नई दिल्ली – भारत में कोरोना वायरस कम होने का नाम नहीं ले रही है. एक बार फिर कोरोना के बढ़ते मामले चिंता बढ़ा रही है. पहले कुछ महीनों से नए कोरोना संक्रमित मरीजों में कमी देखी जा रही थी, लेकिन अब पिछले कुछ हफ्तों से मामलों में तेजी बढ़ोत्तरी हुई है. केंद्रीय स्वास्थ्य विभाग ने चिंता जाहिर करते हुए गाइडलाइन का पालन करने की सलाह दी है. यदि कोरोना कंट्रोल नहीं हुआ, तो वो दिन दूर नहीं जब देश में दोबारा लॉकडाउन लगाना पड़ जाए.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि पिछले चार सप्ताह से 7 राज्यों के 22 जिलों से कोरोना के दैनिक मामलों में वृद्धि की खबरें हैं. यह चिंता वाली बात है. केंद्रशासित प्रदेशों और 12 राज्यों में 54 जिले ऐसे हैं, जहां 26 जुलाई तक कोरोना वायरस की संक्रमण दर 10 प्रतिशत से अधिक रही है. वहीं 8 जिलों में कोरोना के मामलों में वृद्धि हुई है, जहां संक्रमण दर में कमी देखने को मिल रही थी. हम इस स्थिति को हल्के में नहीं ले सकते. पिछले कुछ सप्ताहों में कोविड-19 के दैनिक मामलों में कमी आने की दर धीमी हुई है, जो चिंता का विषय है.

22 जिलों में बढ़े कोरोना केस – संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि देश के 62 जिलों में रोजाना 100 से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं. ये मामले इन जिलों के स्थानीय और सीमित क्षेत्रों में पाए जाते हैं. केरल से 7 जिले, मणिपुर से 5, मेघालय में 3, अरुणाचल प्रदेश के 3, महाराष्ट्र के 2, असम और त्रिपुरा का 1-1 जिले में पिछले 4 हफ्तों में मामलों में वृद्धि की प्रवृत्ति दर्ज की गई है. लव अग्रवाल ने कहा कि वैश्विक नजरिए से देखें तो महामारी अभी खत्म नहीं हुई है. दुनिया भर में मामलों की संख्या में वृद्धि हुई है, जो चिंता का विषय बना हुआ है. हमें सख्ती के साथ वायरस के प्रसार को रोकने पर काम करना होगा.

अभी खत्म नहीं हुई दूसरी लहर – नीति आयोग के सदस्य स्वास्थ्य डॉ. वीके पॉल ने कहा कि कोरोना वायरस की दूसरी लहर अभी खत्म नहीं हुई है. कुछ क्षेत्र चिंता का विषय बने हुए हैं. वैक्सीनेशन भी पूरी गारंटी नहीं है. यह संक्रमण कम करेगा. ऐसा कोई भी वैक्सीन नहीं कहती कि 100% संक्रमण नहीं होगा. इससे बीमारी की गंभीरता और मौत को रोका जा सकता है.

आज देश में मिले इतने कोरोना केस – केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के मुताबिक मंगलवार को बीते 24 घंटों के भीतर देश में कोरोना वायरस के 29 हजार 689 नए मामले सामने आए हैं, जबकि 42 हजार 363 मरीज ठीक हुए हैं. इस दौरान 415 लोगों की कोरोना से मौत हुई है. स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार कोरोना वायरस के दैनिक मामलों में 132 दिन बाद इतनी बड़ी गिरावट आई है.

By GiONews Team

Editor In Chief