र में सर्चिंग पर निकले जवानों पर फायरिंग करने की घटना में शामिल था।
  • रवा गंगा की गिरफ्तारी के बाद पुलिस अब इसकी पूरी फाइल खंगाल रही है। रवा अन्य कई बड़ी घटनाओं में भी शामिल रहा है। पुलिस जल्द ही इसका खुलासा करेगी।

By GiONews Team

Editor In Chief