बिलासपुर – सत्ताधारी दल से जुड़े नेताओं की गुंडागर्दी थमने का नाम ही नहीं ले रही है। ताजा घटना सिरगिट्टी क्षेत्र के एक पार्षद के खुलेआम गुंडागर्दी की है,जहां नगर निगम की जमीन पर अवैध तरीके कब्जा कर निर्माण कार्य कराया जा रहा था जिसे रोकने और हटाने पहुंची निगम की टीम से वार्ड क्रमांक 12 के पार्षद सूरज मरकाम ने दुर्व्यवहार करते हुए खुलेआम गाली-गलौच किया। मामला यहीं पर नहीं थमा कांग्रेसी पार्षद ने निगम कर्मियों को धकियाते हुए दोबारा नज़र नहीं आने की भी धमकी दी। पूरे घटनाक्रम के दौरान वहां आमजन भी मौजूद रहें,जो पार्षद के द्वारा किए जा रहे गुण्डागर्दी को देखते रहें। सवाल यह उठता है की पार्षद के द्वारा ही जब अवैध निर्माण को शह दिया जा रहा है तो नियम संगत कार्य कैसे होंगे।

जनप्रतिनिधि से मर्यादित व्यवहार की अपेक्षा

एक अच्छे जनप्रतिनिधि से मर्यादित व्यवहार की अपेक्षा की जाती है पर न्यायधानी में गंगा उल्टी बह रही है,सत्ता के नशे में चूर नेता लोकतांत्रिक परंपरा को तार-तार कर रहें हैं। पहले दुकान कब्जे को लेकर खुलेआम मारपीट,फिर ब्लाक अध्यक्ष के द्वारा ट्रैफिक जवान के साथ हुज्जतबाजी और अब पार्षद के द्वारा निगम के कर्मचारियों के साथ ही गाली-गलौच।

सत्ता का नशा

आए दिन नेताओं द्वारा शासकीय सेवकों के साथ दुर्व्यवहार किया किया जा रहा है, ऐसे में कर्मचारियों का मनोबल टूट रहा है। सत्ताधारी दल से जुड़े होने के कारण बिगड़ैल नेताओं के खिलाफ़ तत्काल कार्रवाई भी नहीं की जाती। सवाल यह उठता है की ऐसे माहौल में फिर कौन कर्मचारी काम करना चाहेगा।

By GiONews Team

Editor In Chief